दिल्‍ली: एक मेट्रो कोच में दाखिल हो सकेंगे सिर्फ 50 यात्री, कुछ इस तरह बदल जाएगा आपका सफर
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्‍ली: एक मेट्रो कोच में दाखिल हो सकेंगे सिर्फ 50 यात्री, कुछ इस तरह बदल जाएगा आपका सफर
जल्‍द शुरू होगा दिल्‍ली मेट्रो का परिचालन. (फाइल फोटो)

दिल्‍ली मेट्रो (Delhi Metro) और सीआईएसएफ (CISF) ने मेट्रो के परिचालन को लेकर अपनी सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं. उन्‍हें अब सिर्फ केंद्र सरकार की हरी झंडी का इंतजार है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2020, 3:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. दिल्‍ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के करीब 24 लाख लोगों की जिंदगी का हिस्‍सा बन चुकी दिल्‍ली मेट्रो (Delhi Metro) के पहिए एक बार रफ्तार पकड़ने वाले हैं. दिल्‍ली मेट्रो की तरह से अब यह साफ कर दिया गया है कि केंद्र सरकार (Central Government) से हरी झंडी मिलते ही मेट्रो का परिचालन शुरू कर द‍िया जाएगा. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचाव के लिए डीएमआरसी (DMRC) ने आवश्‍यक दिशा-निर्देश लागू करने की बात भी कही है. इन दिशा-निर्देशों को लेकर डीएमआरसी और दिल्‍ली मेट्रो की सुरक्षा संभाल रही सीआईएसएफ (CISF) ने एक एसओपी (SOP) भी तैयार की है. इस एसओपी की मदद से मेट्रो में यात्रियों की सुरक्षा के सभी प्रयास किए जाएंगे.

एक कोच में होंगे सिर्फ 50 यात्री
लॉकडाउन से पहले दिल्‍ली मेट्रो से रोजाना करीब 24 लाख मुसाफिर सफर कर रहे थे. ऐसे में सभी एजेंसियों को यह डर सता रहा था कि मेट्रो के शुरू होते ही कोरोना संक्रमण के मामलों में कहीं बढ़ोत्‍तरी न हो जाए. सूत्रों के अनुसार, केंद्र सरकार ने डीएमआरसी को निर्देश दिए है‍ कि मेट्रो के एक कोच में सिर्फ 50 यात्रियों की मौजूदगी सु‍निश्चित हो. ट्रेन के भीतर सोशल डिस्‍टेंसिंग को लेकर समुचित उपाय किए जाए. केंद्र सरकार के सुझावों को ध्‍यान में रखते हुए डीएमआरसी ने विस्‍तृत एसओपी तैयार की है. जिसमें बड़े और भीड़भाड वाले स्‍टेशनों पर क्राउड मैनेजमेंट को लेकर की गई तैयारियों का जिक्र किया गया है. इसके अलावा, कोरोना संक्रमण के लक्षण वाले किसी भी यात्री को स्‍टेशन में प्रवेश न देने के निर्देश दिए गए हैं.

स्‍मार्ट कार्ड से ही होगा मेट्रो का सफर !
सूत्रों के अनुसार, कोरोना संक्रमण को ध्‍यान में रखते हुए यह कोशिश की जा रही है कि डीएमआरसी स्‍टाफ का कम से कम मुसाफिरों के साथ संपर्क हो. लिहाजा, अब इस बात पर विचार चल रहा है कि मेट्रो में सिर्फ स्‍मार्ट कार्ड धारक मुसाफिरों को ही यात्रा की इजाजत दी जाए. मेट्रो स्‍टेशनों में टोकन की बिक्री पर प्रतिबंधित रखा जाए. इसी तरह, डीएमआरसी स्‍मार्ट कार्ड को रिचार्ज करने के लिए ऑन लाइन सिस्‍टम को बढ़ावा दे रहा है. इसी कोशिश के तहत, डीएमआरसी ने बीते दिनों स्‍मार्ट कार्ड के ‘ऑटो टॉपअप’ फीचर की शुरूआत भी की है. इस फीचर के तहत, आपके स्‍मार्ट कार्ड में जैसे ही राशि 100 रुपए से कम होगी, वह 200 रुपए से ऑटो टॉपअप हो जाएगा और यह राशि आपके बैंक एकाउंट से कट जाएगी.



कॉन्टैक्टलेस सिक्‍योरिटी चेक के लिए तैयार क‍िए एचएचएमडी.
कॉन्टैक्टलेस सिक्‍योरिटी चेक के लिए तैयार क‍िए एचएचएमडी.


अब कॉन्टैक्टलेस सिक्‍योरिटी चेक
सीआईएसएफ के सामने सबसे बड़ी चुनौती यह है कि वह मेट्रो परिसर की सुरक्षा के साथ-साथ अपने कर्मियों को कोरोना के संक्रमण से बचाए. इस चुनौती से निपटने के लिए सीआईएसएफ ने कॉन्टैक्टलेस सिक्‍योरिटी चेक की तैयारी की है. तैयारी के तहत, खास तरह से हैंड हेल्‍ड डिटेक्‍टर तैयार क‍िए गए हैं. जिससे समुचित दूरी रखते हुए मुसाफिरों की जांच की जा सके. सीआईएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि ज्‍यादातर मेट्रो स्‍टेशन के सिक्‍योरिटी प्‍वाइंट नॉन एयर कंडीशनर हैं, लिहाजा सीआईएसएफ के जवानों को पीपीई किट नहीं पहनाया जा सकता है. ऐसे में, उनके सामने अपने जवानों के स्‍वास्‍थ्‍य की सुरक्षा भी बड़ी चुनौती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज