होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /दिल्‍ली पुलिस के 19 सुरक्षाकर्मी सम्‍मानित, मयूर विहार में छात्रों में झड़प, पढ़ें 10 बड़ी खबरें

दिल्‍ली पुलिस के 19 सुरक्षाकर्मी सम्‍मानित, मयूर विहार में छात्रों में झड़प, पढ़ें 10 बड़ी खबरें

दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने सुरक्षाकर्मियों को सम्मानित किया.

दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने सुरक्षाकर्मियों को सम्मानित किया.

Delhi Police: दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) ने अगस्त से अक्टूबर के बीच शानदार कार्य करने वाले 19 ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्‍ली. दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना (Delhi Police commissioner Rakesh Asthana) ने 19 सुरक्षाकर्मियों को सम्मानित किया. इन सभी सुरक्षाकर्मियों को बेहतरीन डिवीजन अधिकारी, बेहतरीन बीट अधिकारी, पीसीआर टीम और यातायात पुलिस श्रेणी में चुना गया था.

    दिल्‍ली पुलिस के अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि अस्थाना ने उन कर्मियों को सम्मानित किया जिन्होंने अगस्त से अक्टूबर के बीच शानदार कार्य किया था. इन सुरक्षाकर्मियों को पुरस्कार के रूप में प्रशस्तिपत्र, स्मृति चिह्न और नकद राशि दी गई.

    मयूर विहार में छात्रों के दो गुटों में खूनी झड़प
    पूर्वी दिल्ली के मयूर विहार इलाके में शनिवार को एक स्कूल के बाहर हुई लड़ाई में 10वीं कक्षा में पढ़ने वाले चार छात्रों पर कथित तौर पर धारदार वस्तु से हमला किया गया. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इनमें से तीन लड़कों को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई. जबकि चौथे लड़के को एम्स के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है.

    आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

    दिल्ली-एनसीआर
    दिल्ली-एनसीआर

    वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पांडव नगर थाने को पीसीआर कॉल आई कि कुछ स्कूली लड़कों में लड़ाई हो रही है और जब पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि 15 से 16 साल की उम्र के चार लड़कों पर धारदार वस्तु से हमला किया गया है.

    पुलिस उपायुक्त (पूर्वी दिल्ली) प्रियंका कश्यप ने बताया कि चारों घायल छात्र त्रिलोकपुरी के सरकारी स्कूल के हैं और परीक्षा देने मयूर विहार फेस-2 पहुंचे थे, जिनका शकरपुर के स्कूल के कुछ छात्रों से झगड़ा हो गया. उन्होंने बताया कि मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है.

    उत्तर-पूर्वी दिल्ली के करावल नगर से 36 वर्षीय एक व्यक्ति को एक मिस्त्री की हत्या करने और उसकी लाश को अपने शव के रूप में दिखाने की साजिश रचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.लोनी बॉर्डर पुलिस ने इस अपराध में साथ देने के लिए इस व्यक्ति की पत्नी को भी गिरफ्तार किया है. आरोपी दंपति की पहचान करावल नगर इलाके की शिव विहार कॉलोनी के सुदेश कुमार और उसकी पत्नी अनुपमा के तौर पर की गयी है.
    दिल्ली पुलिस रोहिणी अदालत परिसर के एक अदालत कक्ष में बृहस्पतिवार को हुए कम क्षमता के धमाके के सिलसिले में उस समय परिसर में मौजूद रहे लोगों से पूछताछ कर रही है. अधिकारियों ने बताया कि इस बात की जांच की रही है कि अदालत कक्ष में बैग किसने रखा. इस बात की भी जांच की जा रही है कि सफेद पाउडर कहां से खरीदा गया. पुलिस इस मामले की जांच संभावित आतंकवादी हमले के कोण से भी कर रही है. पुलिस ने बताया कि वह अदालत परिसर में मौजूद सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाल रही है और उस समय मौके पर मौजूद रहे लोगों से पूछताछ कर रही है.
    कृषि कानूनों के खिलाफ लगभग एक साल के आंदोलन के बाद किसानों के घर लौटने के साथ ही दिल्ली पुलिस ने शनिवार को टिकरी बॉर्डर विरोध स्थल से बैरिकेड को हटाना शुरू कर दिया.दिल्ली पुलिस ने शुरू में दिल्ली के बाहरी इलाके में तीन मुख्य विरोध स्थलों में से एक, टिकरी बॉर्डर पर सड़कों पर लोहे की धारदार कीलें लगाई थीं. पिछले साल 26 जनवरी की हिंसा के बाद प्रदर्शनकारियों को राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने से रोकने के लिए अतिरिक्त उपायों के साथ बैरिकेड बढ़ाये गए थे. मुख्य रूप से पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान, तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में पिछले साल 26 नवंबर को बड़ी संख्या में यहां एकत्र हुए थे.
    राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 से किसी की मौत नहीं हुई, लेकिन संक्रमण के 52 नए मामले आए हैं और संक्रमण दर 0.09 फीसदी है. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, दिल्ली में अभी तक कुल 14,41,662 मामले सामने आए हैं. 14.16 लाख से अधिक रोगी संक्रमण से उबर चुके हैं. दिल्ली में कोरोना वायरस के कारण अभी तक 25,100 लोगों की मौत हो चुकी है. दिसंबर में कोरोना वायरस से अभी तक दो लोगों की मौत हुई है.
    दिल्ली उच्च न्यायालय ने तृणमूल कांग्रेस सांसद अभिषेक बनर्जी द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी के आधार पर पश्चिम बंगाल पुलिस की ओर से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों को जारी दो नोटिस पर रोक लगा दी है. अदालत ने कहा कि ईडी और तीन अधिकारियों द्वारा दायर याचिका के स्वीकार करने को चुनौती देने के लिए उठाई गई आपत्ति में प्रथम दृष्टया कोई दम नहीं है.न्यायूमर्ति रजनीश भटनागर ने सात दिसंबर को यह रोक लगाई थी और फैसले की विस्तृत प्रति शनिवार को उपलब्ध हुई. आदेश में अदालत ने कहा, ‘यह जरूरी है कि अंतरित राहत देने के सवाल पर विचार किया जाए. यह कानून की तय प्रक्रिया है कि किसी तरह की अंतरिम राहत देने के लिए तीन कसौटियों पर मामले को परखा जाए, ये हैं प्रथम दृष्टया मजबूत मामला, सुविधा में संतुलन और याचिककर्ता को अपूरणीय क्षति नहीं हो. इन सभी पर विचार करने के बाद मैंने पाया कि मौजूदा मामला अंतरिम राहत देने लिए उपयुक्त है.
    कानून-व्यवस्था को चाक-चौबंद करने तथा प्रशासनिक व्यवस्थाओं के दृष्टिगत गौतम बुद्ध नगर के पुलिस आयुक्त आलोक सिंह ने छह थानाध्यक्षों की तैनाती की है. इनमें कई थाना प्रभारी अभी अन्य जनपदों से हाल में गौतम बुद्ध नगर में तैनाती पर आए हैं. पुलिस प्रवक्ता पंकज कुमार ने बताया कि निरीक्षक ज्ञान सिंह को थाना सेक्टर 24 का प्रभापी निरीक्षक, बनिरीक्षक यशपाल सिंह धामा को थाना बिसरख का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया है. निरीक्षक संजीव कुमार विश्नोई को थाना दादरी तथा महिला निरीक्षक नीरज को महिला थाना का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया है. उप- निरीक्षक सुधीर कुमार को थानाध्यक्ष, सेक्टर 24 से थाना दनकौर का थानाध्यक्ष, जबकि उप- निरीक्षक राजकुमार सिंह को थाना सूरजपुर से रबूपुरा का थानाध्यक्ष तैनात किया गया है.
    दिल्ली के समाज कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम को मानवता, शांति, प्रकृति व संस्कृति के क्षेत्र में योगदान और दुनियाभर में भगवान बुद्ध की शिक्षाओं के प्रचार-प्रसार के लिए 'भगवान बुद्ध भारत शांति एवं पर्यटन मित्र पुरस्कार, 2021' से सम्मानित किया गया है.दिल्ली सरकार ने एक बयान में कहा है कि गौतम को शुक्रवार को ‘एसोसिएशन ऑफ बौद्ध टूर ऑपरेटर्स’ (एबीटीओ) ने पुरस्कार प्रदान किया. पुरस्कार समारोह का आयोजन बिहार के बोधगया में किया गया. इस दौरान गौतम ने कहा, 'जातिगत अत्याचार की घटनाएं अभी भी जारी हैं, जिससे दुनिया में हमारे देश की छवि खराब होती है. हमने भारत में एक समतावादी समाज की स्थापना करने का संकल्प लिया है. हम दोस्ती और भाईचारे के आधार पर एक न्यायपूर्ण और समावेशी समाज की स्थापना के लिए संघर्ष करेंगे. किसी एक को नहीं, बल्कि सभी को समान रूप से आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा. यह संघर्ष तब तक जारी रहेगा, जब तक हम विजय प्राप्त नहीं कर लेते.'
    दिल्ली के एक अदालत ने एक वर्ष में 11 जमानत याचिकाएं दाखिल करने के लिये एक व्यक्ति पर जुर्माना लगाया और कहा कि इस तरह की ''मनगढ़ंत'' याचिकाओं के लंबित रहने से अदालतों की सूचियां भर जाती हैं और कीमती न्यायिक समय बर्बाद हो जाता है.अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश रविंदर बेदी ने धोखाधड़ी और साजिश के एक मामले में आरोपी पर यह देखते हुए 25,000 रुपये का जुर्माना लगाया कि उसने परिस्थिति में बिना किसी बदलाव के 11वीं बार जमानत याचिका दायर की.एएसजे बेदी ने कहा कि आरोपी की दसवीं जमानत याचिका 29 नवंबर, 2021 को खारिज कर दी गई थी.
    ग्रेटर नोएडा स्थित राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) में जल्द ही पहला सरकारी नर्सिंग कॉलेज खुलेगा. उत्तर प्रदेश नर्सेज एंड मिडवाइव्स काउंसिल ने यहां पर नर्सिंग की पढ़ाई शुरू करने की अनुमति दे दी है.कॉलेज का नाम नर्सिंग कॉलेज ऑफ जिम्स होगा. यह कॉलेज अटल बिहारी वाजपेयी चिकित्सा विश्वविद्यालय से संबद्ध होगा. जिम्स के निदेशक ब्रिगेडियर (रिटायर्ड) डॉ राकेश गुप्ता ने बताया कि नर्सिंग कॉलेज की अनुमति मिल गई है, यहां 60 सीटों पर दाखिले की प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी. यह पश्चिमी उत्तर प्रदेश का सबसे बेहतर नर्सिंग कॉलेज साबित होगा.

    Tags: Crime News, DELHI HIGH COURT, Delhi police, Delhi Police Commissioner, Delhi Police Special Cell, Delhi-NCR News, Noida Police, Rakesh asthana

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें