होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /दिल्‍ली नगर निगम चुनाव परिणाम यूपी के बॉर्डर इलाकों के निकाय चुनाव के लिए हैं खास, जानें वजह

दिल्‍ली नगर निगम चुनाव परिणाम यूपी के बॉर्डर इलाकों के निकाय चुनाव के लिए हैं खास, जानें वजह

प्रमुख पार्टियों के कार्यकर्ता परिणाम का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं
. (News18)

प्रमुख पार्टियों के कार्यकर्ता परिणाम का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं . (News18)

दिल्‍ली नगर निगम चुनाव के परिणाम उत्‍तर प्रदेश के बॉर्डर इलाकों के लिए खास हैं. दिल्‍ली के अलावा उत्‍तर प्रदेश की प्रमु ...अधिक पढ़ें

नई दिल्‍ली. दिल्‍ली नगर निगम चुनाव के परिणाम उत्‍तर प्रदेश के बॉर्डर इलाकों के लिए खास हैं. दिल्‍ली के अलावा उत्‍तर प्रदेश की प्रमुख पार्टियों के कार्यकर्ता परिणाम का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. क्‍योंकि उत्‍तर प्रदेश में भी निकाय चुनाव होने वाले हैं. इसलिए दिल्‍ली के परिणाम उत्‍तर प्रदेश के बॉर्डर इलाकों में असर डाल सकते हैं. दिल्‍ली के निगम चुनाव के परिमाण कल आने वाले हैं.

उत्‍तर प्रदेश में निकाय चुनाव जल्‍द होने वाले हैं. सोमवार शाम को मेयर, पालिका अध्‍यक्ष और नगर पंचायत अध्‍यक्ष के आरक्षण की सूची जारी हो चुकी है. इसलिए संभावना व्‍यक्‍त की जा रही है कि जल्‍द ही अधिसूचना जारी हो सकती है और चुनाव प्रक्रिया शुरू हो सकती है.

इसलिए दिल्‍ली नगर निगम का परिणाम खास है

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

दिल्ली-एनसीआर
दिल्ली-एनसीआर

उत्‍तर प्रदेश के बॉर्डर इलाकों में रहने वाले लाखों लोग रोजाना दिल्‍ली काम जाते हैं. इनका ज्‍यादातर समय दिल्‍ली में बीतता है. ये लोग देर शाम या रात में घर पहुंचते हैं और सुबह फिर काम से दिल्‍ली निकल जाते हैं. दिल्‍ली का चुनाव परिणाम इन रोजाना जाने वाले लोगों पर असर डाल सकता है.

आप पूरे दमखम के साथ उतर सकती है मैदान पर

एग्जिट पोल के अनुसार दिल्‍ली नगर निगम में आप बहुमत से आ रही है. अगर एग्जिट पोल सही साबित होते हैं तो आप उत्‍तर प्रदेश के बार्डर इलाकों में अपने उम्‍मीदवार उतार सकती है और निगम चुनाव के बहाने से प्रदेश में उपस्थ‍िति दर्ज करा सकती है. इसलिए दिल्‍ली निगम चुनाव परिमाण उत्‍तर प्रदेश निकाय चुनाव में असर डाल सकते हैं.

गाजियाबाद की आरक्षण सूची

नगर निगम गाजियाबाद समेत जिले की चार नगर पालिकाओं और चार नगर पंचायतों के अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण की सूची जारी हो गई है. नगर निगम की मेयर सीट 16 साल बाद अनारक्षित हुई है. लोनी और खोड़ा नगर पालिका के अध्यक्ष पद ओबीसी, मोदीनगर का एससी और मुरादनगर पालिका का अध्यक्ष पद अनारक्षित श्रेणी में रखा गया है. वहीं, जिले की चार में से पतला नगर पंचायत का अध्यक्ष पद ओबीसी, निवाड़ी का ओबीसी महिला, फरीदनगर का अध्यक्ष पद महिला श्रेणी में आरक्षित किया गया है. डासना को अनारक्षित श्रेणी में रखा गया है.

Tags: Delhi MCD, Delhi MCD Election, Delhi MCD Election 2022, Mcd elections, गाजियाबाद

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें