होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /बड़ी कामयाबी: पकड़ा गया दिल्ली दंगों में शाहरुख को हथियार देने वाला भगोड़ा वसीम, जानें उसकी कुंडली

बड़ी कामयाबी: पकड़ा गया दिल्ली दंगों में शाहरुख को हथियार देने वाला भगोड़ा वसीम, जानें उसकी कुंडली

दिल्ली पुलिस ने उस भगोड़े आरोपी को गिरफ्तार किया है, जिसने शाहरुख पठान को हथियार मुहैया कराए थे.

दिल्ली पुलिस ने उस भगोड़े आरोपी को गिरफ्तार किया है, जिसने शाहरुख पठान को हथियार मुहैया कराए थे.

Delhi Riots Case: दिल्ली दंगा केस की जांच कर रही दिल्ली पुलिस ने भगोड़े आरोपी और हथियार सप्लाय बाबू वसीम को गिरफ्तार कर ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: 2020 में हुए दिल्ली दंगों (delhi riots 2020) के मामलों की जांच में जुटी दिल्ली पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police Arrested Babu Waseem) की स्पेशल सेल ने दिल्ली दंगों के एक भगोड़े आरोपी और प्रमुख हथियार सप्लायर को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने शुक्रवार को जिस आरोपी को गिरफ्तार किया है, उसका नाम बाबू वसीम है. आरोपी बाबू वसीम वही शख्स है, जिसने दिल्ली दंगों के मुख्य आरोपी शाहरुख पठान को हथियार सप्लाई किया था.

पुलिस के सूत्रों की मानें तो आरोपी बाबू वसीम नार्थ ईस्ट के कुख्यात गैंगस्टर छेनू पहलवान को भी हथियार सप्लाई कर चुका है. दिल्ली दंगों के दौरान उसने शाहरुख पठान समेत कई लोगों को हथियार दिए थे. बाबू वसीम मेरठ का रहने वाला है और उसके पास से इंग्लिश पिस्टल बरामद हुई है. फिलहाल, उसे पुलिस अब जेल भेजने की कार्यवाही में जुटी है.

पुलिस ने उसकी जब कुंडली खंगाली तो पता चला कि वह दिल्ली में पहले एक मर्डर भी कर चुका है. दिल्ली दंगों में वसीम के सप्लाई किये गए हथियारों से काफी तबाही भी मची थी. वसीम को स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर शिव कुमार की टीम ने गगन सिनेमा के पास ताहिरपुर से गिरफ्तार किया था. बता दें कि ताहिरपुर में भी दंगों की जबरदस्त आंच देखी गई थी.

कौन है बाबू वसीम
बाबू वसीम को अंतरराज्यीय हथियारों का बड़ा सौदागर माना जाता है, जो पिछले करीब 10 सालों से अवैध हथियारों का सौदा उत्तर प्रदेश के मेरठ से दिल्ली-एनसीआर में करता रहा है. दो सालों से कोर्ट ने भी बाबू वसीम को भगोड़ा घोषित किया हुआ था, अब जाकर वह पुलिस के हत्थे चढ़ा है. दरअसल, अवैध हथियारों के सौदागर बाबू वसीम को दिल्ली पुलिस की टीम पिछले काफी समय से तलाश रही थी. क्योंकि दिल्ली दंगे के वक्त इसकी भूमिका सामने आई थी. जब साल 2020 में पूर्वी दिल्ली में दंगे की शुरुआत हुई थी, उसी वक्त जब दंगाई शाहरुख पठान ने एक पुलिसकर्मी पर पिस्टल ताना था, उस वक्त मीडियाकर्मियों के कैमरे में बाबू वसीम का वीडियो भी कैद हुआ था, जो उस वक्त दंगा को भड़काने में जुटा था.

Tags: Delhi news, Delhi riots case

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें