COVID-19 : संक्रमण के मामले में देशभर में तीसरे नंबर पर दिल्ली, टेस्ट कराने में फिसड्डी
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID-19 : संक्रमण के मामले में देशभर में तीसरे नंबर पर दिल्ली, टेस्ट कराने में फिसड्डी
जांच में फिसड्डी दिल्ली. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

देशभर में कोरोना के जितने मामले हैं, उसमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली और गुजरात (Gujarat) इन चार प्रदेशों के संक्रमण के 65% मामले हैं. पहले और दूसरे नंबर पर रहने वाले महाराष्ट्र और तमिलनाडु टेस्ट करने के मामले में भी पहले और दूसरे नंबर पर हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप से पूरी दुनिया जूझ रही है. कोरोना के मामलों में दुनियाभर में भारत (India) का चौथा स्थान है. हर जगह एक बात पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है और वह है टेस्ट. हालांकि भारत में रोजाना डेढ़ लाख से ऊपर टेस्ट हो रहे हैं, लेकिन आबादी के लिहाज से अब भी टेस्ट की संख्या बढ़ाने की बात चल रही है.

अगर हम राज्यों के हिसाब से देखें तो कोरोना वायरस के मामलों में दिल्ली तीसरे नंबर पर है, जबकि टेस्टिंग के लिहाज से 10वें नंबर पर. वहीं, सबसे ज्यादा केस वाला महाराष्ट्र (Maharashtra), टेस्टिंग में सबसे अव्वल है और संक्रमण के मामलों को लेकर दूसरे नंबर पर रहने वाले तमिलनाडु (Tamil Nadu) की टेस्टिंग महाराष्ट्र के बाद सबसे ज्यादा यानी दूसरे नंबर पर है.

चार प्रदेशों में कोरोना के 65 फीसदी मामले



देशभर में कोरोना के जितने मामले हैं, उसमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली और गुजरात (Gujarat) इन चार प्रदेशों के संक्रमण के 65% मामले हैं. पहले और दूसरे नंबर पर रहने वाले महाराष्ट्र और तमिलनाडु टेस्ट करने के मामले में भी पहले और दूसरे नंबर पर हैं. जबकि 16 जून के आंकड़ों के हिसाब से केस में तीसरे नंबर पर दिल्ली से इन दोनों प्रदेशों ने ढाई गुना से ज्यादा टेस्ट किया है. महाराष्ट्र में 32.04 % मामले हैं और 6,89,147 टेस्ट किए गए हैं. तमिलनाडु में 13.56% मामले हैं और 6,72,046 टेस्ट हो चुके हैं. वहीं, दिल्ली में 12.62% कोरोना वायरस के मामलों में महज 2,53,335 टेस्ट ही हुए हैं.
टेस्टिंग के मामले में दिल्ली 10वें नंबर पर

टेस्टिंग के मामलों दिल्ली 10वें नंबर पर है. वहीं, महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद सबसे ज्यादा टेस्टिंग
राजस्थान (Rajasthan), आंध्र प्रदेश (andhra Pradesh), कर्नाटक (Karnataka), उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh), पश्चिम बंगाल (West Bengal), गुजरात और मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) ने की है. हर दस लाख पर लद्दाख 32,938, दिल्ली 13,540, आंध्र प्रदेश 8,838, तमिलनाडु 8,633, कर्नाटक 6,803, राजस्थान 6,748 टेस्ट कर रहा है. वहीं, हर 10 लाख लोगों पर टेस्टिंग को लेकर बिहार 979, उत्तर प्रदेश 1659, झारखंड 2,012, केरल, मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल 3000 के आसपास हैं. संक्रमण को सीमित रखने को लेकर टेस्ट ही वह जरिया है, जिस पर जोर देने और बढ़ाने की जरूरत है.

इन्हें भी पढ़ें :

AAP नेता आतिशी कोरोना पॉजिटिव, रिपोर्ट आने के बाद खुद को किया होम-क्वारंटाइन

एक्‍सपर्ट पैनल के साथ LG और सीएम केजरीवाल की बैठक, मांगे सुझाव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज