दिल्ली हिंसा: 123 FIR दर्ज, 630 लोग गिरफ्तार, मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 हुई
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली हिंसा: 123 FIR दर्ज, 630 लोग गिरफ्तार, मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 हुई
हिंसा प्रभावित इलाके में मार्च करते जवान (फाइल फोटो)

दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं. जबकि पुलिस ने इस मामले में 123 FIR दर्ज करते हुए 630 लोगों को गिरफ्तार किया है या हिरासत में लिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 8:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) को लेकर कुल 123 प्राथमिकी दर्ज की गई हैं और 630 लोगों को गिरफ्तार किया गया है या हिरासत में लिया गया है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के प्रवक्ता ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. प्रवक्ता मनदीप सिंह रंधावा ने कहा कि फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला दलों को बुलाया गया है और अपराध के दृश्यों का फिर से मुआयना किया जा रहा है. वहीं दिल्ली हिंसा में मृतक संख्या बढ़कर 42 हो गई है.

दिल्ली हिंसा में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं. इनके कारण मुख्य रूप से जो क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, उनमें जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, खुरेजी खास और भजनपुरा शामिल हैं.





लापता कक्षा आठ की छात्रा मिली
उत्तरपूर्वी दिल्ली में सोमवार को भड़की हिंसा के बाद से लापता 13 वर्षीय बच्ची शुक्रवार को सकुशल मिल गई. पुलिस के अनुसार, कक्षा आठ की छात्रा सोमवार को सोनिया विहार स्थित अपने घर से लगभग 4.5 किलोमीटर दूर खजूरी खास इलाके में अपने स्कूल में परीक्षा देने गई थी. रेडीमेड कपड़ों का कारोबार करने वाले उसके पिता ने बताया था कि वह शाम 5.20 बजे उसे लेने जाने वाले थे, लेकिन इलाके में दंगे शुरू हो गए. मामले में जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि लड़की शुक्रवार को मिल गई है. वह सुरक्षित है और उसे बयान के लिए मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया है.

एसआईटी की दो टीम करेगी जांच
दिल्ली हिंसा की जांच एसआईटी करने वाली है. जानकारी के मुताबिक, इसके लिए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के अतर्गत दो एसआईटी का गठन किया जा चुका है. इनमें से एक एसआईटी की एक टीम के कमान डीसीपी जॉय टिर्की की मिली है, जबकि दूसरी टीम का नेतृत्व डीसीपी राजेश देव करने वाले हैं.

धारा 144 में मिली 10 घंटे की छूट
वहीं एक अन्य खबर के अनुसार, हिंसा ग्रस्त इलाके में लागू धारा 144 में 10 घंटे की छूट दी गई. दरअसल, पिछले रविवार से शुरू हुई सांप्रदायिक हिंसा ने दिल्ली को काफी परेशान कर दिया. इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का दिल्ली का दौरा भी था. इस घटना के बाद सुरक्षा के दृष्टिकोण से हिंसाग्रस्त 10 क्षेत्रों में सीआरपीसी की धारा 144 लागू थी. इसमें अब 10 घंटों के लिए छूट दी गई है. माना जा रहा है कि शांति बहाली की शुरुआत के बाद इस तरह का प्रशासनिक कदम उठाया गया है.

दिल्ली हिंसा मामले में 13 अप्रैल को होगी सुनवाई
बता दें कि गुरुवार को दिल्ली हिंसा मामले की हाईकोर्ट में सुनवाई हुई थी. हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार को भड़काऊ बयान को लेकर दाखिल याचिका पर विस्तृत जवाब दाखिल करने को कहा. कोर्ट ने चार सप्ताह में गृह मंत्रालय को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है. इस मामले में अगली सुनवाई 13 अप्रैल को होगी.

(भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading