लाइव टीवी

गार्गी कॉलेज यौन उत्पीड़न मामला: 3 फुटेज पर टिकी दिल्ली पुलिस की जांच

News18Hindi
Updated: February 12, 2020, 7:32 PM IST
गार्गी कॉलेज यौन उत्पीड़न मामला: 3 फुटेज पर टिकी दिल्ली पुलिस की जांच
गार्गी कॉलेज (फाइल फोटो).

गार्गी कॉलेज यौन उत्पीड़न मामले (Gargi College Sexual Harassment Case) में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने बुधवार को बताया कि कुल 23 सीसीटीवी के फुटेज की जांच की गई है, जिनमें से तीन फुटेज का फोकस जमीन पर है, जहां उत्सव चल रहा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2020, 7:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. गार्गी कॉलेज यौन उत्पीड़न मामले (Gargi College Sexual Harassment Case) में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने बुधवार को बताया कि कुल 23 सीसीटीवी की फुटेज की जांच की गई है, जिनमें से तीन फुटेज का फोकस जमीन पर है, जहां उत्सव चल रहा था. इन्हीं तीन फुटेज पर पुलिस की जांच टिक गई है. प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि कॉलेज के अधिकारियों ने पुलिस को फेस्ट के बारे में सूचित नहीं किया था, कॉलेज ने यहीं गलती कर दी थी. आगे की जांच जारी है.




दिल्ली विश्वविद्यालय के गार्गी कॉलेज में हाल ही में हुई यौन उत्पीड़न की इस घटना की केंद्रीय जांच ब्यूरो से जांच कराने की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है. छात्राओं ने बाहरी लोगों द्वारा गार्गी कॉलेज में जबरन घुसकर यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है.

यह है मामला
दिल्ली (Delhi) में गार्गी कॉलेज (Gargi College) की छात्राओं के लिए कॉलेज का एक फेस्टिवल तब बुरा सपना बन गया, जब सैकड़ों पुरुषों की भीड़ ने कैंपस में ऊंची दीवार पर लगाई गई बाड़ को फांदकर परिसर में प्रवेश किया और कथित तौर पर छात्राओं का सामूहिक रूप से यौन उत्पीड़न किया. पीड़िता छात्राओं ने शिकायतों की झड़ी लगा दी, लेकिन कॉलेज प्रशासन की ओर से कार्रवाई करने से इनकार करने पर छात्राओं ने हंगामा खड़ा कर दिया. वनस्पति विज्ञान की एक छात्रा ने बताया, ‘राजनीति विज्ञान विभाग की छात्राओं ने बताया कि ज्यादातर मध्यम आयु वर्ग के पुरुषों ने फेस्‍ट के दौरान अश्लील हरकतें कीं. फेस्ट में मौजूद कॉलेज की सभी छात्राएं डरी हुई थीं.'

छात्राओं ने सोमवार को निकाला विरोध मार्च
छात्राओं ने छेड़छाड़ के भयानक अनुभवों को सोशल मीडिया पर साझा किया और ‘रेवेरी’ फेस्टिवल की रात को छात्रों की सुरक्षा के प्रति प्रशासन के उदासीन रवैये की आलोचना की. छात्राओं ने सोमवार को विरोध मार्च भी निकाला.

ये भी पढ़ें - 

MP में भीड़ की हिंसा में घायल चार किसानों को एक-एक लाख का मुआवजा

नहीं बदलेगी अरविंद केजरीवाल कैबिनेट, सभी पुराने मंत्री ही होंगे रिपीट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 6:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर