• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • खुद को कृष्ण बताकर गंदी हरकत करता था बाबा, HC ने मांगी आश्रमों की डिटेल

खुद को कृष्ण बताकर गंदी हरकत करता था बाबा, HC ने मांगी आश्रमों की डिटेल

आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के बारे में कई हैरान करने वाली बातें सामने आ रही हैं.

आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के बारे में कई हैरान करने वाली बातें सामने आ रही हैं.

आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के बारे में कई हैरान करने वाली बातें सामने आ रही हैं.

  • Share this:
दिल्ली में एक और ढोंगी और पापी बाबा का पर्दाफाश हुआ है. रोहिणी इलाके में स्थित आध्यात्मिक विश्वविद्यालय से पुलिस ने बुधवार को छापा मारकर 41 लड़कियों को आजाद कराया. इस आश्रम में कई सालों से लड़कियों और बच्चियों का शारीरिक शोषण हो रहा था. आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के बारे में कई हैरान करने वाली बातें सामने आ रही हैं.

बताया जा रहा है कि दूसरे बाबाओं की तरह इस बाबा ने भी खुद को भगवान घोषित कर रखा था. वह खुद को कृष्ण का अवतार बताता था और आश्रम की लड़कियों को अपनी रानियां मानता था. आरोप है कि धर्म का चोला पहनकर इस बाबा ने रोज करीब 10 रेप किए.

आश्रम में एक लड़की की हो चुकी है मौत
बाबा के आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में एक लड़की की संदिग्ध परिस्थिति में मौत भी हो चुकी है. आसपास के लोगों का आरोप है कि विश्वविद्यालय के अंदर की गतिविधियों की कई बार शिकायत भी की गई, लेकिन पुलिस के कान पर जूं तक नही रेंगी.

कैदखाने से कम नहीं है ये आश्रम
इस विश्वविद्यालय को बाहर से देखकर ही साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये किसी कैदखाने से कम नहीं है. हर तरह लोहे की बड़ी-बड़ी जालियां और बड़े बड़े लोहे के दरवाजे लगे हुए हैं. यहां लड़कियों को पिंजड़े में कैद करके रखा जाता था.

कहने को बाबा, काम-फ्राड से लेकर अश्लीलता तक



उम्र के हिसाब से लड़कियों को दे रखा था फ्लोर
आध्यात्मिक विश्वविद्यालय का बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित बड़ी शान-ओ-शौकत के साथ रहता था. उसने हर काम के लिए लड़कियां ही रखी थी. उसके आश्रम में हर उम्र की लड़कियों के लिए अलग-अलग फ्लोर था. 28 साल से कम उम्र की लड़कियों के साथ ये बाबा थर्ड फ्लोर पर रहता था. इससे ज्यादा उम्र वाली लड़कियों और महिलाओं को चौथी मंजिल पर रखा गया था.

सुरंग के रास्ते लाई जाती थी लड़कियां
इस बाबा के बारे में कहा जा रहा है कि आश्रम में लड़कियों को बंधक बनाए रखने के लिए उन्हें ड्रग्स का ओवरडोज दिया जाता था. यही नहीं, विश्वविद्यालय में एक मुख्य और दूसरा वीवीआईपी आश्रम है. दोनों आश्रमों को एक सुरंग के जरिए जोड़ा गया था. जिसके जरिए लड़कियों को लाने का काम होता था.

राजस्थान की महिला ने हाईकोर्ट में दाखिल की थी याचिका
इस आश्रम में रह चुकी राजस्थान की एक महिला ने 'पापी' बाबा के खिलाफ हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल की थी. महिला का आरोप है कि आश्रम में लड़कियों को पिंजरे में बंद कर रखा जाता था. यहां विदेशी लड़कियां भी लाई जाती थी. रात में सुरंग के जरिए लड़कियों की सप्लाई भी होती थी. हाईकोर्ट ने महिला की याचिका पर सुनवाई करते हुए पुलिस को आध्यात्मिक आश्रम में छापेमारी के आदेश दिए थे.

बीमार हैं आश्रम की ज्यादातर लड़कियां
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल की मौजूदगी में पुलिस ने वहां छापा मारा और अंदर से 41 लड़कियों को बाहर निकाला गया. बताया जा रहा है कि अभी भी 100 से ज्यादा लड़कियां आश्रम में हैं. इनमें से ज्यादातर बीमार बताई जा रही हैं. आरोप है कि विश्वविद्यालय में स्वाती मालीवाल और कुछ पुलिसवालों को दो घंटे से ज्यादा वक्त तक बंधक बना लिया गया था. स्वाति मालिवाल ने बकायदा कोर्ट में इस बात की शिकायत की है.

लड़कियों से भरवाता था एफिडेविट
पापी बाबा लड़कियों से एफिडेविट भी भरवाता था. इसमें लड़कियों को लिखना होता था, "आज के बाद मैं तन मन और धन से बाबा की हूं, मैं जो भी करूंगी बाबा के कहने पर करूंगी. मैं अपना सबकुछ बाबा को समर्पित करती हूं." इन एफिडेविट के जरिए बाबा लड़कियों को ब्लैकमेल करता था. ऐसे में चाहकर भी महिलाएं इस दलदल से निकल नहीं पाती थी.



दो अन्य ठिकानों पर भी मारा छापा
मामले की गंभीरता को देखते हुए हाईकोर्ट ने सीबीआई को एसआईटी बनाकर जांच के आदेश दिए हैं. साथ ही दिल्ली पुलिस को कहा गया है कि वो जांच में सीबीआई की मदद करे. शुक्रवार को पुलिस ने विजय विहार के दो बड़ी इमारतों पर भी छापा मारा है. पुलिस ने वहां से 30 से 40 मोबाइल फोन, 10 सिम और 12 मेमोरी कार्ड बरामद किए हैं.

हाईकोर्ट ने मांगी सभी आश्रमों की लिस्ट
दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को ढोंगी बाबा विरेंद्र देव दीक्षित के सभी 8 आश्रमों की लिस्ट पेश करने को कहा है. अगर आश्रम की डिटेल कोर्ट में पेश नहीं की जाती हैं, तो कोर्ट विरेंद्र देव दीक्षित के खिलाफ वारंट भी जारी कर सकती है. फिलहाल इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है.



'जल्द हो पापी बाबा की गिरफ्तारी'
वहीं, इस मामले में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने पापी बाबा के गिरफ्तारी की मांग की है. स्वाती मालीवाल का कहना है, "आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में सेक्स रैकेट चल रहा है. बाबा को जल्द से जल्द गिरफ्तार करना चाहिए. हम चाहते हैं कि सच्चाई सबके सामने आए."

 

ये भी पढ़ें:  दिल्ली वाले बाबा ने बदनाम कर दिया द्रौपदी का गांव

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज