होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

तिहाड़ में बंद गैंगस्टर की थी हत्या की योजना, पुलिस ने फेल किया बदमाशों का प्लान

तिहाड़ में बंद गैंगस्टर की थी हत्या की योजना, पुलिस ने फेल किया बदमाशों का प्लान

तिहाड जेल में बन्द गैंगस्टर को पेशी के दौरान उड़ाने की योजना थी

तिहाड जेल में बन्द गैंगस्टर को पेशी के दौरान उड़ाने की योजना थी

दिल्ली के द्वारका में बीती रात स्पेशल सेल की टीम और दिल्ली के दो गैंगस्टर के बीच मुठभेड़ हो गई. जवाबी कार्रवाई में बदमाश राहुल जाट घायल हो गया. पुलिस ने दो हथियार और कारतूस मौके से बरामद किये हैं

    दिल्ली में वर्चस्व के लिए गैंगस्टरों के बीच मुठभेड़ अब आम हो गई है. ऐसी ही एक योजना को कल देर रात दिल्ली पुलिस ने विफल किया. दिल्ली के द्वारका में बीती रात स्पेशल सेल की टीम और दिल्ली के दो गैंगस्टर के बीच मुठभेड़ हो गई. दरअसल स्पेशल सेल की जनकपुरी स्थिति टीम को सूचना मिली थी की रंजीत नगर के दो बदमाश राहुल जाट और राहुल द्वारका इलाके में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने आने वाले हैं. पुलिस ने इन दोनों को रोकने की कोशिश की तो बदमाशों ने फायरिंग कर दी, पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक बदमाश घायल हो गया.

    स्पेशल सेल की फायरिंग में घायल हुआ बदमाश

    स्पेशल सेल को सूचना मिली थी कि बदमाश राहुल जाट और राहुल द्वारका इलाके में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने आने वाले हैं. मौके पर पहुंचकर इंस्पेक्टर संजीव यादव, इंस्पेक्टर संजीव मान और एसीपी संजय दत्त की टीम ने राहुल जाट और राहुल को रोकने की कोशिश की तो बदमाशों ने स्पेशल सेल की टीम पर फायरिंग कर दी. चूंकि सेल की टीम ने बुलेट प्रूफ जैकेट पहन रखी थी इसलिए किसी को नुकसान नही हुआ. जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने बदमाशों पर फायरिंग की जिसमे राहुल जाट घायल हो गया. पुलिस ने दो हथियार और कारतूस मौके से बरामद किये हैं

    घायल राहुल जाट | Rahul jat got wounded in polioce firing
    पुलिस एनकाउंटर में घायल बदमाश राहुल जाट


    रुतबा दिखाने फायरिंग भी की थी
    डीसीपी संजीव कुमार यादव के मुताबिक राहुल जाट पर लूट के कई मामले दर्ज है. हाल में इन्होंने तिहाड़ जेल में बन्द  गैंगस्टर आशु को मारने का प्लान बनाया था.और इसके लिए बकायदा पहले 27 जून 2019 को अपना रुतबा दिखाने के लिए इन्होंने आशु के रंजीत नगर के घर जाकर पहले फायरिंग की. हालांकि स्थानीय पुलिस ने इस मामले में बदमाशों के खिलाफ कोई भी मामला दर्ज नहीं किया.

    ऐसे बनाया था मारने का प्लान
    राहुल और राहुल जाट को ये बात पता थी कि आशु 8 जुलाई को पेशी पर तीस हजारी कोर्ट में पेश होने आने वाला है, इन दोनों ने कोर्ट में ही मारने की योजना बनाई थी. दरअसल राहुल जाट दिल्ली के एक कुख्यात गैंगस्टर परवेज मान की गैंग में शामिल होने वाला था. परवेज मान आउटर जिले का बदमाश है, जो फिलहाल पेरोल पर बाहर आया था. इसी दौरान परबेज और राहुल जाट की मुलाकात हुई थी. इसी मुलाकात में इन दोनों ने आशु को ठिकाने लगाने का प्लान बनाया था, जो दिल्ली पुलिस की सूझबूझ और सतर्कता से विफल हो गया.

    Tags: Delhi news, Delhi police, Encounter, Tihar jail

    अगली ख़बर