कार चोरी होने के 20 दिन बाद ट्रैफिक पुलिस ने तस्वीर के साथ भेजा तेज गति से वाहन चलाने का चालान
Delhi-Ncr News in Hindi

कार चोरी होने के 20 दिन बाद ट्रैफिक पुलिस ने तस्वीर के साथ भेजा तेज गति से वाहन चलाने का चालान
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एक शख्स को उसकी कार चोरी होने के बाद तेज गति से वाहन चलाने का नोटिस भेजा है.(फाइल फोटो)

योगेश पोद्दार का वाहन 6 जून को चोरी हुआ था और तब से उस कार के बारे में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन करीब 20 दिन बाद उन्हें मिलेनियम डिपो के निकट तेज गति से वाहन चलाकर यातायात नियम (Violated Traffic Rules) का उल्लंघन करने के लिए चालान (Challan) मिला है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Delhi Traffic Police) ने एक शख्स को उसकी कार चोरी (Car Theft) होने के बाद तेज गति से वाहन चलाने का नोटिस भेजा है. पश्चिमी दिल्ली के हरि नगर के रहने वाले योगेश पोद्दार का वाहन 6 जून को चोरी हुआ था और तब से उस कार के बारे में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन करीब 20 दिन बाद उन्हें मिलेनियम डिपो के निकट तेज गति से वाहन चलाकर यातायात नियम (Violated Traffic Rules) का उल्लंघन करने के लिए चालान (Challan) मिला है. पोद्दार की कार 20 दिन पहले विवेक विहार पुलिस थाने के पास कार चोरी हो गई थी.

कार चोरी के 20 दिन बाद मिला नोटिस
योगेश पोद्दार ने बताया कि उन्होंने 5 जून को रात करीब आठ बजे विवेक विहार पुलिस थाने के पास अपनी कार खड़ी की थी, जहां से अगले दिन कार चोरी हो गई और उन्होंने इस बारे में ऑनलाइन प्राथमिकी भी दर्ज कराई थी. वाहन को खोजने की तमाम कोशिशें नाकाम रहने के बाद उसके न मिल पाने की रिपोर्ट अदालत में भी दर्ज कराई गई.

मामले की जांच कर रहे दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘जिस स्थान पर कार खड़ी की गई थी, वहां कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है, लेकिन कार चोरी करने वालों का पता लगाने के लिए आस-पास के इलाकों के कई सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखी गई, लेकिन हमें कार का कुछ पता नहीं चल सका’
दिल्ली की सड़कों पर कार दौड़ रही है


लेकिन, शिकायतकर्ता को 30 जून को उसके चोरी हुए वाहन की तस्वीर के साथ चालान मिला. इसके बाद पोद्दार ने इसकी सूचना जांच अधिकारी को तत्काल दी. पोद्दार ने कहा, ‘जब तक 30 जून को मुझे चालान नहीं मिला था, तब तक मुझे लग रहा था कि अपराधी ने या तो कार को तोड़-फोड़ दिया है या दिल्ली के बाहर किसी को इसे बेच दिया है, लेकिन तस्वीर के साथ चालान मिलने के बाद मुझे यह देखकर हैरानी हुई कि न तो मेरी कार का रंग बदला गया है और न ही पंजीकरण संख्या. कार में लगे केवल कुछ स्टिकर और उसमें लगी भगवान की मूर्ति गायब थी. इसके बावजूद, पुलिस मेरा वाहन खोज नहीं पाई.’

ये भी पढ़ें: हार्दिक पटेल का ट्ववीट- गुजरात में एक तिहाई बहुमत से सरकार बनाएंगे, अब हो रहे हैं ट्रोल

इस घटना के सामने आने के बाद अब वरिष्ठ पुलिस अधिकारी कह रहे हैं कि कार का पता लगाने के प्रयास किया जा रहा है.बता दें कि इस महीने के शुरू में दिल्ली की एक अदालत की न्यायाधीश के पति को पश्चिमी दिल्ली में उनकी कार चोरी हो जाने के दो महीने बाद तेज गति से वाहन चलाने के लिए चालान मिला था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading