Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    दिल्ली पुलिस ने जब्त किए 600 किलो पटाखे, बिना लाइसेंस बेच रहे सात लोग गिरफ्तार

    कोविड-19 के केस और बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली में सात नवंबर से 30 नवंबर तक पटाखों की खरीद और बिक्री पर रोक है (फाइल फोटो)
    कोविड-19 के केस और बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली में सात नवंबर से 30 नवंबर तक पटाखों की खरीद और बिक्री पर रोक है (फाइल फोटो)

    दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के अतिरिक्त पीआरओ (PRO) अनिल मित्तल ने कहा, 'पुलिस ने 593.224 किलो पटाखे बरामद कर सात लोगों को गिरफ्तार किया है. अब तक पटाखे फोड़ने वालों के खिलाफ आठ मामले दर्ज किए गए है और एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार किए गए व्यक्ति के पास से एक किलो आतिशबाजी बरामद की गई थी'

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 9, 2020, 1:40 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस ने पटाखों की अवैध बिक्री (Crackers Sale) के खिलाफ कार्रवाई करते हुए सात लोगों को गिरफ्तार कर बिना लाइसेंस बेचे जा रहे 600 किलोग्राम से अधिक पटाखे जब्त किए हैं. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी. बता दें कि दिवाली से पहले दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने कोविड-19 (Covid-19) की स्थिति और चिकित्सीय कारणों से बीते गुरुवार को हरित पटाखों सहित सभी प्रकार के पटाखों पर 30 नवंबर तक के लिए प्रतिबंध (Ban) लगा दिया है. सरकार ने त्योहारों और प्रदूषण को शहर में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के लिए जिम्मेदार बताया है.

    पुलिस ने कहा कि रविवार तक शहर में अवैध रूप से पटाखे बेचने के लिए सात लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए थे. दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त पीआरओ अनिल मित्तल ने कहा, 'पुलिस ने 593.224 किलो पटाखे बरामद कर सात लोगों को गिरफ्तार किया है. अब तक पटाखे फोड़ने वालों के खिलाफ आठ मामले दर्ज किए गए है और एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार किए गए व्यक्ति के पास से एक किलो आतिशबाजी बरामद की गई थी.'





    दिल्ली में 7 से 30 नवंबर तक पटाखे की खरीद-बिक्री पर प्रतिबंध
    बता दें कि गुरुवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वास्थ्य विभाग और राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ दिल्ली के सभी जिलाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी. मीटिंग में सीएम केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली में कोविड-19 के केस के साथ प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ रहा है. कोरोना काल के दौरान प्रदूषण का बढ़ना लोगों के स्वास्थ्य के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है. बैठक में अन्य फैसलों के अलावा दिल्ली में पटाखे जलाने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई थी.

    कोरोना वायरस और बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली में सात से लेकर 30 नवंबर तक पूरी तरह से रोक लगा दी गई है. इस अवधि के दौरान पटाखों को बेचने, खरीदने और जलाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा. (भाषा से इनपुट)
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज