लाइव टीवी

FIR में उर्दू-फारसी के गैर प्रचलित शब्दों से बचें, आम शब्द इस्तेमाल करें. दिल्ली हाईकोर्ट

भाषा
Updated: December 11, 2019, 5:08 PM IST
FIR में उर्दू-फारसी के गैर प्रचलित शब्दों से बचें, आम शब्द इस्तेमाल करें. दिल्ली हाईकोर्ट
हाईकोर्ट ने कहा कि एफआईआर दर्ज करते समय पुलिस आम बोलचाल में इस्तेमाल होने वाले उर्दू और फारसी के शब्दों का इस्तेमाल कर सकती है. (File Photo)

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि प्राथमिकी में आम उर्दू (Urdu) और फारसी (Persian) शब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं. लेकिन इसके गैर प्रचलित शब्दों से बचें.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने बुधवार को स्पष्ट किया कि उसने अपने पहले के आदेश में सिर्फ यही निर्देश दिया था कि प्राथमिकी (एफआईआर) में सरल भाषा का इस्तेमाल होना चाहिए और गैर प्रचलित उर्दू-फारसी शब्दों (Urdu and Persian words) से बचना चाहिए. मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति सी हरि शंकर की पीठ ने कहा कि शिकायत दर्ज करते समय पुलिस आम बोलचाल में इस्तेमाल होने वाले उर्दू और फारसी के शब्दों का उपयोग कर सकती है.

अदालत ने एक याचिका का निपटारा करते समय यह स्पष्टीकरण दिया. याचिका में पुलिस थानों को भेजे गए पुलिस के एक परिपत्र को चुनौती दी गई थी, जिसमें प्राथमिकी दर्ज करते समय उर्दू या फारसी के 383 शब्दों का इस्तेमाल बंद करने का निर्देश दिया गया था.

याचिकाकर्ता नईमा पाशा ने दावा किया कि यह परिपत्र कथित रूप से अदालत के 7 अगस्त के उस निर्देश के बाद जारी किया गया, जिसमें उसने शिकायत दर्ज करते समय सरल शब्दों के इस्तेमाल का निर्देश दिया था. जबकि परिपत्र में उर्दू और फारसी से संबंधित 383 शब्दों की सूची में कुछ ऐसे भी शब्द हैं, जो आम बोलचाल में इस्तेमाल होते हैं.

पीठ ने याचिका का निपटारा करते हुए कहा कि वह अपने सात अगस्त के आदेश पर स्पष्टीकरण देगा.
हाईकोर्ट ने कहा, "गैर प्रचलित उर्दू एवं फारसी के शब्दों का (प्राथमिकी दर्ज करते समय) इस्तेमाल नहीं होना चाहिए. एक लंबित जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान अदालत के सात अगस्त के आदेश का यही आशय था कि प्रचलन में मौजूद उर्दू और फारसी के शब्दों का इस्तेमाल किया जा सकता है."


25 नवंबर को एक वकील की अन्य याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने यह पता लगाने के लिए कि क्या 20 नवंबर के परिपत्र का पालन हो रहा है, उसने प्राथमिकी की 100 प्रतियां मंगाई थीं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 5:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर