दिल्ली सरकार ने कोरोना मरीजों के बेड बढ़ाने के लिए उठाया ये बड़ा कदम, जानिए डिटेल

दिल्ली में कोविड मरीजों के इलाज के लिए अस्पतालों से होटल और बैंक्वेट हॉल को जोड़ा गया है.

दिल्ली में कोविड मरीजों के इलाज के लिए अस्पतालों से होटल और बैंक्वेट हॉल को जोड़ा गया है.

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों (corona infection) की बढ़ती संख्या को देखते हुए बेड बढ़ाने के लिए कई अस्पतालों के साथ बैंक्वेट हॉल और होटलों को जोड़ा गया है. जिससे कोविड मरीजों को भर्ती करने और इलाज में परेशानी न आए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2021, 1:28 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कई अस्पतालों के साथ बैंक्वेट हॉल और होटलों को जोड़ा है. जिससे बेड की संख्या बढ़ जाएं और कोविड मरीजों को भर्ती होने में परेशानी न आए. मरीजों हल्के लक्षण वाले मरीजों का बैंक्वेट हॉल में और गंभीर मरीजों का अस्पताल में इलाज किया जाएगा. अस्पतालों पर नॉन कोविड मरीजों का ज्यादा भार न पड़े, इसको देखते पहले से तय सर्जरी भी दो से तीन महीने के लिए स्थगित कर दी गई हैं. 23 अस्पतालों को होटल और बैंक्वेट हॉल से जोड़ा गया है.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि राजधानी में संक्रमण को काबू करने के लिए बड़े स्तर पर योजना बनाई जा रही है. इसके तहत बड़े-बड़े अस्पतालों के साथ बैंक्वेट हॉल और होटलों को जोड़ा जा रहा है. मसलन, किसी अस्पताल के अंदर 100 बेड हैं और उसके साथ 100 बेड वाले एक बैंक्वेट हॉल को जोड़ दिया गया है. इससे बेड की संख्या में बढ़ोतरी होगी और मरीजों को कोई परेशानी नहीं होगी. उन्होंने कहा कि अस्पतालों में केवल गंभीर मरीज ही रखे जाएंगे. अगर किसी को केवल ऑक्सीजन की जरूरत होगी तो उसे बैंक्वेट हॉल में रखा जाएगा.

Delhi government, 23 hospitals, couples, hotels, banquet halls, corona patients, beds will increase, corona in delhi
राजस्थान सरकार ने जिन अस्पतालों को होटल और बैंक्वेट हॉल से जोड़ा है, उनकी लिस्ट जारी कर दी है.


आज ही सीएम केजरीवाल ले कहा है कि पत्रकार विपरीत परिस्थितियों से रिपोर्टिंग कर रहे हैं. उन्हें भी फ्रंटलाइन वर्कर्स की तरह प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन लगाने की अनुमति दी जानी चाहिए. इस संदर्भ में हम केंद्र को पत्र लिख रहे हैं.
Youtube Video


ठीक हो रहे मरीजों से बेड खाली करने का अनुरोध

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा है कि अस्पतालों में भर्ती एक-एक मरीजों को देखा जा रहा है. दिल्ली के निजी और सरकारी अस्पतालों में वहां के डॉक्टरों की टीम विश्लेषण कर रही हैं. जिस मरीज में कोरोना के हल्के लक्षण हैं, और उसे बेड की जरूरत नहीं है, तो उससे अनुरोध किया जाएगा कि वह घर जाकर अपना इलाज कराएं या पास के बैंक्वेट हॉल में शिफ्ट हो जाएं. कोरोना के मरीज डॉक्टर की सलाह के मुताबिक उनके साथ सहयोग करें और अस्पताल में बेवजह भर्ती होने की जिद न करें.



सीएम ने की अपील- कोरोना से ठीक हो चुके लोग प्लाज्मा दान करें

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि पिछले तीन-चार महीने में कोरोना कम हो गया था, लोगों ने प्लाज्मा दान करना बंद कर दिया था और प्लाज्मा की मांग भी बहुत कम हो गई थी, लेकिन अब प्रतिदिन प्लाज्मा की बहुत ज्यादा मांग आ रही है. सब लोगों से निवेदन है कि अगर कोरोना से ठीक हो गए हैं, तो एलएनजेपी, राजीव गांधी या आईएलबीएस अस्पताल में प्लाज्मा दान करें, ताकि दूसरे मरीजों को बचाया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज