सिखों के फ्री किडनी डायलिसिस अस्‍पताल खुलने के दो दिन में ही बंद हुआ रजिस्‍ट्रेशन, खास है वजह

इस खास वजह के चलते दिल्‍ली के पूरी तरह निशुल्‍क  किडनी डायलिसिस अस्‍पताल में दो दिन में ही रजिस्‍ट्रेशन बंद करना पड़ा है.

इस खास वजह के चलते दिल्‍ली के पूरी तरह निशुल्‍क किडनी डायलिसिस अस्‍पताल में दो दिन में ही रजिस्‍ट्रेशन बंद करना पड़ा है.

दिल्‍ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के प्रधान मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि गुरुद्वारे के फ्री किडनी डायलिसिस अस्‍पताल में डायलिसिस से पहले मरीजों की कोविड-एचआईवी आदि जांचें कराई जा रही हैं. ये सब भी फ्री हो रही हैं. इनके लिए भी मरीजों से एक पैसा नहीं लिया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 5:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. राजधानी के बाला साहिब गुरुद्वारा (Bala Sahib Gurudwara) में अभी सात मार्च को किडनी डायलिसिस अस्‍पताल (Kidney Dialysis Hospital) खोला गया है. सिखों के द्वारा खोले गए इस अस्‍पताल में पूरी तरह मुफ्त किडनी डायलिसिस (Free Kidney Dialysis) की सुविधा दी जाएगी. विदेशी हाई टैक्‍नोलॉजी से बने इस अस्‍पताल में किडनी डायलिसिस कराने के लिए आठ मार्च से मरीजों से रजिस्‍ट्रेशन (Patients Registration) करने की मांग की गई थी लेकिन दो दिन में ही अस्‍पताल की मरीज रजिस्‍ट्रेशन खिड़की को बंद कर दिया गया है.

दिल्‍ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के प्रधान मनजिंदर सिंह सिरसा ने न्‍यूज 18 हिंदी को बताया कि अस्‍पताल खुलने के दो दिन बाद ही रजिस्‍ट्रेशन की खिड़की बंद होना यह बताता है कि लोगों को इस अस्‍पताल की कितनी जरूरत थी. सिरसा ने बताया कि यह अपने आप में  रिकॉर्ड है कि दो दिन के भीतर ही देशभर से ढ़ाई हजार मरीजों ने इस अस्‍पताल में किडनी डायलिसिस के लिए आवेदन किया है. इन मरीजों में उत्‍तर प्रदेश, दिल्‍ली, हरियाणा और बिहार आदि राज्‍यों से आवेदन आए हैं.

डायलिसिस से पहले होने वाली जांचें भी कराई जा रहीं फ्री

दिल्‍ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी की ओर से खोले गए गुरु हरिकिशन इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड रिसर्च किडनी डायलिसिस अस्‍पताल में मरीजों को पूरी तरह मुफ्त इलाज मिलेगा.
दिल्‍ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी की ओर से खोले गए गुरु हरिकिशन इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड रिसर्च किडनी डायलिसिस अस्‍पताल में मरीजों को पूरी तरह मुफ्त इलाज मिलेगा.

सिरसा ने कहा कि उन्‍हें खुशी हो रही है कि सिर्फ किडनी डायलिसिस ही नहीं बल्कि इससे पहले होने वाले मरीजों के सभी चैकअप भी फ्री कराए जा रहे हैं. चूंकि डायलिसिस से पहले एचआईवी (HIV), कोविड (Covid-19) सहित कई अन्‍य टैस्‍ट भी कराए जाते हैं तो सभी ढ़ाई हजार मरीजों की ये सभी जांचें कराई गई हैं. इनकी रिपोर्ट 10 मार्च की शाम तक आ रही है. इसके बाद सभी को 11 मार्च से फ्री डायलिसिस की सेवा दी जाएगी.

उन्‍होंने आगे कहा कि शुक्रवार से डायलिसिस शुरू होने के बाद रजिस्‍ट्रेशन खिड़की को खोल दिया जाएगा ताकि और लोग भी रजिस्‍ट्रेशन करा सकेंगे. इसी हफ्ते ऑनलाइन प्रकिया भी शुरू की जा रही है. मरीज घर बैठकर भी डायलिसिस के लिए नामांकन कर पाएंगे. हालांकि यहां आने वाले मरीजों को कोई परेशानी नहीं होने दी जा रही. सभी के खाने-रहने और इलाज का पूरा इंतजाम किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज