दिल्ली में 24 घंटे में मिले कोरोना के 7546 नए मरीज, मौत का आंकड़ा 8 हजार के पार

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोरोना से 98 लोगों की मौत हुई है.
दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोरोना से 98 लोगों की मौत हुई है.

देश की राजधानी दिल्‍ली (Delhi) में कोरोना वायरस (Coronavirus) लगातार पैर पसार रहा है. जबकि गुरुवार को 7546 नए मामले सामने आने से हड़कंप मच गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2020, 7:19 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्‍ली (Delhi) में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) के 7546 नए मामले सामने आने से हड़कंप मच गया है. इसके साथ दिल्‍ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5.10 लाख से अधिक हो गई है. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण की वजह से 98 मरीजों की मौत हुई है.

दिल्ली में कोरोना से अब तक 8041 की मौत
दिल्‍ली में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के 7546 नए मामले सामने आए हैं, तो इस दौरान 98 और मरीजों ने दम तोड़ा है. इसके साथ दिल्‍ली में कोरोना वायरस महामारी की वजह से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 8041 हो गया है. दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक, पिछले दिन आरटी-पीसीआर से 22,067 जांच समेत कुल 62,437 जांच की गयी है. जबकि शहर में त्योहार के मौसम और बढ़ते प्रदूषण के बीच संक्रमण दर 12.09 प्रतिशत है. आपको बता दें कि दिल्ली में 11 नवंबर को संक्रमण के सबसे ज्यादा 8593 मामले आए थे और 85 मरीजों की मौत हो गयी थी. वहीं, आज शहर में संक्रमण से 98 और लोगों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 8,000 से ज्यादा हो गयी. जबकि इस समय 43,221 मरीजों का उपचार चल रहा है. दिल्‍ली में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 5,10,630 हो गयी है.





दिल्ली में मास्क नहीं पहनने पर लगेगा 2000 का जुर्माना
दिल्ली हाईकोर्ट की टिप्पणी के बाद अब दिल्ली में बिना मास्क घूमने वालों पर 500 की जगह 2 हजार रुपये का जुर्माना लगेगा. दिल्ली सरकार ने यह आदेश जारी कर दिए हैं. आज ही दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार को कोरोना के बढ़ते मामलों पर फटकार लगाई थी. साथ ही कहा था कि दिल्ली में लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं और जब हमने राज्य सरकार से सवाल किया तब वो हरकत में आई है.



दिल्ली में प्रतिदिन आरटीपीसीआर जांच की संख्या 60 हजार की जाएगी
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली के चिकित्सा बुनियादी ढांचे में बढ़ोतरी करने के उद्देश्य से एक कोविड-19 देखभाल केंद्र में 500 पृथक बिस्तरों को ऑक्सीजन की सुविधा वाले बिस्तर में परिवर्तित किया जाएगा, जबकि राजधानी में पिछले तीन दिनों में आईसीयू बिस्तरों की संख्या में 150 की बढ़ोतरी हुई है. सरकार ने नवंबर के अंत तक दिल्ली में प्रतिदिन होने वाली आरटी-पीसीआर जांच की संख्या बढ़ाकर 60,000 करने का भी फैसला किया है.

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि कोविड-19 देखभाल सुविधाएं बढ़ाने के प्रयासों के तहत अर्धसैनिक बलों के 75 डॉक्टर और 251 पैरामेडिकल कर्मी दिल्ली में ड्यूटी पर आये हैं. इसमें से 50 डॉक्टरों और 175 पैरामेडिकल कर्मियों को छतरपुर और शकूर बस्ती कोविड-19 देखभाल केंद्रों में तैनात किया गया है. दिल्ली सरकार को उन रोगियों को इन इकाइयों में रेफर करने के लिए कहा गया है जिन्हें जरूरी देखभाल की आवश्यकता है. इसके अलावा गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि छतरपुर के कोविड-19 देखभाल केंद्र में कुल 500 पृथक बिस्तरों को आक्सीजन सुविधा वाले बिस्तरों में तब्दील किया जाएगा और ये बिस्तर सप्ताहांत तक तैयार हो जाएंगे. वहीं, पिछले तीन दिनों में राजधानी में 150 आईसीयू बिस्तर जोड़े गए हैं. इसके अलावा, दिल्ली में 3,652 आईसीयू बिस्तरों की वर्तमान क्षमता को और बढ़ाया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज