चीनी दूतावास के बाहर हिन्‍दू राष्ट्र सेना ने लगाया पोस्टर, लिखा- हिन्दी चीनी बाय बाय
Delhi-Ncr News in Hindi

चीनी दूतावास के बाहर हिन्‍दू राष्ट्र सेना ने लगाया पोस्टर, लिखा- हिन्दी चीनी बाय बाय
पोस्टर पर लिखा "चीन गद्दार है, हिंदी- चीनी बाय बाय- बाय".

हिन्दू राष्ट्र सेना (Hindu Rashtra Sena) के कार्यकर्ताओं ने पंचशील मार्ग स्थित चीनी दूतावास के बाहर लगे साइन बोर्ड पर काला पोस्टर लगाया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. जब से लद्दाख के गलवान घाटी (Galvan Valley) में चीन के सैनिकों के साथ हुई झड़प में  हमारे 20 जवान शहीद हुए हैं, तब से पूरे देश में आक्रोश का माहौल है. लोग तरह-तरह से चीन का विरोध कर रहे हैं. कोई सोशल मीडिया (Social Media) पर कैंपेन चला रहा है तो कोई चाइनीज सामान का बहिष्कार करने की बात कर रहा है. वहीं, देश के कई हिस्सों में लोगों ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का पुतला फूंका तो कहीं चाइनीज सामान तोड़कर विरोध जताया है. इसी बीच खबर है कि दिल्ली में हिन्दू राष्ट्र सेना के कार्यकर्ता भी चीन के विरोध में उतर आए हैं. हिन्दू राष्ट्र सेना (Hindu Rashtra Sena) के कार्यकर्ताओं ने पंचशील मार्ग स्थित चीनी दूतावास (Chinese Embassy) के बाहर लगे साइन बोर्ड पर काला पोस्टर लगाया है. पोस्टर पर लिखा "चीन गद्दार है, हिंदी- चीनी बाय बाय".

दरअसल, बीते हफ्ते लद्दाख सीमा पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प के बाद बॉर्डर पर तनाव बढ़ने के साथ-साथ देश के अलग-अलग शहरों में चीन के विरोध में प्रदर्शन शुरू हो गए हैं. बॉर्डर पर भारतीय सेना के 20 जवानों के शहीद होने की जानकारी सामने आने के साथ ही पूरे देश में चीन के खिलाफ आक्रोश फूट गया. लोगों ने सड़कों पर उतर कर चीन के खिलाफ नारेबाजी की. पटना, लखनऊ, भोपाल, अहमदाबाद सहित कई शहरों ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन किए गए. साथ ही चीनी सामान के बहिष्कार की तस्वीरें आईं. इन सबके बीच आज राष्ट्रीय राजधानी हिंदू राष्ट्र सेना के कार्यकर्ताओं ने चीनी दूतावास के सामने प्रदर्शन किया.

तीन राज्यों की सरकारों ने चीन को दिया झटका



सीमा पर तनाव की खबरों के बीच देश के तीन राज्यों की सरकार ने भी चीनी कंपनियों के बहिष्कार को समर्थन दिया है. महाराष्ट्र ने जहां चीनी कंपनियों के 5000 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट्स के टेंडर रद्द कर दिए, वहीं हरियाणा सरकार ने भी दो शहरों में चीनी कंपनियों को जारी किए गए टेंडर रद्द कर दिए हैं. इसके अलावा यूपी सरकार ने प्रदेश में बिजली के चाइनीज मीटर और अन्य उपकरणों के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है. सरकार ने पावर कॉरपोरेशन को भविष्य में भी चायनीज उपकरणों का इस्‍तेमाल न करने का आदेश दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज