दिल्ली में कोरोना टीकों पर सियासत: केजरीवाल ने बंद कराए निगमों के टीकाकरण केन्द्र, भाजपा का हंगामा

दिल्ली सरकार ने बंद किए निगम के 45 टीकाकरण केन्द्र, भाजपा ने किया प्रदर्शन

दिल्ली में निगमों के टीकाकरण केंद्रों को बंद करने के खिलाफ भाजपा विधायकों ने प्रदर्शन किया. आरोप है कि केजरीवाल सरकार ने बिना कोई कारण बताए पिछले दो दिनों में निगम के काम कर रहे 137 केंद्रों में 45 टीकाकरण केंद्रों को बंद कर दिया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रदेश भाजपा (BJP ) अध्यक्ष आदेश गुप्ता ( Adesh Gupta) और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी के नेतृत्व में शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास के सामने प्रदर्शन किया गया. यह विरोध प्रदर्शन निगमों के टीकाकरण ( Vaccination ) केंद्रों को बंद करने के खिलाफ भाजपा विधायकों द्वारा किया गया. आरोप है कि केजरीवाल सरकार ने बिना कोई कारण बताए पिछले दो दिनों में निगम के काम कर रहे 137 केंद्रों में 45 टीकाकरण केंद्रों को बंद कर दिया गया है.

इस दौरान आदेश गुप्ता ने कहा कि इस समय प्रदेश में सबसे ज्यादा 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका की दूसरी डोज लगनी है. साथ ही 18 साल से अधिक के युवाओं का भी टीकाकरण शुरू हो गया है, जिसके लिए अधिक से अधिक टीकाकरण केंद्रों की जरूरत है. इस स्थिति में केजरीवाल सरकार द्वारा टीकाकरण केंद्रों खासकर निगमों के केंद्रों को बंद करवाना लोगों के ऊपर प्रतिकूल असर डाल रहा है. लोग टीका के लिए दर-दर भटक रहे हैं. विरोध प्रदर्शन में भाजपा विधायकों में अभय वर्मा, ओम प्रकाश शर्मा, जितेंद्र महाजन, अनिल बाजपेयी, अजय महावर, मोहन सिंह बिष्ट, प्रदेश भाजपा मीडिया प्रमुख नवीन कुमार और प्रदेश प्रवक्ता बृजेश राय उपस्थित थे.

इस मौके पर आदेश गुप्ता ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा भरपूर मात्रा में टीका देने के बाद भी दिल्ली की सरकार नगर निगम के टीकाकरण केंद्रों को बंद कर ओछी राजनीति कर रही है. निगम पूरे कोरोना काल के दौरान बेहतर काम किया है, उसके बावजूद इस तरह का भेदभाव केजरीवाल सरकार की निम्नस्तरीय राजनीति का उदाहरण है. उन्होंने कहा कि निगम द्वारा लगभग 250 जगहों पर टीकाकरण केंद्र खोलने के लिए जगह सुनिश्चित की गई थी. अधिक से अधिक लोगों को टीका लग सके और किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो. लेकिन नए केंद्र खोलने की बात तो दूर जो पुराने और सुचारू रूप से केंद्र सेवा दे रहे थे, उन्हें भी बंद करने का काम शुरू कर दिया गया है. केजरीवाल सरकार ने बिना कोई कारण बताए पिछले दो दिनों में निगम के काम कर रहे 137 केंद्रों में 45 टीकाकरण केंद्रों को बंद कर दिया गया है.



आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सरकार द्वारा निगम द्वारा चलाये जा रहे टीकाकरण केंद्रों को बंद करवाने का कारण संदेहास्पद है. हमेशा की तरह  इस बार भी केजरीवाल अपने किये वादों में फेल हो चुके हैं. केजरीवाल टीकाकरण अभियान शुरू  कर घर-घर में लोगों को टीका लगवाने की बात कर रहे थे, लेकिन अब  इसके ठीक विपरीत टीकाकरण बंद करवाने पर जुटे हुए हैं.