Home /News /delhi-ncr /

तबलीगी जमात: जांच में मिले कई अहम सुराग, दिल्‍ली पुलिस बोली- वक्‍त आने पर करेंगे खुलासा

तबलीगी जमात: जांच में मिले कई अहम सुराग, दिल्‍ली पुलिस बोली- वक्‍त आने पर करेंगे खुलासा

इंस्टिट्यूटशनल क्वारंटाइन में रह रहे 65 विदेशी जमातियों ने जगह बदलने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंस्टिट्यूटशनल क्वारंटाइन में रह रहे 65 विदेशी जमातियों ने जगह बदलने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) का कहना है कि बहुत सारी अहम जानकारियां निकलकर सामने आई हैं. अभी उन्हें गोपनीय (Confidential) रखा गया है. वक्त आने पर जल्द ही उनका खुलासा कर दिया जाएगा.

नई दिल्ली. तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद पर शिकंजा कसता जा रह है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के सीनियर अफसरों का कहना है कि मौलाना साद (Maulana Saad), तबलीगी जमात के मरकज़ और बाकी आरोपियों से जुड़ी जांच की अलग-अलग फाइल तैयार की जा रही है. पुलिस का फोकस मनीट्रेल, मरकज़ में आए लोगों की भूमिका और हवाला कनेक्शन की जांच पर है. दिल्‍ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि विदेशी चंदे की जांच और मरकज़ के कामकाज की हर बारीक से बारीक जानकारी की तफ्तीश की जा रही है. मरकज़ से जुड़े हर एक बैंक अकाउंट पर भी हमारी निगाह है. बहुत सारी अहम जानकारियां निकलकर सामने आई हैं. अभी उन्हें गोपनीय रखा गया है. पुलिस अधिकारियों ने वक्त आने पर जल्द ही उनका खुलासा करने की बात कही है.

मरकज़ नहीं दे पाया है सवालों के जवाब
दिल्ली पुलिस के अफसरों का कहना है कि मरकज़ ट्रस्ट अभी तक हमारे बहुत से सवालों के जवाब नहीं नहीं दे पाया है. इस बारे में मौलाना साद से भी जरूर पूछताछ होगी, लेकिन समय आने पर. पहले हम उनके तमाम बेटों बाकी आरोपियों से तसल्ली से पूछताछ कर तफ्तीश पूरी होने का इंतज़ार कर रहे हैं.

इसके बाद मौलाना साद का नंबर भी आएगा. साथ ही यह भी जानकारी में आया है कि पड़ोसी राज्यों की पुलिस जिस तरह मरकज़ से जुड़े आरोपियों की जांच कर रही है, ऐसे में अगर उन्हें हमसे मरकज़ ट्रस्ट और मौलाना साद से जुड़ी तफ्तीश पर कोई मदद की जरूरत पड़ेगी तो हम पूरा सहयोग करेंगे. दूसरी ओर दिल्ली पुलिस ने यह भी खुलासा किया है कि मरकज़ केस में दिल्ली पुलिस ने जमात और मरकज़ से जुड़े जिन लोगों पर एफआईआर दर्ज की है उन्हें देश से बाहर किसी भी सूरत में नहीं जाने दिया जाएगा.

चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली आते-जाते थे विदेशी जमाती
निजामुद्दीन मरकज़ मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को जमातियों से जुड़ी एक अहम जानकारी मिली है. मरकज़ से जुड़े कुछ विदेशियों का चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली आना-जाना था. मार्च में कोरोना का संक्रमण फैलने पर भी कुछ विदेशी जमाती चार्टर्ड प्लेन से अपने देश लौटे थे. यह जानकारी मिलते ही क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद पर शिकंजा और कस दिया है. चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली आने-जाने वाले विदेशी जमातियों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

दूसरी ओर मौलाना साद के बेटे सईद से कुछ कागज़ात भी मांगे गए हैं. जमातियों के आने-जाने और रुकने से जुड़े कागज़ात की मांग क्राइम ब्रांच ने की है. वहीं, जल्द से जल्द मौलाना साद का कोरोना टेस्ट किसी सरकारी अस्पताल एम्स और आरएमएल में कराने की सलाह दी है.

ये भी पढ़ें-

जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी के सुपर-30 में अब ऑनलाइन भी तैयार होंगे IAS-IPS

तब्लीगी मरकज़: चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली आते थे विदेशी जमाती! मौलाना साद पर और कसा शिकंजा

Tags: Crime Branch, Delhi police, Markaz, Tablighi Jamaat

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर