दिल्ली: कोरोना पॉजिटिव कॉन्स्टेबल ने खोली क्‍वारंटाइन सेंटर की पोल, प्रशासन ने दी ये सफाई

सेंट्रल दिल्ली जिला इलाके में महीने के आखिरी दिनों में 'पुलिस ऑफ द मंथ' (Police Of The Month) का चुनाव किया जाएगा. इसमें चयनित जवान का पोस्टर शानदार तरीके से प्रदर्शित किया जाएगा,
सेंट्रल दिल्ली जिला इलाके में महीने के आखिरी दिनों में 'पुलिस ऑफ द मंथ' (Police Of The Month) का चुनाव किया जाएगा. इसमें चयनित जवान का पोस्टर शानदार तरीके से प्रदर्शित किया जाएगा,

कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद दिल्ली के नजफगढ़ स्थित चौधरी ब्रह्मप्रकाश अस्पताल में क्‍वारंटाइन किए गए दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के एक कॉन्स्टेबल का वीडियो वायरल हो रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2020, 10:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद दिल्ली के नजफगढ़ स्थित चौधरी ब्रह्मप्रकाश अस्पताल में क्‍वारंटाइन किए गए दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के एक कॉन्स्टेबल का वीडियो वायरल हो रहा है. वह तिलक नगर की तिलक विहार पुलिस चौकी में तैनात था. कॉन्स्टेबल ने मंगलवार को एक वीडियो जारी कर सरकारी दावों की पोल खोल दी. वीडियो में वह नजफगढ़ के अस्पताल के हालात को बयां करते हुए कहा, 'एक ही टॉयलेट 20 लोग इस्तेमाल कर रहे हैं. कोई सैनिटाइजर नहीं मिला है. बुखार होने पर दवाई मांगने पर नहीं मिलती. गर्म पानी नहीं मिलता. चादरें नहीं बदली जाती हैं. तकिया गंदे हैं. मेरे परिवार के लोगों के भी टेस्ट नहीं हुए हैं. हमारी मदद की जाए.'

प्रशासन का दावा, अस्पताल में कोई कमी नहीं
इस मामले पर प्रशासन ने सफाई दी है. साउथ वेस्ट जिले के डीएम राहुल ने कहा कि इस अस्पताल में कोई कमी नहीं है. इन कॉन्स्टेबल के बारे में कल से शिकायत मिल रही है. ये अलग से एसी रूम की भी डिमांड कर रहे थे. हम कोरोना के पॉजिटिव मरीजों को अलग-अलग कमरों में रखते हैं. जिन मरीजों में लक्षण नजर आते हैं, उन लोगों को अलग रखा गया है. वैसे भी उन्होंने  टॉयलेट को गंदा नहीं बोला है. साफ-सफाई का ध्यान रखा जा रहा है. हमने पॉजिटिव और निगेटिव को एक साथ नहीं रखा है. खाना और दवाई ना मिलने की शिकायत पर हमने वहां से रिपोर्ट मांगी है. लेकिन ऐसी कोई गड़बड़ी नजर नहीं आई है. अगर फिर भी किसी को कुछ गड़बड़ी लगती भी है तो हम आपको पीपीई किट पहनाकर पूरा वार्ड दिखा सकते हैं. हमने पूरी अच्छी व्यवस्था कर रखी है.





डीएम के मुताबिक कॉन्स्टेबल की शिकायत ये भी थी कि उसकी पत्नी और बच्चों का टेस्ट नहीं किया गया है. उनके आवास पर एक मेडिकल टीम भेजी गई है और परीक्षण किया जाएगा. इसके बाद कॉन्स्टेबल ने भी सुविधा मिलने की बात ही है.

ये भी पढ़ें-

नोएडा में दिल्‍ली का डॉक्टर मिला Corona Positive, स्काईटेक सोसायटी सील

Coronavirus के बढ़ते मामलों पर रखी जा रही है कड़ी नजर- सत्येंद्र जैन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज