दिल्ली में बारिश ने ही नहीं, अधिकतम तापमान ने भी तोड़ा 70 साल का रिकॉर्ड, 1951 में दर्ज हुआ था सबसे कम पारा

बेमौसम हो रही बारिश के चलते बारिश और तापमान के पुराने रिकॉर्ड लगातार टूटते जा रहे हैं. (फाइल फोटो)

बेमौसम हो रही बारिश के चलते बारिश और तापमान के पुराने रिकॉर्ड लगातार टूटते जा रहे हैं. (फाइल फोटो)

Delhi NCR Weather Update : दिल्ली के सफदरजंग इलाके में 19 मई को अधिकतम तापमान 23.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है. यह 1951 के बाद अब तक का सबसे कम अधिकतम तापमान रिकॉर्ड किया गया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. चक्रवाती तूफान टाउते (Cyclone Tauktae) का भारी असर दिल्ली- एनसीआर (Delhi-NCR) और अन्य राज्यों में भी देखने को मिला है. इसके चलते अचानक मौसम (Mausam) में ना केवल बड़ा बदलाव हुआ, बल्कि बेमौसम बारिश (Rain) भी लगातार जारी है. इसके चलते बारिश और तापमान के पुराने रिकॉर्ड भी लगातार टूटते जा रहे हैं.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक सफदरजंग में 19 मई को अधिकतम तापमान 23.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है. यह 1951 के बाद अब तक का सबसे कम अधिकतम तापमान रिकॉर्ड किया गया है. इससे पहले सबसे कम अधिकतम तापमान 13 मई, 1982 को रिकॉर्ड किया गया था. यह 24.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, दिल्ली के सफदरजंग (Safdarjung) इलाके में कल रात्रि 8:30 बजे तक 60 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है जोकि 1976 के बाद सबसे ज्यादा रिकॉर्ड की गई है. 24 मई 1976 को 1 दिन में 60 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई थी उस रिकॉर्ड को आज तोड़ दिया गया है.

मंगलवार रात्रि से लगातार हो रही हल्की-हल्की बारिश बुधवार को दिन भर जारी रही है. बुधवार देर रात्रि में लगातार जारी बारिश के फिलहाल बंद होने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं.


इसके चलते दिल्ली-एनसीआर का मौसम भी पूरी तरीके से बदल गया है. वहीं, ठंडी हवाओं के चलते बदले मौसम से लोगों को ठंड का एहसास भी हो रहा है. वहीं, तापमान में भारी गिरावट रिकॉर्ड की गई है.

बार‍िश ने भी 45 साल पहले का रिकॉर्ड तोड़ द‍िया है     



मौसम विभाग की माने तो दिल्ली में पिछले 24 घंटे में  मई माह में 1 दिन में होने वाली सबसे ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है. मौसम विभाग ने 19 मई को रात्रि 8:30 बजे तक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में 60 मिलीमीटर बारिश होना रिकॉर्ड किया है.

वहीं, इसने 1976 यानी कि 45 साल पहले 24 मई को रिकॉर्ड किए गए रिकॉर्ड को तोड़ दिया है. अभी बारिश लगातार जारी है. और मौसम विभाग ने संभावना भी जताई है कि 'भारी' से 'बेहद भारी' बारिश कुछ इलाकों में होने की संभावना है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज