Home /News /delhi-ncr /

Delhi Government: द‍िल्‍ली के इन 7 सरकारी अस्‍पतालों में 24x7 मौजूद रहेगी फायर ब्र‍िगेड, आग से न‍िपटने को तैयार क‍िया प्‍लान

Delhi Government: द‍िल्‍ली के इन 7 सरकारी अस्‍पतालों में 24x7 मौजूद रहेगी फायर ब्र‍िगेड, आग से न‍िपटने को तैयार क‍िया प्‍लान

द‍िल्‍ली अग्निशमन विभाग को निर्देश दिए हैं कि दिल्ली सरकार के 7 सरकारी अस्पतालों में आग से निपटने के लिए तंत्र को अत्याधुनिक बनाया जाए, (फाइल फोटो)

द‍िल्‍ली अग्निशमन विभाग को निर्देश दिए हैं कि दिल्ली सरकार के 7 सरकारी अस्पतालों में आग से निपटने के लिए तंत्र को अत्याधुनिक बनाया जाए, (फाइल फोटो)

Delhi Government: द‍िल्‍ली अग्निशमन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि दिल्ली सरकार के 7 सरकारी अस्पतालों में आग से निपटने के लिए मौजूदा तंत्र को अत्याधुनिक बनाया जाए, जिसके तहत इन अस्पतालों में अब फायर ब्रिगेड की गाड़ी 24 घंटे मौजूद रहेगी. साथ ही अत्याधुनिक फायर कंट्रोल रूम भी बनाए जाएंगे. यह परियोजना पायलट आधार पर यमुनापार के सबसे बड़े अस्‍पताल जीटीबी और सेंट्रल द‍िल्‍ली के जीबी पंत अस्‍पताल समेत सात सरकारी अस्पतालों में शुरू की जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) जहां मरीजों के इलाज के ल‍िये अस्‍पतालों (Hospitals) में ज्‍यादा से ज्‍यादा बेड्स के इंतजाम करने में जुटी है. वहीं दूसरी ओर अस्‍पतालों में आग की घटनाओं से निपटने के ल‍िये भी पुख्‍ता इंतजाम कर रही है. अस्‍पताल में अचानक आग लगने की स्‍थित‍ि में भर्ती मरीजों की जान पर आन पड़ती है. इस सभी को लेकर अब सरकार ने द‍िल्‍’ली के सात बड़े अस्‍पतालों में 24 घंटे फायर ब्र‍िगेड (Fire Brigade) की गाड़ी भी मौजूद रखने के आदेश द‍िये हैं.

    दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने द‍िल्‍ली अग्निशमन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि दिल्ली सरकार के 7 सरकारी अस्पतालों में आग से निपटने के लिए मौजूदा तंत्र को अत्याधुनिक बनाया जाए, जिसके तहत इन अस्पतालों में अब फायर ब्रिगेड की गाड़ी 24 घंटे मौजूद रहेगी. साथ ही अत्याधुनिक फायर कंट्रोल रूम भी बनाए जाएंगे. यह परियोजना पायलट आधार पर यमुनापार के सबसे बड़े अस्‍पताल जीटीबी और सेंट्रल द‍िल्‍ली के जीबी पंत अस्‍पताल समेत सात सरकारी अस्पतालों में शुरू की जा रही है.

    ये भी पढ़ें: Yamuna River: केजरीवाल सरकार ने यमुना सफाई की तय की डेडलाइन, अब युद्ध स्‍तर पर शुरू होगा ये काम

    गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ने तंत्र को और बेहतर बनाने के संदर्भ में संबंधित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए यह भी कहा है क‍ि दिल्ली के सात सरकारी अस्पतालों में आग से निपटने के इंतजाम और बेहतर किए जाएं. इन सात अस्पतालों में आधुनिक अग्नि नियंत्रण कक्ष भी बनाया जाए, जो किसी भी अप्रत्याशित परिस्थितियों में समय रहते उसे काबू कर ले.

    ये भी पढ़ें: COVID 19: थर्डवेव से निपटने की केजरीवाल सरकार कर रही तैयारी, इन जगहों पर तैयार हो रहे हजारों ICU बेड्स 

    बताते चलें क‍ि कई बार अस्‍पताल में शॉर्ट सर्किट या फ‍िर दूसरी क‍िसी वजह से अचानक आग लगने की स्‍थ‍ित‍ि में अफरा तफरी का माहौल बन जाता है. इसकी वजह से अस्‍पताल में भर्ती मरीजों की सुरक्षा को लेकर ज्‍यादा च‍िंता हो जाती है.

    कोव‍िड की दूसरी लहर के दौरान भी द‍िल्‍ली के एक अस्‍पताल में आग लगने पर भर्ती 18 मरीजों की जान जोखिम में आ गई थी. इस सभी के चलते सरकार ने अब इस तरह की घटना होने पर ब‍िना क‍िसी देरी के आग पर तुरंत काबू पाने के ल‍िये फायर ब्र‍िगेड की गाड़ी 24 घंटे मौजूद रहने के न‍िर्देश द‍िये हैं.

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर