Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली: लखीमपुर हिंसा के खिलाफ दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्रों ने किया विरोध प्रदर्शन

दिल्ली: लखीमपुर हिंसा के खिलाफ दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्रों ने किया विरोध प्रदर्शन

बयान में कहा कि कि छात्र-किसान-मजदूर एकता को बरकरार रखने के निर्णय के साथ कला संकाय पर जुलूस समाप्त हुआ. (सांकेतिक फोटो)

बयान में कहा कि कि छात्र-किसान-मजदूर एकता को बरकरार रखने के निर्णय के साथ कला संकाय पर जुलूस समाप्त हुआ. (सांकेतिक फोटो)

छात्र संगठन की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, “विजय नगर (Vijay Nagar) में एकत्र हुए छात्रों ने, दिल्ली पुलिस के भारी विरोध के बावजूद कला संकाय तक जुलूस निकाला.

    नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) के छात्रों के एक समूह ने लखीमपुर खीरी में हुई हिंसक (Lakhimpur Kheri Violence) घटना के विरोध में विश्वविद्यालय के उत्तरी परिसर में जुलूस निकाला. वाम-समर्थित ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा) और अन्य संगठनों ने सोमवार को विजय नगर से कला संकाय तक जुलूस (Procession) निकाला. छात्र संगठन की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, “विजय नगर में एकत्र हुए छात्रों ने, दिल्ली पुलिस के भारी विरोध के बावजूद कला संकाय तक जुलूस निकाला. उत्तरी परिसर के पास के इलाके में रहने वाले कई छात्रों ने जुलूस में हिस्सा लिया.” इस दौरान नारे लगाए गए और आशीष मिश्रा की तत्काल गिरफ्तारी तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे की मांग की गई. बयान में कहा कि कि छात्र-किसान-मजदूर एकता को बरकरार रखने के निर्णय के साथ कला संकाय पर जुलूस समाप्त हुआ.

    वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि उत्‍तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों के साथ हुई हिंसा मामले को लेकर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) ने लखनऊ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आजादी का अमृत महोत्‍सव मनाने पर सवाल खड़े किए हैं. साथ ही उनसे कई सवाल पूछे हैं. उन्‍होंने पीएम से सवाल किया कि ‘क्‍या देश के प्रधानमंत्री शहीद किसान परिवारों के सामने बैठकर, आंख में आंख मिलाकर, कोई जवाब दे पाएंगे कि उनको न्‍याय कब मिल पाएगा. आरोपियों की गिरफ्तारी कब होगी?’

    आप किसकी आजादी का जश्‍न मना रहे हैं?
    चंद्रशेखर आजाद ने एक वीडियो जारी कर कहा कि हम ‘आज दिल्‍ली में हैं, क्‍योंकि उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में देश के प्रधानमंत्री को आजादी का अमृत महोत्‍सव बनाना है, लेकिन मैं देश के प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूं कि उत्‍तर प्रदेश में तो किसानों की चिताएं जल रही हैं. किसानों के घरों में मातम है. शहीद किसानों के परिवार चीख रहे हैं. उत्‍तर प्रदेश में न तो किसान, न महिलाएं, न नौजवान, न व्‍यापारी और न ही विपक्ष आजाद है. तो आप किसकी आजादी का जश्‍न मना रहे हैं?’

    (इनपुट- भाषा)

    Tags: Delhi news, DU, Lakhimpur farmer demonstration

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर