• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • OMG! पहले सोशल मीडिया पर विदेशी बनकर महिलाओं से दोस्ती, फिर महंगे गिफ्ट का लालच देकर ठगते थे शातिर

OMG! पहले सोशल मीडिया पर विदेशी बनकर महिलाओं से दोस्ती, फिर महंगे गिफ्ट का लालच देकर ठगते थे शातिर

साइबर ठगी के मामले में दिल्‍ली पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

साइबर ठगी के मामले में दिल्‍ली पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

Delhi Crime News: दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने विदेशी नाम से फेसबुक (Facebook) और इंस्टाग्राम पर फेक प्रोफाइल बनाकर महिलाओं से ठगी करने के मामले में दो शातिर अपराधियों को गिरफ्तार किया है. दोनों शातिर उत्‍तर प्रदेश के बरेली के रहने वाले हैं. जबकि पुलिस इनके फरार चल रहे दो साथियों की तलाश भी कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्‍ली. राजधानी दिल्‍ली में साइबर ठगी का अनोखा मामला सामने आया है. दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) की साइबर सेल टीम (Cyber Cell Team) ने आउटर जिले से सोशल मीडिया पर विदेशी नाम से फेक प्रोफाइल बनाकर महिलाओं से ठगी (Fraud) करने के मामले में दो शातिर अपराधियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, दोनों उत्‍तर प्रदेश के बरेली के अलग-अलग गांव के रहने वाले हैं.

    दिल्‍ली पुलिस के मुताबिक, ये दोनों शातिर साइबर ठग फेसबुक और इंस्टाग्राम पर पहले महिलाओं को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते थे और फिर चैटिंग करके नजदीकी बनाते. इस दौरान यह खुद को अमरिका या यूरोपीय देश का नागरिक बताते थे. फिर महंगे गिफ्ट का लालच देते थे. इसके बाद गिफ्ट क्लियरेंस के बहाने से वसूली ठगी को अंजाम देते थे. ये दोनों यूपी बरेली के रहने वाले हैं, जिनके नाम दामोदर और रहमत खान हैं.

    ऐसे पुलिस को लगी ठगों की भनक
    हाल ही में (24 अगस्‍त) दिल्‍ली की एक युवती ने रानी बाग पुलिस थाने में साइबर ठगी का मामला दर्ज कराया था. इस दौरान पुलिस ने जांच की तो वह हैरान रह गई. दरअसल, ब्रिटेन का जेम्स बनकर युवती को ठगने वाला आरोपी यूपी के बरेली का निकाला. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार करने के साथ आरोपियों का एक बैंक खाता भी सील किया है, जो किसी अन्य के नाम पर था. जबकि पुलिस गैंग के दो अन्य सदस्य रियासत और सोमपाल की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

    शराब लाइसेंस की नीलामी में दिल्‍ली सरकार की बल्‍ले-बल्‍ले, एयरपोर्ट जोन में हुई पैसों की तगड़ी बारिश

    पहले चैटिंग और फिर गिफ्ट के नाम पर ठगी
    पुलिस की पूछताछ में खुलासा हुआ है कि पहले आरोपी सोशल मीडिया पर फेक नामों और विदेशी नागरिकों का बायाडोटा निकालकर नकली प्रोफाइल बनाते थे. इसके बाद युवतियों की प्रोफाइल देखकर उनसे चैटिंग किया करते थे. जब दोनों के बीच नजदीकी बढ़ जाती थी, तब आरोपी पीड़ित को महंगा गिफ्ट भेजने के जाल में फंसाते थे. युवती की शिकायत के मुताबिक, आरोपी ने उसको कुछ दिन पहले कहा था कि वह एक उपहार भेज रहा है, जिसमें बीस हजार डॉलर भी रखे हैं. गिफ्ट लेने के लिए थोड़ी सी कस्टम ड्यूटी देनी होगी. इस वजह से युवती ठगों के झांसे में आ गई. फिर एक दिन जेम्‍स ने गिफ्ट क्लियरेंस के नाम पर 60 हजार रुपये मांगे और युवती ने रुपये जमा कर दिए. इसके बाद आरोपी ने फोन करके कहा कि उसे पैसे नहीं मिले हैं, लिहाजा दोबारा भेज दें. इसके बाद युवती ने आनकानी शुरू कर दी तो ओरापी बार-बार फोन करने लगा.

    ड्रग माफिया तैमूर खान उर्फ भोला चढ़ा क्राइम ब्रांच के हत्‍थे, 8 साल से फरार शातिर के नाम पर बच्‍चे खेलते हैं गेम

    वहीं, पुलिस पहले से ही मामले की जांच में जुटी थी, लिहाजा उसने मेसेज, फोन नंबर और बैंक खाते की जानकारी हासिल कर आरोपियों को दबोच लिया. पुलिस को जांच में पता चला कि आरोपियों के अकाउंट में 30 लाख से ज्यादा की रकम देश के अलग-अलग इलाकों से ट्रांसफर हुई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज