• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Delhi Court Gangwar: AK-47 से लैस कमांडो से घिरे गोगी की तब एक वीडियो से बची थी जान, जानें पूरा मामला  

Delhi Court Gangwar: AK-47 से लैस कमांडो से घिरे गोगी की तब एक वीडियो से बची थी जान, जानें पूरा मामला  

दिल्ली पुलिस की स्वाट टीम के कमांडो ने गोगी को गुरुगाम से गिरफ्तार किया था.

दिल्ली पुलिस की स्वाट टीम के कमांडो ने गोगी को गुरुगाम से गिरफ्तार किया था.

गोगी (Gogi) पर 7 लाख तो उसके तीन साथियों पर कुल 3 लाख रुपये का इनाम था. गोगी और उसके साथियों से दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने बड़ी संख्या में हथियार भी बरामद किए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. डेढ़ साल पहले मार्च 2020 की एक सुबह गुरुग्राम (Gurugram) में दिल्ली पुलिस के एके-47 (AK-47) से लैस कमांडो ने गोगी को उसके तीन साथियों के साथ गिरफ्तार किया था. कमांडो से घिर चुके गोगी को ऐसी आशंका थी कि दिल्ली पुलिस उसका एनकाउंटर (Encounter) कर देगी. एनकाउंटर से बचने के लिए उसी वक्त गोगी ने अपने मोबाइल से एक वीडियो बनाया. वीडियो को तमाम सोशल मीडिया (Social Media) साइट्स पर डाल दिया. कहा जाता है कि इसी वीडियो (Video) के बाद दिल्ली पुलिस के कमांडो ने गोगी और उसके तीन साथियों को जिंदा गिरफ्तार किया था. उस वक्त गोगी पर 7 लाख तो उसके तीन साथियों पर कुल 3 लाख रुपये का इनाम था. गोगी और उसके साथियों से दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने बड़ी संख्या में हथियार भी बरामद किए थे.

2 मार्च की रात दिल्ली पुलिस को एक मुखबिर से खबर मिलती है कि आतंक का एक चेहरा जितेन्द्र गोगी गुरुगाम के एक पॉश अपार्टमेंट में छिपा हुआ है. उसके साथ उसके कुछ साथी भी हैं. इसके बाद पॉश अपार्टमेंट की सुरक्षा को देखते हुए दिल्ली पुलिस के स्वाट कमांडो की टीम बुलाई गई. सभी कमांडो एके-47 से लैस थे. गोगी को पकड़ने के लिए पुलिस ने सुबह 4 बजे का वक्त चुना. जिस फ्लैट में गोगी छिपा हुआ था उस और टावर को दिल्ली पुलिस और कमांडो ने चारों तरफ से घेर लिया.

उसके बाद सरेंडर करने के लिए गोगी को ललकारा गया. इस पर गोगी को लगा कि आज दिल्ली पुलिस उसका एनकाउंटर कर देगी. इसे देखते हुए गोगी ने फौरन ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया. वीडियो में गोगी ने खुद को और अपने तीन साथियों को दिखाते हुए कहा कि हम पुलिस से घिरे हुए हैं. हम सरेंडर करना चाहते हैं. हमारे पास कोई हथियार भी नहीं है. लेकिन पुलिस हमारा एनकाउंटर करना चाहती है. हम इस वक्त एक फ्लैट में बंद हैं.

Noida News: यात्रियों को लेने-छोड़ने घर और ऑफिस तक आएगी मेट्रो रेल की बस!, जानिए क्या है प्लान

…मुम्बई के गैंगवार ट्रेंड पर चल निकली है दिल्ली

कुछ समय पहले तक गैंग्स और गैंगवार की खबरें मुम्बई से सुनने को मिलती थी. लेकिन अब शायद दिल्ली भी मुम्बई की तर्ज पर चल निकली है. रिटायर्ड पुलिस अफसरों का मानना है कि रोहिणी कोर्ट में हुई गैंगवार की घटना कोई पहली नहीं है. इससे पहले द्वारका इलाके में मेट्रो स्टेशन के पास गैंगवार हुई थी. 10 से ज्यादा गिरोह ने दिल्ली को अपना डेरा बना लिया है. आए दिन ये गिरोह धाक जमाने के चलते आमने-सामने टकराते रहते हैं.

2017 में तो ये गैंग 6 बार आमने-सामने आकर एक-दूसरे के खून के प्यासे बन चुके हैं. 2018 में भी रवि भारद्वाज को गोगी गैंग ने 15 गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया था. मंजीत महल को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. दिल्ली में जोगिदंर जोगी गैंग और सुनील उर्फ टिल्लू गैंग की आपसी दुश्मनी से दिल्ली पुलिस भी अनजान नहीं थी. कई बार ये गिरोह आपस में टकरा चुके हैं. आपसी रंजिश के चलते ही दोनों गैंग के कई लोग मारे जा चुके हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज