Assembly Banner 2021

दिल्‍ली के स्‍कूलों में परीक्षा के लिए बच्‍चों के पेरेंट्स से मांगी जा रही कोविड-एनओसी, विरोध शुरू

दिल्‍ली के स्‍कूलों में वार्षिक‍ परीक्षाओं के लिए बच्‍चों के अभिभावकों से कोविड एनओसी मांगी जा रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

दिल्‍ली के स्‍कूलों में वार्षिक‍ परीक्षाओं के लिए बच्‍चों के अभिभावकों से कोविड एनओसी मांगी जा रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

दिल्‍ली पेरेंट्स एसोसिएशन की अध्‍यक्ष अपराजिता गौतम ने स्‍कूलों द्वारा अभिभावकों से मांगे जा रहे नो ऑब्‍जेक्‍शन सर्टिफिकेट की कॉपी शेयर करते हुए दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल से कदम उठाने की मांग की है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. राजधानी में कोरोना मामलों (Corona Cases) में आई कमी के बाद स्‍कूल खुलने के साथ ही ऑफलाइन परीक्षाएं (Offline Exam) करने की भी तैयारी की जा रही है. मार्च-अप्रैल में होने वाली नवीं और 11वीं की वार्षिक परीक्षाओं (Annual Exams) के लिए अभिभावकों (Parents) से एनओसी (NOC) भी मांगी जा रही है जिसे लेकर अभिभावक विरोध जता रहे हैं.

दिल्‍ली पेरेंट्स एसोसिएशन की अध्‍यक्ष अपराजिता गौतम ने स्‍कूलों की ओर से अभिभावकों को भेजे जा रहे  कोविड नो ऑब्‍जेक्‍शन सर्टिफिकेट (Covid NOC) की कॉपी शेयर करते हुए दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल से कदम उठाने की मांग की है. अपराजिता ने बताया कि स्‍कूलों की ओर से अभिभावकों को एनओसी पर हस्‍ताक्षर करने के लिए दवाब बनाया जा रहा है.

उन्‍होंने कहा कि एनओसी में स्‍पष्‍ट लिखा है कि माता-पिता इस बात को लेकर रजामंदी दें क‍ि स्‍कूल में परीक्षा देने आए उनके बच्‍चे को अगर कोविड संक्रमण (Covid Infection) होता है तो उसकी जिम्‍मेदारी स्‍कूल की नहीं होगी. इसके साथ ही बच्‍चे को परीक्षा के लिए स्‍कूल भेजने पर भी उन्‍हें कोई आपत्ति नहीं है. साथ ही बच्‍चे को सर्दी-खांसी-जुकाम, बुखार जैसी कोई परेशानी नहीं है.



अपराजिता कहती हैं कि दिल्‍ली के लगभग सभी प्राइवेट स्‍कूल ऐसी एनओसी पर साइन करवा रहे हैं. जबकि कई स्‍कूलों में हाल ही में बच्‍चों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं. इसे लेकर दिल्‍ली के उप-राज्‍यपाल अनिल बैजल, मुख्‍यमंत्री केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) सहित एनसीपीसीआर और मानवाधिकार आयोग में भी शिकायत की जा चुकी है लेकिन स्‍कूलों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज