दिल्ली पुलिस ने Fabiflu बांटने पर MP गौतम गंभीर से मांगा जवाब तो बोले- सेवा करता रहूंगा

दिल्ली पुलिस ने फैबिफ्लू दवा वितरण पर भाजपा सांसद गौतम गंभीर से मांगा जवाब, गंभी बोले- सेवा करता रहूंगा.

दिल्ली पुलिस ने फैबिफ्लू दवा वितरण पर भाजपा सांसद गौतम गंभीर से मांगा जवाब, गंभी बोले- सेवा करता रहूंगा.

पुलिस ने कांग्रेस नेता श्रीनिवास से पूछताछ के साथ गौतम गंभीर से फैबिफ्लू दवा के वितरण को लेकर जवाब मांगा. इस पर भाजपा सांसद गंभीर ने कहा है कि हमने सारी जानकारियां दे दी हैं. वह दिल्ली के लोगों की हमेशा सेवा करते रहेंगे.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोराना पीडि़तों की करने और उनको दवाएं उपलब्ध कराए जाने के मामलों में दिल्ली पुलिस ने बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ( Gautam Gambhir ) से भी जवाब मांगा है. पुलिस ने गौतम गंभीर से फैबिफ्लू ( Fabiflu) दवा के वितरण को लेकर जवाब मांगा. इस पर पूर्वी दिल्ली से सांसद गंभीर ने कहा है कि हमने सारी जानकारियां दे दी हैं. वह दिल्ली के लोगों की हमेशा सेवा करते रहेंगे. इस मामले पर गौतम गंभीर ने ट्वीट करते हुए कहा, विपक्ष को उचित प्रक्रिया पर बेवजह राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए. दिल्ली पुलिस ने हमसे जवाब मांगा है और हमने सभी डिटेल दे दिए. मैं अपनी पूरी क्षमता से हमेशा दिल्ली और उसके लोगों की सेवा करता रहूंगा.

कोरोना पीडि़तों की मदद किए जाने के दौरान दवाएं और मेडिकल उपकरण को लेकर शुक्रवार को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने इंडियन यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी से पूछताछ की. क्राइम ब्रांच की टीम शुक्रवार को यूथ कांग्रेस के दफ्तर पहुंची थी. यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास से करीब आधे घंटे तक कई सवाल पूछे, इसके जरिये क्राइम ब्रांच ने यह जानने की कोशिश की कि यूथ कांग्रेस के नेता कैसे लोगों की मदद कर रहे हैं. यानि कि इसके लिए चिकित्सा उपकरण कहां से इक_ा किये जा रहे हैं. इसके अलावा इंजेक्शन-दवाएं भी कहां से ला रहे हैं. यूथ कांग्रेस के प्रमुख बीवी श्रीनिवास कहते हैं ने एजेंसी से कहा कि ''वे जानना चाहते थे कि हम लोगों की मदद कैसे कर रहे हैं. हमने उनके सभी सवालों के जवाब दिए.''

इस मामले में केवल श्रीनिवासन ही नहीं, बल्कि कई अन्य लोगों से भी इस तरह पूछताछ की जा रही है. हाल में ही पुलिस ने आम आदमी पार्टी के विधायक दिलीप पांडे से भी सम्पर्क किया था. वहीं दिल्ली बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता हरीश खुराना से भी पुलिस पूछताछ कर चुकी है.इस पर कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, मोदी जी ने राजधर्म नहीं निभाया लेकिन रेड धर्म नहीं भूले. लोगों की मदद करने वालों को परेशान करने के लिए पुलिस का दुरुपयोग कर रहे हैं. निर्लज्जता और संवेदनहीनता का दूसरा उदाहरण नहीं मिलता. युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास पर छापा मार कर मोदी जी ने शर्मनाक उदाहरण पेश किया है.

श्रीनिवास से पूछताछ को लेकर एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने बताया कि दिल्ली हाई कोर्ट ने कोविड-19 के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाओं और अन्य सामग्रियों के वितरण में शामिल नेताओं से दिल्ली पुलिस को पूछताछ करने और अपराध के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने को कहा था. अधिकारी ने बताया कि हाई कोर्ट के निर्देशों की तामील करते हुए कई लोगों के खिलाफ जांच की जा रही है. हाई कोर्ट ने चार मई को पुलिस को राष्ट्रीय राजधानी में नेताओं द्वारा रेमडेसिविर दवा हासिल करने और इसे कोविड-19 मरीजों को वितरित करने के मामलों की पड़ताल करने और अपराध के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए कदम उठाने को कहा था.
दिल्ली पुलिस ने युवा कांग्रेस अध्यक्ष से किए सवाल तो भडक़ी कांग्रेस

युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास के घर दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम पहुंची. श्रीनिवास ने बताया कि दिल्ली पुलिस ने उनसे कई सवाल किए कि संकट काल में उन्होंने लोगों की मदद कैसे की. श्रीनिवास ने बताया कि दिल्ली पुलिस के सभी सवालों के जवाब दे दिए गए. हालांकि इस पर कांग्रेस पार्टी ने पलटवार किया है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस पर ट्वीट कर लिखा कि मदद करने वाले साथियों और युवा कांग्रेस अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास को दिल्ली पुलिस भेज कोरोना के मरीज़ों की मदद से रोकना, मोदी सरकार का भयावह चेहरा है, ऐसी घृणित बदले की कार्यवाही से न हम डरेंगे, न हमारा जज्बा टूटेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज