Home /News /delhi-ncr /

दिल्‍ली बदहाल: सर गंगाराम अस्‍पताल ने की कोविड मरीजों की संख्‍या घटाने की अपील, बिना ऑक्‍सीजन 25 मरीजों की हो चुकी है मौत  

दिल्‍ली बदहाल: सर गंगाराम अस्‍पताल ने की कोविड मरीजों की संख्‍या घटाने की अपील, बिना ऑक्‍सीजन 25 मरीजों की हो चुकी है मौत  

देश के कई अस्‍पताल ऑक्‍सीजन की कमी की शिकायत कर चुके हैं. दिन पर दिन देश में हालात खराब हो रहे हैं. हर कोई प्रार्थना कर रहा है. वहीं अब सर गंगाराम अस्‍पताल ने मरीजों की संख्‍या कम करने की मांग की है. 
(पीटीआई फाइल फोटो)

देश के कई अस्‍पताल ऑक्‍सीजन की कमी की शिकायत कर चुके हैं. दिन पर दिन देश में हालात खराब हो रहे हैं. हर कोई प्रार्थना कर रहा है. वहीं अब सर गंगाराम अस्‍पताल ने मरीजों की संख्‍या कम करने की मांग की है. (पीटीआई फाइल फोटो)

सर गंगाराम अस्पताल को प्रतिदिन कम से कम 11,000 घन मीटर ऑक्सीजन की जरूरत है लेकिन केवल 500 से 1500 घन मीटर की आपूर्ति मिल रही है. यहां 516 कोविड मरीज हैं जिनमें से 129 आईसीयू में हैं और 29 वेंटिलेटर पर हैं. आपूर्ति की कमी के कारण इन 29 मरीजों को मध्य रात्रि से हाथों के जरिए वेंटिलेशन दिया जा रहा है लेकिन यह लंबे समय तक नहीं किया जा सकता.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. राजधानी का जाना माना सर गंगाराम अस्‍पताल (Sir Ganga Ram Hospital) भी सिस्‍टम की बदहाली के चलते असहाय हो गया है. शुक्रवार को ही ऑक्‍सीजन की कमी (Oxygen Shortage) के चलते हुई 25 गंभीर कोविड मरीजों (Covid Patients) की मौत से टूट चुके अस्‍पताल प्रमुख ने केंद्र और राज्‍य सरकारों से गुहार लगाई है. अस्‍पताल के प्रमुख डॉ डी एस राणा ने कोविड मरीजों की संख्‍या घटाने की मांग की है.

    सर गंगाराम अस्पताल की ओर से शनिवार को सरकार से अनुरोध किया गया कि दिल्ली में गहराते ऑक्सीजन संकट (Oxygen Crisis) के बीच वे अस्पताल में भर्ती किए जाने वाले मरीजों की संख्या को घटाने पर विचार करें. अस्‍पताल प्रमुख राणा की ने कहा, ‘मैं केंद्र और राज्य सरकार दोनों से मदद की अपील करता हूं. एक ओर तो उन्होंने कोविड बेड (Covid Beds) की संख्या बढ़ा दी है और दूसरी ओर वे पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति (Oxygen Supply) नहीं कर पा रहे. ऐसे में हम कैसे काम करेंगे?’



    उन्होंने आगे कहा, अगर यह कोविड सुनामी है और सरकार ने आपदा प्रबंधन कानून लागू किया है तो उन्हें इसी के मुताबिक काम करना चाहिए. हम चाहते हैं कि इसमें तुरंत हस्तक्षेप किया जाए. सरकार भरसक प्रयास कर रही है लेकिन शायद वह खुद भी लाचार है लेकिन फिर यह बात उन्हें स्वीकार करनी चाहिए और भर्ती किए जाने वाले मरीजों की संख्या घटानी चाहिए.

    बता दें कि बीते कुछ दिन से राष्ट्रीय राजधानी और आस पास के इलाकों के अस्पताल ऑक्सीजन की कमी के मद्देनजर सोशल मीडिया और अन्य मंचों पर मदद की गुहार लगा रहे हैं. जैसे तैसे अस्‍पतालों तक कुछ घंटों की ऑक्‍सीजन पहुंच रही है.

    11000 घन मीटर ऑक्‍सीजन की जरूरत लेकिन मिल रही बस.....

    गंगाराम के अधिकारियों ने बताया कि एक और त्रासदी से बचने के लिए गंगाराम अस्पताल के अधिकारी संघर्ष कर रहे हैं. अस्पताल को प्रतिदिन कम से कम 11,000 घन मीटर ऑक्सीजन की जरूरत है लेकिन हमें केवल 500 से 1500 घन मीटर की आपूर्ति मिल रही है. हमारे यहां 516 कोविड मरीज हैं जिनमें से 129 आईसीयू में हैं और 29 वेंटिलेटर पर हैं.  आपूर्ति की कमी के कारण इन 29 मरीजों को मध्य रात्रि से हाथों के जरिए वेंटिलेशन दिया जा रहा है लेकिन यह लंबे समय तक नहीं किया जा सकता. अब कर्मी भी थक रहे हैं.

    ऑक्‍सीजन सिलेंडर लेकर आ रहे लोग, देखकर होता है दुख

    डॉ. राणा ने कहा, ‘मरीजों को परेशानी उठानी पड़ रही है. लोग अपने ऑक्सीजन सिलेंडर ला रहे हैं, यह देखकर हमें दुख होता है. अस्पताल ने सभी अधिकारियों और नोडल अधिकारियों से संपर्क साधा लेकिन कोई मदद नहीं आ रही. सैकड़ों कॉल किए गए लेकिन कोई फोन ही नहीं उठाता. सुबह अस्पताल को डेढ़ टन ऑक्सीजन मिली थी.  करीब दो बजे डॉ. राणा ने एक वक्तव्य जारी करके कहा, अब इसमें से 0.7 टन ही बची है जो केवल एक घंटा ही चल पाएगी.’

    (भाषा से इनपुट)

    Tags: Corona patient in Delhi, Modi government, Oxygen Crisis, Sir Ganga Ram Hospital

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर