होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

Delhi Rain: नोएडा-गुरुग्राम में स्कूल बंद, WFH की सलाह; दिल्ली-NCR में आफत बनकर आई बारिश

Delhi Rain: नोएडा-गुरुग्राम में स्कूल बंद, WFH की सलाह; दिल्ली-NCR में आफत बनकर आई बारिश

Delhi Rain: दिल्ली-एनसीआर में भारी बारिश की वजह से सड़कों पर पानी का सैलाब आ गया.

Delhi Rain: दिल्ली-एनसीआर में भारी बारिश की वजह से सड़कों पर पानी का सैलाब आ गया.

Delhi Rain Weather Updates: भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की मानें तो आज भी दिल्ली-एनसीआर में बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है और छिट-पुट स्थानों पर भारी बारिश को लेकर चेतावनी जारी की. मौसम विभाग की मानें तो बादलों का एक समूह दिल्ली की ओर बढ़ रहा है, जिससे अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. इससे दिल्ली के कुछ हिस्सों और एनसीआर के आसपास के इलाकों में अगले तीन-चार घंटे में तीव्र बारिश होने की उम्मीद है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18India
  • Last Updated :

नई दिल्ली: नोएडा, गुरुग्राम समेत दिल्ली-एनसीआर में भारी बारिश एक बार फिर से आफत बनकर आई है. दिल्ली-एनसीआर में गुरुवार को भारी बारिश देखने को मिली, जिसकी वजह से चारों तरफ सड़कों पर पानी का सैलाब आ गया. दिल्ली-एनसीआर में दो दिनों से जारी बारिश के बीच गुरुवार को राजधानी की रफ्तार पर ब्रेक लग गया और जगह-जगह जलभराव की समस्या देखने को मिली. इतना ही नहीं, गुरुग्राम से लेकर नोएडा में भी यातायात थम गया और सड़कों पर घुटने तक पानी भर गया. भारी बारिश का असर अब यह हुआ है कि प्रशासन को स्कूल बंद करने के निर्देश देने पड़े हैं. गाजियाबाद, नोएडा-गुरुग्राम में जहां बारिश की वजह से स्कूलों को बंद करने का निर्देश जारी किया गया है, वहीं गुरुग्राम में कर्मचारियों को घर से काम करने की सलाह दी गई है.

नोएडा-ग्रेटर नोएडा में 8वीं तक स्कूल बंद
दरअसल, बारिश के कारण नोएडा और ग्रेटर नोएडा में आठवीं कक्षा तक के सभी सरकारी व निजी स्कूल शुक्रवार को बंद रहेंगे. जिला विद्यालय निरीक्षक धर्मवीर सिंह ने बताया कि मौसम विभाग ने क्षेत्र में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है, जिसके बाद जिलाधिकारी सुहास एल. वाई ने स्कूल बंद करने का आदेश जारी किया. आदेश के मुताबिक, 23 सितंबर को जिले में कक्षा 1 से 8 तक के सभी स्कूल बंद रहेंगे. बता दें कि उत्तर प्रदेश और गौतम बुद्ध नगर समेत राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के कुछ हिस्सों में बृहस्पतिवार और उससे पहले भारी बारिश हुई है.

स्कूल बंद और वर्क फ्रॉम होम की सलाह
वहीं, दिल्ली से सटे गुरुग्राम में भारी बारिश के बाद कई हिस्सों में पानी भर गया, जिससे सड़कों पर जाम लग गया. गुरुग्राम में आज यानी शुक्रवार को भारी बारिश की आशंका के मद्देनजर सभी कॉरपोरेट ऑफिस और प्राइवेट संस्थानों के कर्मचारियों को घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) करने की सलाह दी गई है और निजी शिक्षण संस्थानों में अवकाश की सलाह दी गई है. इतना ही नहीं, गुरुग्राम में भी 1 से आठ तक के स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया है. इसके अलावा, पुलिस ने कहा कि गुरुग्राम में लोगों से आवश्यक कार्य होने पर ही घर से बाहर निकलने की अपील की है. बता दें कि लगातार हो रही भारी बारिश की वजह से कुछ जगहों पर जलभराव है और यातायात भी प्रभावित हुआ है.

आज भी है बारिश की संभावना
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की मानें तो आज भी दिल्ली-एनसीआर में बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने येलो अलर्ट’ जारी किया है और छिट-पुट स्थानों पर भारी बारिश को लेकर चेतावनी जारी की. मौसम विभाग की मानें तो बादलों का एक समूह दिल्ली की ओर बढ़ रहा है, जिससे अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. इससे दिल्ली के कुछ हिस्सों और एनसीआर के आसपास के इलाकों में अगले तीन-चार घंटे में तीव्र बारिश होने की उम्मीद है.

गाजियाबाद में भी स्कूल बंद
भारी बारिश की वजह से गाजियाबाद में भी स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी हुआ है. मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है कि गाजियाबाद में आज यानी 23 सितंबर को भारी बारिश की आशंका है. ऐसे में डीएम ने कक्षा 1 से 8 तक के स्कूल की छुट्टी घोषित कर दी है और उन्होंने कहा कि एहतियात के तौर पर स्कूलों को बंद रखा जाएगा.

कहां कितनी बारिश हुई
मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली विश्वविद्यालय, जफरपुर, नजफगढ़, पूसा व मयूर विहार में क्रमश: 16.5 मिमी, 18 मिमी, 29 मिमी, 24.5 मिमी और 25.5 मिमी बारिश हुई है. सफदरजंग वेधशाला ने सितंबर में अब तक (बृहस्पतिवार सुबह तक) 58.5 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की है जबकि सामान्य स्तर 108.5 मिलीमीटर है. उत्तर पश्चिम भारत में अनुकूल मौसम प्रणाली नहीं रहने के कारण अगस्त में 41.6 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई जो करीब 14 वर्षों में सबसे कम है. (इनपुट एएनआई और पीटीआई)

Tags: Delhi Rain, Rain in Delhi NCR

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर