कुख्यात बदमाश को गिरफ्तार करवा कर फिर सुर्खियों में आई ये लेडी सिंघम कांस्टेबल, किराना स्टोर मालिक भी गिरफ्तार

मंगोलपुरी थाने में तैनात महिला कांस्टेबल ने कुख्यात बदमाश को पकड़ने में फिर सफलता हासिल की है.

मंगोलपुरी थाने में तैनात महिला कांस्टेबल ने कुख्यात बदमाश को पकड़ने में फिर सफलता हासिल की है.

Delhi Crime: मंगोलपुरी थाना पुलिस की महिला कांस्टेबल झपटमारों और बदमाशों के लिए कहर बनी हुई है. मंगोलपुरी थाने में तैनात इस लेडी सिंघम (महिला कांस्टेबल) नीरज ने एक ऐसे कुख्यात बदमाश को पकड़ने में फिर सफलता हासिल की है जोकि दिसंबर, 2020 से जमानत पर बाहर रह कर झपटमारी और स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम दे रहा था.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के आउटर जिला के मंगोलपुरी थाना पुलिस की महिला कांस्टेबल झपटमारों और बदमाशों के लिए कहर बनी हुई है. मंगोलपुरी थाने में तैनात इस लेडी सिंघम (महिला कांस्टेबल) नीरज ने एक ऐसे कुख्यात बदमाश को पकड़ने में फिर सफलता हासिल की है जोकि दिसंबर, 2020 से जमानत पर बाहर रह कर झपटमारी और स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम दे रहा था.

महिला कांस्टेबल की मेहनत से ना केवल आरोपी पकड़ा गया है बल्कि चोरी का माल खरीदने वाला किराना दुकानदार भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया है. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है.

बताते‌ चलें कि कांस्टेबल नीरज ने कुछ दिन पहले भी एक कुख्यात बदमाश को पकड़ा था. पकड़े गए आरोपियों की पहचान रवि उर्फ मोटा और देवानंद के रूप में हुई है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि ऐसी महिला पुलिसकर्मियों पर पुलिस परिवार को गर्व है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पिछले महीने 29 मई के दिन बुजुर्ग महिला सुधामा देवी की उनके घर के बाहर से ही बदमाश ने सोने की चेन लूट ली थी. आरोपी पैदल फरार हो गये थे.
एसएचओ मुकेश कुमार की देखरेख में पुलिस टीम को आरोपी को पकड़ने का जिम्मा सौंपा गया जिसमें महिला कांस्टेबल नीरज भी शामिल थी. पुलिस टीम वारदात के रूट पर लगे 50 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाल चुकी थी. कई संदिग्धों से भी पूछताछ कर चुकी थी.

दूसरी तरफ कांस्टेबल नीरज भी अपने मुखबीर की सहायता से आरोपी तक पहुंचने की कोशिश कर रही थी. कई संदिग्धों के पीछे अपने मुखबीर को लगाया हुआ था. बुजुर्ग महिला द्वारा बताए आरोपी के चेहरे जैसे कई युवकों के बारे में गहन जांच भी की.

इस बीच उनके मुखबीर ने आरोपी रवि के बारे में बताया जिसको टीम की सहायता से इलाके से ही दबोच लिया. जिससे गहन पूछताछ करने के बाद सोने की चेन खरीदने वाले देवानंद को भी इलाके से गिरफ्तार कर लिया.



आरोपी देवानंद किराना की दुकान चलाया करता है, जिसने आरोपी रवि से सोने की चेन को 5 हजार रुपये में खरीदा था. रवि मंगोलपुरी पुलिस का हिस्ट्री शीटर है. वह 15 से ज्यादा वारदातों में शामिल रहा है. दिसम्बर, 2020 में वह जमानत पर बाहर आया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज