मुश्किल में मौलाना साद, ED और IT के बाद CBI भी कसने जा रही शिकंजा

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग को भी मौलाना साद के खिलाफ काफी जानकारियां दी थीं.  (File Photo)
इससे पहले दिल्ली पुलिस ने प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग को भी मौलाना साद के खिलाफ काफी जानकारियां दी थीं. (File Photo)

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद और मरकज से जुड़ी सभी जानकारियां सीबीआई (CBI) को सौंपी, माना जा रहा है कि आने वाले समय में सीबीआई भी मामला दर्ज कर साद के खिलाफ जांच शूरू कर सकती है.

  • Share this:
नई दिल्ली. निजामुद्दीन स्थित मरकज में लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान तबलीगी जमात का आयोजन करवा चर्चा में आए मौलाना साद की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग के बाद अब सीबीआई भी मौलाना साद पर शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है. सीबीआई के अधिकारियों के अनुसार जांच के लिए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मरकज के मामले से जुड़ी मौलाना साद की सभी जानकारियां उनके साथ साझा की हैं. साथ ही हवाला कनेक्‍शन और विदेश से आने वाले रुपयों के बारे में भी अहम जानकारियां दी गई हैं.

ईडी ने दर्ज किया है मनी लॉड्रिंग का मामला
इससे पहले दिल्ली पुलिस ने प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग को भी मौलाना साद के खिलाफ काफी जानकारियां दी थीं. ईडी ने मौलाना साद और मरकज पर मनी लॉड्रिंग का भी मामला दर्ज कर रखा है. ऐसे में अब साफ है कि आने वाले दिनों में मौलाना साद की मुश्किलें कम होने की जगह तेजी से बढ़ेंगी क्योंकि ईडी, आईटी और अब सीबीआई ने मौलाना साद और मरकज की जांच शुरू कर दी है. आने वाले समय में सीबीआई भी मामला दर्ज कर सकती है.

एनआईए जांच की भी मांग
मौलाना साद के खिलाफ एनआईए जांच की भी मांग की गई है. इसको लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका भी दायर है. इस याचिका पर गरुवार को सुनवाई होनी थी लेकिन फिलहाल वह टल गई है. अब मामले की सुनवाई 18 जून को होगी. जानकारी के अनुसार मामले से जुड़े एक वकील का अन्य मामला सुप्रीम कोर्ट में आज लगा था, जिसके कारण वो हाई कोर्ट की सुनवाई में शामिल नहीं हो पाया और कोर्ट ने आगे की तारीख दे दी.



बता दें कि याचिकाकर्ता घनश्याम उपाध्याय ने मौलाना साद के खिलाफ एनआईए जांच की मांग की है. याचिका में कहा है कि केस की जांच दिल्ली पुलिस से एनआईए को ट्रांसफर कर दिया जाए. याचिकाकर्ता के वकील 'यश चतुर्वेदी ने बताया कि मौलाना साद मामले में सुनवाई आज टल गई है. क्योंकि एक वकील सुप्रीम कोर्ट के केस में फंस गया था, जिसके कारण हाई कोर्ट में सुनवाई टल गई है. मामले में अब 18 जून को ​सुनवाई होगी.'

आतंकी गतिविधियों की आशंका
दिल्ली के निजामुद्दिन के मरकज में इस साल मार्च महीने में बड़ी सभा का आयोजन किया गया था. बताया जा रहा है कि नियमों का उल्लंघन यहां कोरोना फैलने की आंशका के बीच भी हजारों लोग इकट्ठा हुए, जिसके चलते देशभर में सैंकड़ों लोगों में कोरोना का संक्रमण फैला. मरकज में शामिल होने वाले 20 देशों के 80 विदेशी नागरिकों के खिलाफ वीजा नियमों के उल्लंघन का मामला भी दर्ज किया गया है. मिली जानकारी के मुताबिक मरकज के मुखिया मौलाना साद पर आंतकी संगठनों से सांठगांठ व टेरर फंडिंग के आरोप लगे हैं. इसके चलते ही मामले की जांच एनआईए से कराने से संबंधित याचिका हाई कोर्ट में दाखिल की गई है. फिलहाल दिल्ली की क्राइम ब्रांच पुलिस मामले में जांच कर रही है.

ये भी पढ़ेंः तब्लीगी जमात के मुखिया मौलाना साद के खिलाफ NIA जांच की मांग पर सुनवाई टली, अब 18 जून का इंतजार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज