दिल्‍ली में कोरोना ने बढ़ाई टेंशन, 1 दिन में रिकॉर्ड 121 मरीजों की मौत और 6746 नए केस

दिल्‍ली में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना संक्रमण. (फोटो साभार-AP)
दिल्‍ली में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना संक्रमण. (फोटो साभार-AP)

देश की राजधानी दिल्‍ली (Delhi) में कोरोना वायरस (Coronavirus) लगातार पैर पसार रहा है. जबकि रविवार को 6746 नए मामले सामने आने से हड़कंप मच गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2020, 12:02 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्‍ली (Delhi) में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) के 6746 नए मामले सामने आए हैं. इसके साथ दिल्‍ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5.29 लाख से अधिक हो गई है. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण की वजह से 121 मरीजों की मौत हुई है.

दिल्ली में कोरोना संक्रमण से 8391 की मौत
दिल्‍ली में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के 6746 नए मामले सामने आने के साथ 121 और मरीजों ने दम तोड़ा है. यह दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण के कारण एक दिन में मरने वालों की सबसे अधिक संख्‍या है. इसके साथ दिल्‍ली में कोरोना वायरस महामारी की वजह से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 8391 हो गया है.





एक्टिव केस 40 हजार के पार
दिल्‍ली सरकार के बुलेटिन के मुताबिक, अब तक 4,81,260 लोग ठीक होकर घर लौट चुके हैं. वहीं, इस समय 40,212 एक्टिव केस हैं. इसके अलावा दिल्‍ली में कोरोना संक्रमितों की संख्‍या 5,29,863 पहुंच गई है.

कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करने पर दो बाजार बंद करने का आदेश
पश्चिम दिल्ली जिले के अधिकारियों ने रविवार को नांगलोई में शाम में लगने वाले दो बाजारों को सामाजिक दूरी तथा मास्क पहनने जैसे कोविड-19 की रोकथाम संबंधी नियमों के उल्लंघन को लेकर बंद करने का आदेश दिया. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पश्चिम दिल्ली में जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने रविवार को एक आदेश जारी कर पंजाबी बस्ती बाजार और जनता मार्केट को 30 नवंबर तक बंद करने का निर्देश दिया.उन्होंने कहा कि अधिकारियों की ओर से बार-बार निर्देशों तथा चेतावनियों के बावजूद रेहड़ी-पटरी वाले दोनों बाजारों में विक्रेताओं और खरीदारों द्वारा मास्क पहनने, शारीरिक दूरी बनाकर रखने और कोविड-19 से सुरक्षा के अन्य उपायों के बारे में सरकार द्वारा जारी निर्देशों का उल्लंघन किया जा रहा था. शाम के समय लगने वाले इन बाजारों में करीब 200 दुकानदार रोजमर्रा के उपयोगी अनेक सामान की दुकानें लगाते हैं.

ये भी पढ़ें: Air Pollution: दिल्‍ली में सांस लेना हुआ और मुश्किल, सोमवार को AQI के ‘अत्यंत खराब’ श्रेणी में पहुंचने की आशंका

ये भी पढ़ें: उद्धव ठाकरे ने कहा- सुनामी जैसी होगी कोविड की दूसरी लहर; अजित पवार बोले- लोगों को लगा भीड़ से मर जाएगा कोरोना

दिल्ली में हर बीतते दिन के साथ कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. कोविड-19 की तीसरी लहर का सामना कर रही दिल्ली में इससे मृत्यु दर 1.58 प्रतिशत है जबकि देश में यह दर 1.48 प्रतिशत है. विशेषज्ञों ने राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 से मौत के अधिक मामलों के लिए इलाज के वास्ते शहर में बड़ी संख्या में आने वाले ‘गंभीर’ गैर-निवासी मरीजों, प्रतिकूल मौसम, प्रदूषण आदि को जिम्मेदार ठहराया है. नवंबर के महीने में अभी तक दिल्ली में इस महामारी से 1,759 लोगों की मौत हो चुकी है. बीते 21 दिन में कोरोना वायरस से औसत मृत्यु दर लगभग 83 मौत प्रतिदिन है. पिछले 10 दिन में मौत का आंकड़ा चार बार 100 से अधिक पहुंचा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज