दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश के बाद पत्नी को मिला पति का शव, सऊदी अरब में मुस्लिम समझ कर दफनाया था

संजीव कुमार की पत्नी अंजू शर्मा ने कुछ दिन पहले सऊदी अरब से अपने पति का शव वापस लाने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था

संजीव कुमार की पत्नी अंजू शर्मा ने कुछ दिन पहले सऊदी अरब से अपने पति का शव वापस लाने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था

संजीव कुमार की पत्नी अंजू शर्मा ने कुछ दिन पहले सऊदी अरब (Saudi Arab) से अपने पति का शव वापस लाने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) का दरवाजा खटखटाया था. उन्होंने कहा था कि उसके पति का शव इसलिए कब्रिस्तान में दफना दिया गया क्योंकि अनुवादक ने गलती से मृतक को मुस्लिम धर्म का बता दिया था

  • Share this:

नई दिल्ली. विदेश मंत्रालय ने दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) को यह जानकारी दी है कि उन्हें संजीव कुमार नाम के भारतीय नागरिक की अस्थियां मिल गई हैं. संजीव की इसी साल जनवरी में सऊदी अरब (Saudi Arab) में मृत्यु हो गई थी जिसके बाद उनके शव को परिवार की सहमति के बिना वहां दफना दिया गया था. मामले की सुनवाई के दौरान विदेश मंत्रालय (MEA) के वाणिज्य, पासपोर्ट और वीजा प्रभाग के निदेशक विष्णु कुमार शर्मा ने हाईकोर्ट को बताया कि संजीव कुमार के शव (Dead Body) को बुधवार सुबह भारत लाया गया है और उसे उनके परिवार को सौंप दिया गया है.

परिवार शव के अवशेषों को अपने गृह जिले हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले लेकर जा रहा है. संजीव की पत्नी अंजू शर्मा ने कुछ दिन पहले सऊदी अरब से अपने पति का शव वापस लाने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. उन्होंने कहा था कि उसके पति का शव इसलिए कब्रिस्तान में दफना दिया गया क्योंकि अनुवादक ने गलती से मृतक को मुस्लिम धर्म का बता दिया था.

संजीव कुमार पिछले 23 वर्ष से सऊदी अरब में ट्रक ड्राइवर के रूप में काम कर रहे थे. जनवरी में कार्डियक अरेस्ट (दिल का दौरा) के कारण उनकी मौत हो गई थी. मृत्यु के बाद उनकी अस्थियों के अवशेषों को बाझ जनरल अस्पताल, जीजान में रखा गया था. विष्णु कुमार शर्मा ने पिछले महीने दिल्ली हाईकोर्ट को सूचित किया था कि उन्होंने संजीव कुमार के शरीर को भारत वापस लाने के लिए राजनयिक प्रयास शुरू कर दिए हैं.

भारतीय वाणिज्य दूतावास द्वारा जीजान क्षेत्र में कानूनी कार्यवाही भी शुरू कर दी गई है. विदेश मंत्रालय के अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि बुधवार की सुबह मृतक का शव मिला है. अधिकारियों ने अदालत को यह भी बताया कि उन्हें नियोक्ता से मुआवजे के रूप में 4.65 लाख रुपये मिले हैं जिसका चेक परिवार को सौंप दिया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज