होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /हैप्पीनेस पाठ्यक्रम में बच्चों का मनाया जाएगा जन्मदिन, दिल्ली सरकार की नई पहल

हैप्पीनेस पाठ्यक्रम में बच्चों का मनाया जाएगा जन्मदिन, दिल्ली सरकार की नई पहल

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में अब हैप्पीनेस पाठ्यक्रम के तहत छात्रों का जन्मदिन मनाया जाएगा. (सांकेतिक तस्‍वीर)

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में अब हैप्पीनेस पाठ्यक्रम के तहत छात्रों का जन्मदिन मनाया जाएगा. (सांकेतिक तस्‍वीर)

दिल्ली के शिक्षा निदेशालय द्वारा जारी परिपत्र में कहा गया है, ‘विद्यालयों के अंदर आभार, प्रेरणा एवं सकारात्मक चिंतन को ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सरकारी विद्यालयों के विद्यार्थियों का जन्मदिन अब हैप्पीनेस पाठ्यक्रम के तहत मनाया जाएगा.
दिल्ली शिक्षा विभाग ने एक परिपत्र जारी किया है.
साल 2018 से दिल्ली के सरकारी विश्वविद्यालयों में हैप्पीनेस क्लासेस की शुरुआत की गई थी.

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार के विद्यालयों के विद्यार्थियों का जन्मदिन अब हैप्पीनेस पाठ्यक्रम के तहत मनाया जाएगा. शिक्षा निदेशालय ने इस आशय का एक परिपत्र जारी किया है. परिपत्र में कहा गया है, ‘ विद्यालयों के अंदर आभार, प्रेरणा एवं सकारात्मक चिंतन को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली सरकार के विद्यालयों के विद्यार्थियों के जन्मदिन को मनाने के नये तौर तरीके का पालन किया जाएगा.’ निदेशालय ने कहा कि जिन विद्यार्थियों का जन्मदिन रविवार या छुट्टी के दिन होगा, उनका जन्मदिन अगले कार्यदिवस को मनाया जाएगा.

परिपत्र के अनुसार, अवकाशकाल में जिन विद्यार्थियों का जन्मदिन होगा, उन सभी का जन्मदिन विद्यालय के खुलने के पहले दिन सामूहिक रूप से मनाया जाएगा. हैप्पीनेस पाठ्यक्रम विद्यार्थियों में खुशी एवं कल्याण की बुनियाद को मजबूत करने के मकसद से 2018 में शुरू किया गया था. इसके तहत राष्ट्रीय राजधानी में 1030 सरकारी विद्यालयों में पहली और उससे नीचे कक्षाओं से आठवीं तक के बच्चों के लिए 35 मिनट की कक्षा लगती है. बच्चों में स्व-जागरूकता, अभिव्यक्ति, समानुभूति, संबंधों की समझ का विकास इस पाठ्यचर्या का मुख्य उद्देश्य है.

वहीं बीते बुधवार को देशभक्ति करिकुलम की पहली वर्षगांठ के मौके पर त्यागराज स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि बच्चों के अंदर हमेशा भारत पहले का भाव पैदा करना ही देशभक्ति करिकुलम का मकसद है. इस करिकुलम के तीन उद्देश्य हमेशा भारत पहले, स्वतंत्रता सेनानियों को याद रखना और अपनी नागरिक जिम्मेदारियों को समझना है. अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि पिछले कुछ सालों में सरकारी स्कूलों में तीन नए कोर्स हैप्पीनेस, आंत्रप्रिन्योरशिप और देशभक्ति कक्षाएं शुरू किए गए हैं. हैप्पीनेस क्लास में बच्चों को अच्छा इंसान और देशभक्ति कक्षा में अच्छा नागरिक बनना सिखाया जाता है.

Tags: Delhi Government

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें