Delhi Riots: जान गंवाने वाले IB कर्मचारी अंकित शर्मा के भाई को केजरीवाल सरकार देगी नौकरी, कैबिनेट ने मंजूर किया प्रस्ताव!

दिल्ली सरकार की चिंता और बढ़ गई है कि आखिर अस्पतालों में बेड्स की संख्या किस तरीके से पर्याप्त की जाये. (File Photo)

दिल्ली सरकार की चिंता और बढ़ गई है कि आखिर अस्पतालों में बेड्स की संख्या किस तरीके से पर्याप्त की जाये. (File Photo)

Delhi Riots: दिल्ली कैबिनेट की ओर से एक प्रस्ताव पास करते हुए आईबी के दिवंगत कर्मचारी अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा को दिल्ली सरकार में नौकरी देने का प्रस्ताव केजरीवाल सरकार की ओर से पारित कर दिया गया है. अंकित शर्मा के भाई को योग्यता के आधार पर दिल्ली सरकार में नौकरी देगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 8:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में पिछले साल फरवरी माह में भड़के दंगों के दौरान आईबी के कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या कर दी गई थी. हत्या के बाद दिल्ली सरकार (Delhi Government) की ओर से उनके परिवार को एक करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता राशि भी दी गई थी. परिवार को आश्वस्त किया गया था कि उनके परिवार से एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दी जाएगी.

आज इस संबंध में दिल्ली कैबिनेट (Delhi Cabinet) की ओर से एक प्रस्ताव पास करते हुए आईबी के दिवंगत कर्मचारी अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा को दिल्ली सरकार में नौकरी देने का प्रस्ताव केजरीवाल सरकार की ओर से पारित कर दिया गया है. अंकित शर्मा के भाई को योग्यता के आधार पर दिल्ली सरकार में नौकरी देगी.

बताते चलें कि दिल्ली में भड़के दंगों के दौरान अंकित शर्मा की हुई हत्या को लेकर बड़ा सियासी बवाल खड़ा हुआ था. वहीं सरकार पर तमाम आरोप भी विपक्षी पार्टियों की ओर से लगाए गए थे. वही अब केजरीवाल सरकार ने आर्थिक सहायता राशि के रूप में ₹10000000 देने के बाद अब परिवार के सदस्य को नौकरी देने के फैसला लेकर विपक्ष को सवालों का जवाब देने का काम कर दिया है.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली कैबिनेट ने शुक्रवार शाम हुई बैठक में दिल्ली दंगा में अपनी जान गंवाने वाले आईबी कर्मचारी स्वर्गीय अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा को सरकारी नौकरी देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी.
इससे पूर्व सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने अंकित शर्मा की हत्या पर गहरा दुःख व्यक्त किया था. साथ ही उनके परिवार से मुलाकात कर एक करोड़ की सहायता राशि दी थी. सीएम अरविंद केजरीवाल ने परिवार से मुलाकात के दौरान एक सदस्य को सरकारी नौकरी का वादा भी किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज