लाइव टीवी
Elec-widget

दिल्ली में फिर AQI पहुंचा 500, नोएडा-फरीदाबाद में भी बिगड़ रही स्थिति

News18Hindi
Updated: November 13, 2019, 8:52 AM IST
दिल्ली में फिर AQI पहुंचा 500, नोएडा-फरीदाबाद में भी बिगड़ रही स्थिति
बुधवार सुबह को धुंध का आलम यह रहा कि अक्षरधाम मंदिर भी ठीक से नजर नहीं आया. (ANI)

मौसम विभाग (IMD) के अनुसार बुधवार को दिल्ली (Delhi) में प्रदूषण (Pollution) का स्तर इमरजेंसी (Emergency) जोन में आ सकता है,

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2019, 8:52 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) निवासियों को लाख कोशिशों के बाद भी प्रदूषण (Pollution) से मुक्ति नहीं मिल पा रही है. हालात यह है कि स्मॉग (Smog) का कहर इस कदर है कि लोग सूरज के दर्शन करने को तरस गए हैं. ऑड-इवन (Odd-Even) हो, पराली जलाने पर रोक या फिर निर्माण को बंद करना सभी कोशिशें अब नाकाम होती नजर आ रही हैं. दिल्ली और नोएडा (Noida) में खासकर बढ़ता पॉल्यूशन अब लोगों को परेशान कर रहा है. बुधवार को दिल्ली के लोधी रोड पर पीएम 2.5 एयर क्वालिटी इंडेक्स में 500 का स्तर छू गया. यह बेहद गंभीर स्थिति है. वहीं मौसम विभाग (IMD) के अनुसार बुधवार को दिल्ली में प्रदूषण का स्तर इमरजेंसी जोन में आ सकता है.

नोएडा में भी हाल खराब
दिल्ली के साथ ही नोएडा और ग्रेटर नोएडा में भी हाल काफी खराब हैं. नोएडा के सेक्टर-62 में एक्यूआई 472 के स्तर पर पहुंच गया. वहीं, ग्रेटर नोएडा में यह स्तर 458 रिकॉर्ड किया गया. गौरतलब है कि कुछ ही दिनों पहले नोएडा का एयर क्वालिटी इंडेक्स 1500 के स्तर को पर कर गया था.


Loading...

फरीदाबाद भी चपेट में
पॉल्यूशन के बढ़ते स्तर ने फरीदाबाद को भी चपेट में ले लिया है. फरीदाबाद के सेक्टर-16 और उसके आस-पास के इलाकों में प्रदूषण का स्तर 441 रिकॉर्ड किया गया जो गंभीर स्थिति है. वहीं हरियाणा और पंजाब के इलाकों में पराली जलाने की घटनाओं पर रोक नहीं लग रही है, लगातार जलाई जा रही पराली के चलते प्रदूषण का स्तर दिनों दिन बढ़ता जा रहा है.



मौसम विज्ञानियों ने जताई है ‌चिंता
पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव माधवन राजीवन ने ट्वीट किया, 'पूर्वानुमान के मुताबिक हवा की गुणवत्ता 14 नवंबर तक बेहद गंभीर श्रेणी में पहुंचने की आशंका है.' मौसम विशेषज्ञों ने बताया कि न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 11.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केन्द्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि सर्दियों के आगाज के साथ ही, न्यूनतम तापमान में गिरावट से हवा में ठंडक बढ़ गई है और भारीपन आ गया है जिससे प्रदूषक तत्व जमीन के निकट जमा हो रहे हैं.



कितना एक्यूआई अच्छा
गौरतलब है कि वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई AQI) 0-50 के बीच ‘अच्छा’, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘मध्यम’, 201-300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘अत्यंत खराब’, 401-500 के बीच ‘गंभीर’ और 500 के पार ‘बेहद गंभीर एवं आपात’ माना जाता है. उन्होंने कहा कि पराली जलाए जाने से निकलने वाले धुएं के बढ़ने की आशंका है जिससे दिल्ली में अगले दो दिनों में हवा की गति में गिरावट आ सकती है.

ये भी पढ़ेंः आज 'इमरजेंसी' में पहुंच सकती है दिल्ली की हवा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 8:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com