Home /News /delhi-ncr /

Delhi Air Pollution: एयर पाल्‍युशन से न‍िपटने को द‍िल्‍ली की सड़कों पर दौड़ेंगी 1,000 पर्यावरण बसें, ये बनाया बड़ा प्‍लान

Delhi Air Pollution: एयर पाल्‍युशन से न‍िपटने को द‍िल्‍ली की सड़कों पर दौड़ेंगी 1,000 पर्यावरण बसें, ये बनाया बड़ा प्‍लान

यात्र‍ियों की सुव‍िधा और प्रदूषण कम करने के ल‍िए अब पर्यावरण बस सेवा चलाई जा रही है. (File photo)

यात्र‍ियों की सुव‍िधा और प्रदूषण कम करने के ल‍िए अब पर्यावरण बस सेवा चलाई जा रही है. (File photo)

Delhi Air Pollution: यात्र‍ियों की सुव‍िधा और प्रदूषण कम करने के ल‍िए अब पर्यावरण बस सेवा भी चलाई जा रही है. 1,000 बसें सड़कों पर उतारी जा रही हैं. पेट्रोल-डीजल की गाड़‍ियों को जब्‍त करने का अभ‍ियान चलाते हुए PUC सर्टिफ‍िकेट जांच अभ‍ियान में 4,000 लोगों पर जुर्माना लगाया जा चुका है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. द‍िल्ली में वायु प्रदूषण (Air Pollution) की समस्‍या से न‍िपटने के ल‍िए केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) की ओर से कई अहम कदम उठाए जा रहे हैं. द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) की ओर से पब्‍ल‍िक ट्रांसपोर्ट में यात्री कैपेस‍िटी को बढ़ाने के फैसले भी ल‍िए गए हैं. बसों में प्रत‍ि बस कैपेस‍िटी 17 बढ़ाई जा रही है. वहीं, मेट्रो (Metro) में भी 30 लोग प्रत‍ि कोच ज्‍यादा सफर कर रहे हैं.

    इतना ही नहीं यात्र‍ियों की सुव‍िधा और प्रदूषण कम करने के ल‍िए अब पर्यावरण बस सेवा भी चलाई जा रही है. 1,000 बसें सड़कों पर उतारी जा रही हैं. पेट्रोल-डीजल की गाड़‍ियों को जब्‍त करने का अभ‍ियान चलाते हुए पीयूसी सर्टिफ‍िकेट (PUC Certificate) जांच अभ‍ियान में 4,000 लोगों पर जुर्माना लगाया जा चुका है.

    मेट्रो और बसों में खड़े होकर सफर करने की अनुमति 
    मेट्रो और बसों में खड़े होकर सफर करने की अनुमति दे दी गई है. मेट्रो में 30 और बसों में 17 लोग खड़े होकर सफर कर सकेंगे. पब्लिक ट्रांसपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए 1,000 प्राइवेट सीएनजी बसें (CNG Buses) हायर की गई हैं. इन बसों पर पर्यावरण बस सेवा लिखा होगा और लोग डीटीसी (DTC) की सुविधाओं के साथ सफर कर सकते हैं. लोगों से अपील की गई है कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट (Public Transport) का अधिक इस्तेमाल करें, ताकि दिल्ली में अपने सोर्स से होने वाले 31 फीसदी प्रदूषण में से वाहनों से होने वाले 50 फीसदी प्रदूषण को कम किया जा सके.

    ये भी पढ़ें: Delhi NCR में सुधरेगी वायु प्रदूषण की गुणवत्‍ता, जानें अगले पांच द‍िन क्‍या रहेगा AQI लेवल

    दिल्ली के अंदर काम कर रही हैं 585 निगरानी टीमें 
    दिल्ली के अंदर 585 निगरानी टीमें बनाई गई हैं. यह टीमें डीपीसीसी, रेवेन्यू और एमसीडी की संयुक्त टीमें हैं, जो पूरे दिल्ली के अंदर निगरानी का काम करेंगी. निर्माण साइट पर टिन की दीवार खड़ा करना, कोई भी निर्माण कार्य हो रहा है, तो धूल मिट्टी को ढक कर रखना होगा. पानी का छिड़काव करना होगा. 20 हजार वर्ग फीट से अधिक की निर्माण साइट पर स्मॉग गन लगाना होगा.

    14 बिंदुओं के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने पर जारी होगा नोटिस
    इस तरह सभी 14 बिंदुओं के दिशा निर्देशों का उल्लंघन करते हुए कोई भी निर्माण साइट पाई गई, तो बिना नोटिस जारी किए तत्काल प्रभाव से उसके काम को बंद करा दिया जाएगा. साथ ही, उस पर तत्काल जुर्माना भी लगाया जाएगा. नोटिस भेजने की कार्रवाई बाद में पूरी की जाएगी. चूंकि निर्माण कार्य को बंद करने से मजदूरों को अब दिक्कत होने लगी थी.

    PUC सर्टिफिकेट नहीं मिलने पर काटे 4,000 लोगों के 10-10 हजार के चालान
    इसके अलावा दिल्ली सरकार की ओर से पुरानी पेट्रोल और डीजल की गाड़ियों को जब्त करने का अभियान भी जारी रखा जाएगा. पुलिस और ट्रांसपोर्ट विभाग ने इसको और तेज कर दिया है. पीयूसी सर्टिफिकेट की जांच का अभियान जारी रहेगा. अभी तक करीब इस महीने 4,000 लोगों को 10-10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जा चुका है. सभी पेट्रोल पंप पर जांच का कार्य चल रहा है. इसलिए सभी लोग पीयूसी सर्टिफिकेट (PUC Certificate) का नवीनीकरण करा लें. पीयूसी सर्टिफिकेट भी जारी किए जा रहे हैं जिससे कि वाहन प्रदूषण को और नियंत्रित किया जा सके.

    प्रदूषित ईंधन पर चलने वाली इंडस्ट्री पर प्रतिबंध
    दिल्ली के अंदर प्रदूषित ईंधन पर चलने वाली इंडस्ट्री पर प्रतिबंध है. हालांकि अधिकतर इंडस्ट्री को पीएनजी पर शिफ्ट किया जा चुका है. फिर अगर कोई प्रदूषित ईंधन पर चलता पाया जाता है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

    500 से अधिक पानी के टैंकर कर रहे हैं छिड़काव
    दिल्ली के अंदर पानी के छिड़काव के कार्य में लगे टैंकर की संख्या को बढ़ा दिया गया है. मौजूदा समय में 500 से अधिक टैंकर अलग-अलग विभागों के जरिए पानी के छिड़काव का कर रहे हैं. दिल्ली के 13 हॉटस्पॉट पर फायर ब्रिगेड की गाड़ियां भी पानी का छिड़काव कर रही हैं. इसको जारी रखा जाएगा. दिल्ली में रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ कैंपेन 3 दिसंबर तक जारी रहेगा. उसके बाद इसको लेकर निर्णय लेंगे.

    Tags: Buses, Delhi air pollution, Delhi Government, Delhi news, Delhi-NCR Pollution, Public Transportation

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर