DELHI-NCR: प्रदूषण के चलते से दो महीने से बंद हैं डेवलपमेंट वर्क, मजदूरों से भी छिना निवाला
Delhi-Ncr News in Hindi

DELHI-NCR: प्रदूषण के चलते से दो महीने से बंद हैं डेवलपमेंट वर्क, मजदूरों से भी छिना निवाला
प्रदूषण की वजह से दिल्ली—एनसीआर में विकास कार्यों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया है.

प्रदूषण की वजह से एनजीटी (NGT) ने दिल्ली एनसीआर (Delhi-Ncr) में खुले में निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी है, जिसकी वजह से साइबर सिटी गुरुग्राम (Gurugram) में हो रहे निर्माण कार्यों पर ब्रेक लग गया है. ऐसे में आम लोगों से जुड़े विकास कार्यों पर भी ब्रेक लग गया है और लोगों की मुसीबतें बढ़ गई हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
गुरुग्राम. दिल्ली एनसीआर (Delhi-NCR) में पिछले दो महीने से हुए प्रदूषण (Pollution) की वजह से विकास कार्यों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया है. बढ़ते प्रदूषण की वजह से एनजीटी (NGT) ने दिल्ली एनसीआर में खुले में निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी है, जिसकी वजह से साइबर सिटी गुरुग्राम में हो रहे निर्माण कार्यों पर ब्रेक लग गया है. ऐसे में आम लोगों से जुड़े विकास कार्यों पर भी ब्रेक लग गया है और लोगों की मुसीबतें बढ़ गई हैं. दिल्ली एनसीआर में बढ़ता प्रदूषण ना केवल इन इलाकों में रहने वाले लोगों की सांसों पर भारी पड़ रहा है बल्कि इसकी वजह से विकास कार्यों पर भी ग्रहण लग गया है. दिल्ली समेत हरियाणा में पिछले एक महीने में बढ़े प्रदूषण की वजह से चल रहे विकास कार्य बिल्कुल थम गए हैे जिसकी वजह से लोगों को अच्छी सुविधा पाने का इंतजार और बढ़ गया है.

30 सितंबर से निर्माण कार्य पर लगी हुई है रोक

हरियाणा की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले साइबर सिटी गुरुग्राम में इस वक्त कई अंडरपास और फ्लाइओवर का काम प्रदूषण की वजह से अटक गया है, क्योंकि निर्माण कार्यों से उड़ने वाली धूल भी प्रदूषण को बढ़ाने में मदद करती है इसीलिए 30 सितंबर से एनजीटी ने दिल्ली एनसीआर में निर्माण कार्यों पर रोक लगाई हुई है.



highway
दिल्ली एनसीआर में बढ़ता प्रदूषण ना केवल इन इलाकों में रहने वाले लोगों की सांसों पर भारी पड़ रहा है बल्कि इसकी वजह से विकास कार्यों पर भी ग्रहण लग गया है.




निर्माण कार्य बंद होने से मजदूर अपनं गांव को लौटे

एनएचएआई के प्रोजेक्ट हेड अशोक शर्मा ने कहा कि जिन विकास कार्यो को तय समय में पूरा होना था, उनको अब पूरा होने में और समय लग सकता है. उदाहरण के लिए दिल्ली—गुरुग्राम बॉर्डर पर बनने वाला अंडरपास, उद्योग विहार में हाइवे पर बन रहा यू-टर्न, सोहना रोड पर बन रहा एलिवेटेड फ्लाइओवर काम बिल्कुल रूका हुआ है, जिसकी वजह से कई रूट डायवर्ट किए हुए हैं जिनसे रोजाना सफर करने वालों की दिक्कतें बढ़ रही हैं और निर्माण कार्यों पर लगी रोक ने इनको और बढा दिया है. NHAI का मानना है कि एक महीने काम रुकने की वजह से मजदूर भी खाली हो गए हैं जिनमें से अधिकतर अपने गांव चले गए हैं और उनको वापिस लाना भी एक चुनौती बन गई है.

काम रूका रहा तो निर्माण कार्य की बढ़ सकती है लागत

निर्माण कार्यों पर एनजीटी के अगले आदेशों तक रोक लगी हुई है. तकरीबन एक महीने से तो काम रूके हुए हैं. ऐसे में अगर इन कार्यों को जल्द शुरू नहीं किया तो इनकी लागत भी बढ़ सकती है, जिनका बोझ जनता की जेब पर ही पड़ेगा.

यह भी पढ़ें: सोनीपत के वकीलों ने एक शख्स को जमकर पीटा, Video हुआ Viral

दिल्ली की युवती की पानीपत में मिली लाश, प्रेमी पति पर लगे हत्या के आरोप
First published: November 29, 2019, 3:53 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading