अपना शहर चुनें

States

26 जनवरी के बाद एमसीडी स्‍कूलों में भी बंटेगा सूखा राशन, इतने किलो मिलेगा गेंहू-चावल

दिल्‍ली नगर निगम के स्‍कूलों में जल्‍दी ही बच्‍चों को राशन किट दी जाएगी.
दिल्‍ली नगर निगम के स्‍कूलों में जल्‍दी ही बच्‍चों को राशन किट दी जाएगी.

उत्‍तरी दिल्‍ली नगर निगम के मेयर जयप्रकाश ने बताया कि गणतंत्र दिवस के बाद से एमसीडी के स्‍कूलों में भी बच्‍चों को सूखा राशन देना शुरू कर दिया जाएगा. कोरोना की वजह से स्‍कूल बंद होने के कारण बच्‍चों को मिड डे मील नहीं मिल पा रहा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 9:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. दिल्‍ली सरकार के स्‍कूलों में जनवरी से मिड डे मील (Mid Day Meal) की जगह पर राशन किट (Ration Kit) दी जा रही है. जिसमें स्‍कूली बच्‍चों को सूखा राशन दिया जा रहा है. इसी तरह दिल्‍ली के नगर निगम स्‍कूलों, प्रतिभा विकास विद्यालयों में भी 26 जनवरी (26 January) के बाद सूखा राशन (Dry Ration) देने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. जिसमें सभी बच्‍चों  को गेंहू, चावल, दाल और सरसों का तेल दिया जाएगा.

उत्‍तरी दिल्‍ली नगर निगम के मेयर जयप्रकाश ने बताया कि गणतंत्र दिवस के बाद से एमसीडी के स्‍कूलों में भी बच्‍चों  को सूखा राशन देना शुरू कर दिया जाएगा. कोरोना की वजह से स्‍कूल बंद होने के कारण बच्‍चों को मिड डे मील (Mid Day Meal) नहीं मिल पा रहा था. हालांकि राशन किट से बच्‍चों की यह समस्‍या दूर हो जाएगी. इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. सभी बच्‍चों को दिए जाने वाले राशन की मात्रा अलग-अलग है. बड़ी कक्षा के बच्‍चों को अलग जबकि छोटी कक्षा के बच्‍चों को अलग मात्रा दी जाएगी.





जयप्रकाश कहते हैं  कि छोटे बच्‍चों  के लिए प्रतिदिन 100 ग्राम गेंहू, 100 ग्राम चावल, 50 ग्राम दाल (कोई  भी प्रोटीन वाली) और सरसों का तेल तय किया गया है. जिसके आधार पर हर महीने तीन किलोग्राम गेंहू, तीन किलोग्राम चावल, डेढ़ किलोग्राम दाल और आधा किलोग्राम सरसों के तेल की मात्रा बच्‍चों को दी जाएगी.
वहीं बड़े बच्‍चों के लिए यह मात्रा रोजाना बढ़ाकर 150 ग्राम गेंहू, 150 ग्राम चावल, 75 ग्राम दाल और सरसों का तेल की गई है. ऐसे में इन बच्‍चों को हर महीने राशन किट में साढ़े चार किलोग्राम गेंहू, साढ़े चार किलोग्राम चावल, सवा दो किलोग्राम दाल और एक किलोग्राम सरसों का तेल दिया जाएगा. राशन किट का वितरण जनवरी में ही शुरू कर दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज