बत्रा अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से डॉक्टर समेत 12 मरीजों की मौत पर हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान

ऑक्सीजन की सप्लाई में देरी की वजह से शनिवार को बत्रा अस्पताल में 12 लोगों की मौत हो गई, दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में संज्ञान लिया है

ऑक्सीजन की सप्लाई में देरी की वजह से शनिवार को बत्रा अस्पताल में 12 लोगों की मौत हो गई, दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में संज्ञान लिया है

बत्रा अस्पताल (Batra Hospital) के निदेशक डॉक्टर एससीएल गुप्ता ने कहा कि ऑक्सीजन की कमी (Oxygen Crisis) से मरने वाले बारह मरीजों में से छह रोगी आईसीयू (ICU) में जबकि दो उच्च निर्भरता वार्डों में भर्ती थे. ऑक्सीजन की कमी से जान गंवाने वालों में अस्पताल के गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी (जठरांत्र विज्ञान) विभाग के प्रमुख आरके हिमतानी भी शामिल हैं. उन्हें 15-20 दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था

  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में हर बीतते दिन के साथ कोरोना संक्रमण (Corona Virus) भयावह होता जा रहा है. शनिवार को यहां के बत्रा अस्पताल (Batra Hospital) में गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी (जठरांत्र विज्ञान) विभाग के प्रमुख सहित 12 कोरोना मरीजों (Corona Patients) की ऑक्सीजन की कमी के कारण मौत हो गई. इससे पहले, बत्रा अस्पताल में आठ मरीजों की मौत की जानकारी दी गई थी. अस्पताल के चिकित्सा निदेशक डॉक्टर एससीएल गुप्ता ने कहा कि ऑक्सीजन की कमी (Oxygen Crisis) से मरने वाले आठ रोगियों में से छह रोगी आईसीयू (ICU) में जबकि दो उच्च निर्भरता वार्डों में भर्ती थे. इसके बाद ऑक्सीजन की कमी से चार और रोगियों की मौत की जानकारी दी गई, जिससे मृतक संख्या बढ़कर 12 हो गई.

ऑक्सीजन की कमी से जान गंवाने वालों में अस्पताल के गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी (जठरांत्र विज्ञान) विभाग के प्रमुख आरके हिमतानी भी शामिल हैं. उन्होंने कहा कि हिमतानी को 15-20 दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

दिल्ली हाईकोर्ट ने अस्पताल में 12 लोगों की मौत पर लिया संज्ञान 

इस बीच, दिल्ली हाईकोर्ट ने बत्रा हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की सप्लाई में देरी के चलते डॉक्टर समेत 12 मरीजों की मौतों पर संज्ञान लिया है. अदालत ने केंद्र को निर्देश दिया की वो दिल्ली को तुरंत 490 एमटी ऑक्सीजन दे या कोर्ट की अवमानना की करवाई का सामना करे. हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को कहा कि अब बहुत हो चुका 'Enough is Enough.' कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा कि आप (केंद्र सरकार) कहना चाहते हैं कि हम अपनी आंखें बंद कर ले और लोग दिल्ली में मरते रहें. आपने दिल्ली को 490MT ऑक्सीजन देने का वादा किया है आप उसे पूरा करें.
वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को बत्रा अस्पताल में हुई 12 मौतों पर शोक जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'ये खबर बहुत ही ज्यादा पीड़ादायी है. इनकी जान बच सकती थी, समय पर ऑक्सिजन देकर. दिल्ली को उसके कोटे की ऑक्सिजन दी जाए. अपने लोगों की इस तरह होती मौतें अब और नहीं देखी जाती. दिल्ली को 976 टन ऑक्सिजन चाहिए और कल केवल 312 टन ऑक्सिजन दी गयी. इतनी कम ऑक्सिजन में दिल्ली कैसे सांस ले?'

इस बीच, बत्रा अस्पताल ने कहा कि उसने शनिवार को ऑक्सीजन की कमी को लेकर संकटकालीन संदेश (SOS) भेजा था. डॉ. एससीएल गुप्ता ने कहा कि शनिवार सुबह जब 2,500 लीटर ऑक्सीजन बची थी तो उन्होंने इसकी कमी को लेकर अधिकारियों के जानकारी दी थी. उन्होंने कहा कि दोपहर करीब साढ़े 12 बजे अस्पताल के अधिकारियों ने दावा किया कि ऑक्सीजन खत्म हो गई है. इसके बाद एक बजकर 35 मिनट पर ऑक्सीजन का टैंकर हॉस्पिटल आया.

वसंत कुंज के फोर्टिस अस्पताल में कोरोना मरीजों की भर्ती बंद



वहीं, दिल्ली के ही वसंत कुंज के फोर्टिस अस्पताल ने ऑक्सीजन की कमी के चलते मरीजों को भर्ती करना बंद कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक अस्पताल के पास मात्र चार घंटे की ऑक्सीजन बची है. दिल्ली कोरोना मोबाइल ऐप के अनुसार इस अस्पताल में कोरोना के 106 पेशेंट हैं.

इस बीच, मीरा बाग स्थित सहगल नियो अस्पताल ने भी शनिवार को ट्विटर कर अस्पताल में खत्म होती ऑक्सीजन को लेकर एसओएस भेजा है. अस्पताल ने दोपहर करीब 12 बजकर 40 ट्वीट किया, 'हम ऑक्सीजन हासिल करने में आपात सहायता का अनुरोध करते हैं. हमारी पिछली आपूर्ति खत्म हो रही है और सुबह से नई सप्लाई का इंतजार कर रहे हैं. हमारे यहां ऑक्सीजन सपोर्ट पर 90 और आईसीयू में 13 रोगी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज