अपना शहर चुनें

States

किसानों के उग्र आंदोलन के दौरान पुलिस के धैर्य और अनुशासन बरतने की तारीफ की दिल्ली पुलिस आयुक्त ने

दिल्ली पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि पुलिसकर्मियों के पास बल प्रयोग का विकल्प था लेकिन उन्होंने धैर्य का परिचय दिया.( फाइल फोटो)
दिल्ली पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि पुलिसकर्मियों के पास बल प्रयोग का विकल्प था लेकिन उन्होंने धैर्य का परिचय दिया.( फाइल फोटो)

दिल्ली पुलिस के आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने अपने संदेश में बताया कि किसान आंदोलन में हुई हिंसा में पुलिस के 394 साथी घायल हुए हैं. उन्होंने बताया कि कुछ का इलाज अभी भी चल रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 26 जनवरी (26 January) को अराजक हुए किसानों की ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) के दौरान दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के जवानों ने जिस सहनशीलता और धैर्य का परिचय दिया उसके लिए दिल्ली पुलिस के आयुक्त (Delhi Police Commissioner) एसएन श्रीवास्तव (SN Srivastava) ने उनका शुक्रिया अदा किया है. उन्होंने पुलिसकर्मियों के नाम जारी संदेश में बताया कि इस दौरान दिल्ली पुलिस के 394 जवान घायल हुए हैं. कुछ का इलाज अब भी चल रहा है.

पुलिसकर्मियों के नाम दिल्ली पुलिस आयुक्त का संदेश

दिल्ली पुलिस के आयुक्त ने दिल्ली पुलिस के समस्त कर्मियों के नाम लिखे अपने संदेश में कहा कि 26 जनवरी को किसान आंदोलन के उग्र व हिंसक हो जाने पर भी आपने अत्यंत संयम और सूझबूझ का परिचय दिया है. यद्यपि हमारे पास बल प्रयोग का विकल्प मौजूद था, परंतु हमने सूझबूझ का परिचय दिया. आपके इस आचरण से दिल्ली पुलिस इस चुनौतीपूर्ण आंदोलन से निपट पाई. हम सब इस प्रकार की चुनौतियों का सामना करने के लिए आए हैं. आपकी मेहनत और कार्य कुशलता से ही किसान आंदोलन की चुनौती का हम डट कर मुकाबला कर पाए हैं.




394 पुलिसकर्मी घायल हुए

दिल्ली पुलिस के आयुक्त ने अपने संदेश में बताया कि किसान आंदोलन में हुई हिंसा में पुलिस के 394 साथी घायल हुए हैं. उन्होंने बताया कि कुछ का इलाज अभी भी चल रहा है. आयुक्त के मुताबिक, उन्होंने खुद कुछ घायल साथियों से अस्पताल में पहुंचकर उनका हालचाल जाना. सबको बेहतर उपचार मिल रहा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस उनके अच्छे स्वास्थ्य और उपचार के लिए प्रतिबद्ध है. आयुक्त का मानना है कि आगे आने वाले कुछ दिन अभी पुलिस के लिए काफी चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं. पुलिस को सचेत रहने की जरूरत है.

आपका शुक्रिया

उन्होंने दिल्ली पुलिस के जवानों को संदेश दिया कि हमसब को अपना धैर्य और अनुशासन बनाए रखना है. मैं आपको संयम और धैर्य के लिए धन्यवाद देता हूं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज