• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • किसान आंदोलन में हुए उपद्रव के मामले में दिल्ली पुलिस ने दर्ज की 44 FIR, 122 लोग गिरफ्तार

किसान आंदोलन में हुए उपद्रव के मामले में दिल्ली पुलिस ने दर्ज की 44 FIR, 122 लोग गिरफ्तार

किसान आंदोलन के दौरान हुये उपद्रव में अब तक दिल्ली पुलिस ने 44 एफआईआर दर्ज की है.

किसान आंदोलन के दौरान हुये उपद्रव में अब तक दिल्ली पुलिस ने 44 एफआईआर दर्ज की है.

किसान आंदोलन (Farmer Agitation) के दौरान दिल्ली में हुये उपद्रव के मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने अब तक 44 एफआईआर (FIR) दर्ज की है. पुलिस (Police) ने अब तक इस मामले में 122 लोगों को गिरफ्तार किया है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. किसान आंदोलन के दौरान 26 जनवरी को हुए उपद्रव को लेकर दिल्ली पुलिस ने 44 एफआईआर (FIR) दर्ज की है. अब तक पुलिस ने इस मामले में 122 लोगों को गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस की पीआरओ ईशा सिंघल ने बताया कि दिल्ली पुलिस ने इसके बारे में अपनी वेबसाइट पर भी जानकारी दी है. इसे कोई भी देख सकता है. पुलिस ने किसी को भी अवैध रूप से हिरासत में नहीं लिया है.

    26 जनवरी को लाल किले में किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसक घटनाओं के बाद दिल्ली पुलिस विशेष सतर्कता बरत रही है. गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलनकारी किसानों पर नजर रखने के लिए पुलिस ड्रोन कैमरे का इस्‍तेमाल कर रही है. किसानों ने 2 फरवरी को दिल्ली से लगी उन तीनों सीमाओं पर रिकार्ड भीड़ जुटाने का दावा किया है, जहां पर किसान धरना दे रहे हैं.

    मऊः BJP और करणी सेना के नेताओं ने सपा के प्रदेश सचिव को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

    किसानों के 2 फरवरी के धरने को देखते हुये केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली से सटी विभिन्न राज्यों की सीमाओं पर एक बार फिर से इंटरनेट सेवाओं पर पाबंदी की अवधि बढ़ा दी है. गृह मंत्रालय के आदेश के तहत सिंघू, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर पर तत्काल प्रभाव से अस्थाई रूप से इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई है. अब 2 फरवरी यानी मंगलवार रात 11 बजे तक इन इलाकों में इंटरनेट सेवा बंद रहेगी.

    कल जुट सकती है किसानों की रिकार्ड भीड़

    दिल्ली की सीमा पर कल पंजाब- हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान भारी संख्या में जुटेंगे. इसके बारे में पहले ही किसान नेता ऐलान कर चुके हैं. किसानों के इस धरने को लेकर दिल्ली पुलिस भी तैयार दिखाई दे रही है. इस बार आंदोलन के दौरान किसी भी प्रकार की हिंसा ना हो इसके लिए इंटेलिजेंस को भी सतर्क कर दिया गया है. 26 जनवरी को लाल किले में हुए उपद्रव के बाद कई किसान संगठनों ने आंदोलन को खत्म कर दिया था. लेकिन राकेश टिकैत की भावुक अपील के बाद किसान आंदोलन फिर से खड़ा हो गया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन