दिल्ली में कोरोना से 168 मौत, मगर COVID-19 नियमों के तहत हुए 400 अंतिम संस्कार, रिपोर्ट

देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या 3303 हो गई है.
देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या 3303 हो गई है.

कोरोना वायरस (COVID-19) के कहर से जूझ रही राष्ट्रीय राजधानी (National Capital) में महामारी की वजह से हुई मौतों के आंकड़े पर असमंजस है. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने इस संबंध में नगर निगम से रिपोर्ट मांगी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (COVID-19) के कहर से जूझ रही राष्ट्रीय राजधानी में महामारी की वजह से हुई मौतों के आंकड़े पर असमंजस है. दिल्ली सरकार ने उत्तरी और दक्षिणी नगर निगम (MCD) से पिछले कुछ दिनों में विभिन्न श्मशान घाटों में हुए अंतिम संस्कार और कब्रिस्तानों में शव दफनाए जाने की रिपोर्ट मांगी है. दरअसल, राजधानी दिल्ली (Delhi) में कोरोना से मौत का आंकड़ा तब उलझ गया, जब दोनों निगमों ने यह जानकारी दी कि पिछले कुछ दिनों में 400 से ज्यादा शवों का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत किया गया है. दिल्ली में अभी तक कोरोना की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या आधिकारिक रूप से 168 बताई जा रही है. इस उलझन को लेकर दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने दोनों निगमों से अंतिम संस्कार या शव दफनाए जाने की रिपोर्ट मांगी है.

आप सरकार ने नगर निगम से मांगा आंकड़ा
दिल्‍ली की सत्ताधारी AAP सरकार ने नॉर्थ और साउथ दिल्‍ली नगर निगम से अंतिम संस्‍कार का आंकड़ा मांगा है. इसके पीछे सरकार का मकसद दिल्‍ली में COVID-19 से हुई मौतों की सही जानकारी हासिल करना है. दरअसल, कई राजनीतिक दलों ने सरकार के ऊपर ये आरोप लगाया है कि वह कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा छुपा रही है. इसके बाद ही केजरीवाल सरकार ने यह रिपोर्ट तलब की है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले हफ्ते ही दिल्ली के स्वास्थ्य सचिव पद्मिनी सिंगला ने दोनों नगर निगमों के कमिश्नर को पत्र लिखकर इस मामले में विस्तृत जानकारी मांगी है. सिंगला ने अपने पत्र में निगम बोध घाट और पंजाबी बाग क्रिमेटोरियम पर शवों के अंतिम संस्कार और ITO स्थित कब्रिस्तान में शव दफनाए जाने की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. MCD के मुताबिक इन तीनों आधिकारिक दाह संस्कार स्थल पर 580 से ज्यादा शवों के अंतिम संस्कार किए जाने का आंकड़ा दिया गया है.
नहीं थम रहा कोरोना का कहर


राष्ट्रीय राजधानी में सरकार के हरसंभव प्रयास के बावजूद कोरोना वायरस के संक्रमण पर रोक नहीं लग पा रही है. मंगलवार शाम को जारी हेल्थ बुलेटिन की ही मानें तो सिर्फ 24 घंटे में COVID-19 से संक्रमित होने के 500 मामले सामने आए. दिल्ली में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 10000 को पार कर गई है. वहीं इससे हुई मौत का आंकड़ा 168 पर पहुंच गया है. अकेले मंगलवार को ही कोरोना की वजह से 6 लोगों की मौत हुी है. ऐसे में मृतकों के आंकड़े और शवों के अंतिम संस्कार की संख्या में अंतर से उलझन पैदा होना लाजिमी है. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट की मानें तो पिछले दिनों दिल्ली के अस्पतालों और सरकार द्वारा जारी मौत के आंकड़ों में भी अंतर दर्ज किया गया था. इसको लेकर भी सवाल उठाए गए थे.

 

ये भी पढ़ें:  दिल्ली से नोएडा जाने से पहले पढ़ लें ये खबर, यहां लगा है गाड़ि‍यों का रेला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज