अपना शहर चुनें

States

किसानों को पुलिस कमिश्नर की चेतावनी, ट्रैक्‍टर रैली में रूल तोड़े तो एक्शन लेने में पीछे नहीं हटेंगे

26 जनवरी को किसान ट्रैक्‍टर रैली निकालने वाले हैं. (फाइल फोटो)
26 जनवरी को किसान ट्रैक्‍टर रैली निकालने वाले हैं. (फाइल फोटो)

Kisan Tractor Rally : दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने मुकरबा चौक पर जाकर स्थिति का जायजा भी लिया. पुलिस कमिश्नर के साथ दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी भी उनके साथ शामिल रहे. पुलिस की ओर से ट्रैक्टर रैली को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने की फुलप्रूफ तैयारी की है. रैली को लेकर तैयार किये गये रोड मैप पर पुलिस कमिश्नर ने अफसरों के साथ ब्रीफिंग भी की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 10:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के अवसर पर कल किसान संगठनों की ओर से कृषि कानूनों (New Farm Laws) के खिलाफ किसान ट्रैक्टर रैली (Kisan Tractor Rally) निकाली जाएगी. इसको लेकर किसान संगठनों और दिल्ली पुलिस (Delhi POlice) के बीच आम सहमति पहले ही बन चुकी है. कल रविवार को दिल्ली पुलिस ने किसान संगठनों को निर्धारित तीन रूटों पर ट्रैक्टर ट्रेक्टर रैली निकालने की अनुमति दे दी थी. इसको लेकर दिल्ली पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों की ओर से कड़े सुरक्षा इंतजामों भी किये गये हैं. आज दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने मुकरबा चौक पर जाकर स्थिति का जायजा भी लिया.

पुलिस कमिश्नर के साथ दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी भी उनके साथ शामिल रहे. पुलिस की ओर से ट्रैक्टर रैली को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने की फुलप्रूफ तैयारी की है. रैली को लेकर तैयार किये गये रोड मैप पर पुलिस कमिश्नर ने अफसरों के साथ ब्रीफिंग भी की.





इस बीच देखा जाए तो दिल्ली पुलिस की ओर से ट्रैक्टर रैली को लेकर पूरी मैपिंग की है. किसान संगठनों को सिर्फ तय तीन रूटों सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर पर ही करीब तय किए गए करीब 100 किलोमीटर के दायरे में ही इसको निकालने की अनुमति दी गई है. इन सभी रूटों पर दिल्ली पुलिस की ओर से लगाए गए बैरिकेट्स को हटाकर एक निर्धारित किलोमीटर में किसानों को ट्रैक्टर रैली निकालने की अनुमति होगी.
दिल्ली पुलिस कमिश्नर की ओर से यह भी बताया गया है कि किसान रैली का फायदा उठाने को लेकर भी कुछ इनपुट्स मिले हैं. असामाजिक तत्व चाहते हैं कि इस रैली का फायदा उठाकर भड़काने का काम किया जाए. लेकिन दिल्ली पुलिस और दूसरी खुफिया एजेंसियां इस पर पूरी तरीके से नजर बनाए हुए हैं. हम इस तरह के मंसूबों को पूरा नहीं होने देंगे.

उन्होंने एक सवाल के जवाब में भी यह भी बताया कि हमें उम्मीद है कि किसान मार्च तय रूटों पर ही इसको निकालेंगे. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगर किसानों की ओर से अपना वादा तोड़ा जाता है या रूल तोड़ने का काम किया जाएगा तो दिल्ली पुलिस एक्शन लेने में भी पीछे नहीं हटेगी. हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि किसान रैली एक अनुशासन और अनुमति के तहत ही निकाली जाएगी.

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि दिल्ली पुलिस के वॉलिंटियर के अलावा दूसरी अन्य सुरक्षा एजेंसियों को भी रैली में व्यवस्था को बनाए रखने को लेकर तैनात किया गया है. इसमें कमांडो से लेकर दूसरे पैरामिलिट्री फोर्सेज भी इसमें लगाए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज