Home /News /delhi-ncr /

Diwali Festival: बाजारों में लौटी रौनक, व्‍यापारी संगठन बोले-द‍िवाली पर 5,000 करोड़ का कारोबार करेगी द‍िल्‍ली

Diwali Festival: बाजारों में लौटी रौनक, व्‍यापारी संगठन बोले-द‍िवाली पर 5,000 करोड़ का कारोबार करेगी द‍िल्‍ली

व्‍यापारि‍यों के शीर्ष संगठन चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री  ने अनुमान लगाया है कि द‍िवाली पर्व पर राजधानी में अकेले 5,000 करोड़ का व्‍यापार होने की प्रबल संभावना है. (फाइल फोटो)

व्‍यापारि‍यों के शीर्ष संगठन चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री ने अनुमान लगाया है कि द‍िवाली पर्व पर राजधानी में अकेले 5,000 करोड़ का व्‍यापार होने की प्रबल संभावना है. (फाइल फोटो)

Diwali Festival: कोरोना संक्रमण के बाद राजधानी में खुले बाजारों से अब व्‍यापारी बेहद खुश नजर आ रहे हैं. बाजारों में बढ़ी भीड़ से व्‍यापारी च‍िंत‍ित जरूर हैं, लेकिन ग्राहकों के मार्केट में आने से उनके चेहरे पर रौनक आ गई है. व्‍यापारि‍क संगठन चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (CTI) ने अनुमान लगाया है कि द‍िवाली पर्व पर राजधानी में अकेले 5,000 करोड़ का व्‍यापार होने की प्रबल संभावना है.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली (Delhi) में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के काबू आने के बाद राजधानी में खुले बाजारों (Markets) से अब व्‍यापारी बेहद खुश नजर आ रहे हैं. बाजारों में बढ़ी भीड़ से व्‍यापारी च‍िंत‍ित जरूर हैं, लेकिन ग्राहकों के मार्केट में आने से उनके चेहरे पर रौनक आ गई है. व्‍यापारि‍यों के शीर्ष संगठन चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (CTI) ने अनुमान भी लगाया है कि द‍िवाली पर्व पर राजधानी में अकेले 5,000 करोड़ का व्‍यापार होने की प्रबल संभावना है.

    सीटीआई ने यह अनुमान लगाया है क‍ि दीपावली पर करीब 60 प्रतिशत बिजनेस वापस लौट आएगा. सीटीआई चेयरमैन बृजेश गोयल और अध्यक्ष सुभाष खंडेलवाल ने बताया क‍ि इस साल अप्रैल में लॉकडाउन लगा, जिसके चलते करीब 6 महीने तक अर्थव्यवस्था पर ब्रेक लगा रहा.

    चेयरमैन बृजेश ने कहा क‍ि अब दिवाली के त्योहार के अवसर पर बाजारों में बढ़ रही भीड़ से व्यापारियों की आंखों में चमक आई है. ऐसा लग रहा है कि कोरोना की वजह से लगाए गए लॉकडाउन में जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई कुछ हद तक हो जाए. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने भी समय-समय पर कोरोना केस कम होने पर ढील दी है.

    मार्केट्स में इन चीजों में र‍िकार्ड की जा रही ड‍िमांड  
    दीपावली के मौके पर मार्केट में इलेक्ट्रॉनिक, इलेक्ट्रिकल, मिठाई-नमकीन, ड्राईफ्रूट्स, क्रॉकरी, होम फर्निंशिंग, सजावटी सामान, गिफ्ट आइटम, कपड़े, जूलरी, फुटवियर, ऑटोमोबाइल सेक्टर, फर्नीचर, खिलौने जैसे कई क्षेत्रों में तेजी आई है.

    ये भी पढ़ें: Diwali Festival: कोरोना महामारी और बढ़ती महंगाई में ड्राई फ्रूट्स का कारोबार लुढ़का, नहीं बढ़ी ड‍िमांड

    इन मार्केट्स में उमड़ रही है अच्‍छी खासी भीड़
    सीटीआई का अनुमान है कि इस दीपावली पर दिल्ली में करीब 5 हजार करोड़ रुपए का कारोबार हो सकता है. दिल्ली सरकार ने भी समय-समय पर अलग-अलग बिजनेस को ढील दी है, जिसका पॉजिटिव रेस्पॉन्स दिख रहा है. चांदनी चौक, सदर बाजार, खारी बावली, भागीरथ प्लेस, चावड़ी बाजार, करोल बाग, कनोट प्लेस, लाजपत नगर, सरोजनी नगर, नेहरू प्लेस, कृष्णा नगर, शाहदरा, लक्ष्मी नगर, कमला नगर, राजौरी गार्डन, पीतमपुरा, रोहिणी, मॉडल टाउन, रानी बाग, ग्रेटर कैलाश आदि बाजारों में अच्छी खासी भीड़ उमड़ रही है.

    द‍िवाली बाद व्‍यापारी संगठन करेगा कारोबार का आंकलन, र‍िपोर्ट होगी तैयार
    सीटीआई महासचिव विष्णु भार्गव और रमेश आहूजा ने कहा कि अभी कोरोना महामारी गई नहीं है. दुकानदार और ग्राहकों को संभलकर रहना होगा. दिवाली के बाद प्रमुख कारोबारी संगठनों और ट्रेडर्स की एक बैठक बुलाई जाएगी.

    बैठक में आकलन होगा कि त्योहार में किस सेक्टर के कारोबार में उछाल आया और कौन सा क्षेत्र पिछड़ गया. इसकी एक विस्तृत रिपोर्ट बनाकर दिल्ली सरकार (Delhi Government) को सौंपी जाएगी. 15 नवंबर से वैवाहिक कार्यक्रम भी शुरू हो रहे हैं. इससे भी अर्थव्यवस्था में रौनक लौटने की उम्मीद है.

    Tags: Delhi Government, Delhi news, Delhi Unlock, Diwali festival, Market

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर