• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Operation Milap: गूगल मैपिंग व जिप नेट से लापता लड़कियाें को ढूंढा, नौकरी की तलाश में पहुंच गई थीं अमृतसर

Operation Milap: गूगल मैपिंग व जिप नेट से लापता लड़कियाें को ढूंढा, नौकरी की तलाश में पहुंच गई थीं अमृतसर

दिल्ली पुलिस के साउथ ईस्ट जिला पुलिस की ऑपरेशन मिलाप टीम ने अब ऐसी दो लड़कियों को उनके परिजनों से मिलाया है जोकि 19 जुलाई से लापता थीं. 

दिल्ली पुलिस के साउथ ईस्ट जिला पुलिस की ऑपरेशन मिलाप टीम ने अब ऐसी दो लड़कियों को उनके परिजनों से मिलाया है जोकि 19 जुलाई से लापता थीं. 

Delhi Police Operation Milap:गूगल मैपिंग और जोनल इंटीग्रेटेड पुलिस नेटवर्क की मदद से ऑपरेशन मिलाप टीम ने श्रीनगर एयरपोर्ट के पास दो में से एक लापता लड़की के मोबाइल नंबर का पता लगाया. टीम मौके पर पहुंची तो उनकी मोबाइल लोकेशन अमृतसर, पंजाब में तब्दील हो गयी. तुरंत, टीम पंजाब के लिए रवाना हो गई. टीम ने अमृतसर से लड़कियों का सुरक्षित पता लगाने में सफलता हासिल की.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली में आए दिन लापता बच्चों की संख्या बढ़ रही है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) भी इन बच्चों की तलाश में पुरजोर कोशिश में जुटी रहती है. दिल्ली पुलिस के साउथ ईस्ट जिला पुलिस की ऑपरेशन मिलाप (Operation Milap) टीम ने अब ऐसी दो लड़कियों को उनके परिजनों से मिलाया है जोकि 19 जुलाई से लापता थीं.

    इन दोनों लापता लड़कियों को ऑपरेशन मिलाप टीम ने अमृतसर से ढूंढ निकाला है दोनों की उम्र 15 साल और दोनों लड़कियां नाबालिक है जिनकी उम्र 15 और 17 साल है.

    साउथ ईस्ट जिला डीसीपी आरपी मीणा ने बताया किलापता बच्चों के मामलों में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए एक समर्पित टीम बनाई गई जिसमें एएसआई सतेंद्र, एएसआई लायक अली, महिला प्रधान सिपाही  रीना,  सिपाही मनीष, सिपाही सज्जन व सिपाही मनोज शामिल थे. एसएचओ/सरिता विहार के नेतृत्व में टीम ने दो लापता लड़कियों का पता लगाया और उन्हें उनके परिवार से पुन: मिला दिया.

    ये भी पढ़ें : 1000 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दिल्ली की अदालत ने चीनी नागरिक को दी सशर्त जमानत

    डीसीपी के मुताबिक 19 जुलाई को थाना सरिता विहार में क्रमश: 15 वर्ष एवं 17 वर्ष की दो बालिकाओं के गुम होने की शिकायत प्राप्त हुई थी. थाना सरिता विहार में प्राथमिकी संख्या 264/2021 धारा 363 आईपीसी दर्ज की गई और लापता लड़कियों की तलाश शुरू की गई.

    टीम ने कार्य के संचालन में गुप्त मुखबिरों को शामिल किया. पास में लगे कैमरों के सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण किया गया और लापता लड़कियों के मोबाइल नंबरों की निगरानी की गई. कई संदिग्ध व्यक्तियों के संपर्क नंबरों पर भी नजर रखी गई. आखिर गूगल मैपिंग (Goggle Mapping) और जोनल इंटीग्रेटेड पुलिस नेटवर्क (ZIP Net) की मदद से टीम ने श्रीनगर एयरपोर्ट (Srinagar Airport) के पास एक लापता लड़की के मोबाइल नंबर का पता लगाया. टीम मौके पर पहुंची.

    ये भी पढ़ें : Indian Railways: इस रूट पर और तेज रफ्तार से दौड़ेगी ट्रेन, रेलवे ने LHB कोच से लैस की ट्रेन

    इस बीच, उनकी मोबाइल लोकेशन अमृतसर, पंजाब में तब्दील हो गयी. तुरंत, टीम पंजाब के लिए रवाना हो गई. टीम को आखिर सफलता हाथ लगी. टीम ने पूरी कोशिश करने के बाद पंजाब के अमृतसर से लड़कियों का सुरक्षित पता लगाने में सफलता हासिल की. जांच करने पर, लड़कियों ने खुलासा किया कि वे गरीब पृष्ठभूमि के कारण अपने मूल स्थान को छोड़कर निजी नौकरी की तलाश में श्रीनगर और फिर अमृतसर चली गईं थीं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज