दिल्ली पुलिस-वकील विवाद: जिला अदालतों में वकील आज भी रहे हड़ताल पर, कामकाज ठप
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली पुलिस-वकील विवाद: जिला अदालतों में वकील आज भी रहे हड़ताल पर, कामकाज ठप
वकीलों और दिल्ली पुलिस के जवानों के बीच बीते दो नवंबर को पार्किंग को लेकर हुए विवाद में जमकर हिंसा हुई थी.

झड़प की घटना को लेकर दिल्ली की जिला अदालतों में प्रैक्टिस करने वाले वकील बीते चार नवंबर से हड़ताल पर हैं. वो झगड़े के दौरान वकीलों पर गोली चलाने वाले आरोपी पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2019, 6:30 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) की तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court) में वकीलों (Lawyers) और दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के बीच शुरू हुए विवाद का अंत होता नहीं दिख रहा है. वकीलों द्वारा गोली चलाने वाले पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कामकाज का बहिष्कार बुधवार को भी जारी रहा. दिल्ली की जिला अदालतों (District Courts) के वकीलों ने बुधवार को भी कामकाज का बहिष्कार किया. ऑल डिस्ट्रिक्ट कोर्ट बार एसोसिएशन की समन्वय समिति के महासचिव धीर सिंह कसाना के मुताबिक, 'सभी जिला अदालतों के वकील आने वाले समय में पटियाला हाउस से इंडिया गेट तक मार्च कर सकते हैं.'




दिल्ली के जिला अदालतों में 10 दिन से हड़ताल पर हैं वकील

कसाना ने कहा, ‘हमारे सहयोग के बावजूद, वकीलों पर गोली चलाने वाले पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए. इसलिए दिल्ली की सभी जिला अदालतों में पूरी तरह कार्य बहिष्कार जारी रहेगा. हमारी मांग थी कि वकीलों पर गोली चलाने वाले पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया जाए. पुलिस अधिकारियों ने इसका विरोध किया, इसलिए हम काम का बहिष्कार कर रहे हैं. ऑल डिस्ट्रिक्ट कोर्ट एसोसिएशन के सदस्यों, दिल्ली पुलिस के प्रतिनिधियों और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच बैठक में भी कोई समाधान नहीं निकल सका, जिसके चलते यह हड़ताल जारी रही.'



Delhi police, protest, delhi police headquarter, lawyer, tees hazari court, whatsapp, social media, video viral, दिल्ली पुलिस, विरोध प्रदर्शन, दिल्ली पुलिस मुख्यालय, वकील, टीज़ हज़ारी कोर्ट, व्हाट्सएप, सोशल मीडिया, वीडियो वायरल,
दो नवंबर को हुए टकराव में कम से कम 20 पुलिसकर्मी और कई वकील घायल हुए थे (फाइल फोटो)


बता दें कि शनिवार दो नवंबर को हुए हिंसक झड़प में कम से कम 20 पुलिसकर्मी और कई वकील घायल हुए थे. इस झड़प के बाद कई वाहनों में आग लगा दी गई थी. पुलिस और वकीलों के बीच झड़प के दौरान फायरिंग भी हुई. इस फायरिंग में एक वकील को गोली लगी थी. इसके विरोध में छह जिला अदालतों के वकील चार नवंबर से हड़ताल पर हैं. वहीं दिल्ली पुलिस के विरोध प्रदर्शन में उसके हजारों कर्मियों ने पांच नवंबर को 11 घंटे के लिए पुलिस मुख्यालय के बाहर घेराबंदी की थी. यह घेराबंदी अपने सहयोगियों पर वकीलों के कथित दो हमलों के विरोध में थी.

Inside Story: तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच ऐसे शुरू हुई थी झड़प! inside story of clash between Cops and Lawyers At Tis Hazari Court delhi
झड़प के बाद खड़ी हुई गाड़ी में आग लगा दी


2 नवंबर को पुलिस और वकीलों में झड़प हुई थी

दरअसल, तीस हजारी कोर्ट परिसर में वकीलों द्वारा मोबाइल प्रयोग के मसले पर पुलिस के साथ कुछ कहासुनी हो गई. इसके बाद तीस हजारी कोर्ट के लॉकअप के बाहर वकीलों और पुलिसवालों में झगड़ा और मारपीट शुरू हो गई. वकील का कहना था कि दिल्ली पुलिस ने एक वकील को रोका और कहा कि लॉकअप के सामने गाड़ी क्यों लाया? फिर वकील को पीटा और जब वकीलों ने विरोध किया तो गोली मार दी.

ये भी पढ़ें: 

महाराष्ट्र में सत्ता के लिए संग्राम: जानें कब-कब लगा है राष्ट्रपति शासन
First published: November 13, 2019, 5:36 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading