लाइव टीवी

दिल्ली हिंसा: सिरफिरे ने माथे पर तानी थी पिस्तौल, फिर भी थी लोगों को बचाने की फिक्र- कॉन्स्टेबल
Delhi-Ncr News in Hindi

shankar Anand | News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 2:29 PM IST
दिल्ली हिंसा: सिरफिरे ने माथे पर तानी थी पिस्तौल, फिर भी थी लोगों को बचाने की फिक्र- कॉन्स्टेबल
हिंसा रोकने गए दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल दीपक दहिया पर शाहरुख नाम के युवक ने पिस्तौल तान दी थी (वायरल फोटो)

हिंसा के दौरान हेड कॉन्स्टेबल दीपक दहिया (Deepak Dahiya) मौजपुर के पास जाफराबाद (Jaffarabad) रोड पर ड्यूटी लगी थी. इस दौरान उनका यहां सामना उपद्रवियों और हिंसक भीड़ से हुआ. इस भीड़ में शाहरुख नाम के शख्स ने पिस्टल लहराई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 2:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा (Delhi Violence) का दौर अब थम गया है. तीन दिन तक राजधानी के इस इलाके में खूब हिंसा हुई, बहुत उपद्रव हुआ. बीते सोमवार को जब हिंसा का दौर शुरू हुआ था तो सूचना पाकर मौजपुर इलाके में उपद्रवियों से निपटने के लिए दिल्ली पुलिस पहुंची. इस दौरान पुलिसकर्मी दीपक दहिया पर शाहरुख नाम के सिरफिरे ने सरेआम पिस्तौल तान दी. उपद्रवियों की भीड़ में शामिल पिस्टल लिए शाहरुख का लाठी से सामना करने वाले हेड कॉन्स्टेबल दीपक दहिया (Deepak Dahiya) की हर तरफ चर्चा है.

दीपक दहिया की उस समय मौजपुर के पास जाफराबाद रोड पर ड्यूटी लगी थी. इस दौरान उनका सामना हिंसक भीड़ से हुआ. इस भीड़ में शाहरुख पिस्टल लहराते हुए आगे बढ़ रहा था, जिसे उन्होंने रोकने की कोशिश की तो सिरफिरे ने उनके पास आकर उनसे माथे पर पिस्तौल तान दी. हेड कॉन्स्टेबल दीपक दहिया ने न्यूज़ 18 को उस वक्त की पूरी कहानी बताई.

शाहरुख ने शुरू कर दी फायरिंग
हेड कॉन्स्टेबल दीपक दहिया ने बताया कि वह पुलिस बल के साथ उपद्रवियों को पीछे कर रहे थे. तभी सड़क की दूसरी तरफ एक भीड़ दिखी और वो उस तरफ पहुंचे. भीड़ में सबसे आगे पिस्टल लेकर शाहरुख था, जिसे उन्होंने लाठी दिखाते हुए पिस्टल अंदर रख पीछे हटने को कहा. लेकिन उसने हवा में और सड़क के दूसरे ओर फायरिंग शुरू कर दी.






समझाने पर भी नहीं माना सिरफिरा शाहरुख
दीपक ने बताया कि उस समय उन्हें लगा कि इससे निर्दोष लोगों की मौत हो सकती है. वो फिर से उसे समझाने लगे लेकिन वो मानने के लिए तैयार नहीं हुआ. शाहरुख ने उल्टा उनकी तरफ पिस्टल कर बोला कि हट जा, नहीं तो तुझे भी गोली मार दूंगा. दीपक जब शाहरुख को समझा रहे थे तो इसी दौरान कुछ अन्य पुलिसकर्मी उनकी ओर बढ़ने लगे. यह देख शाहरुख पीछे हट गया.

news18
दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल दीपक दहिया ने बताया कि उन्हें इस बात की फिक्र थी कि कहीं सिरफिरे द्वारा चलाई गोली किसी को लग न जाए (वायरल फोटो)


पिस्तौल तानने का वीडियो वायरल
बता दें कि सोमवार को हिंसक प्रदर्शन के दौरान मौजपुर के पास उपद्रवी शाहरुख ने हेड कांस्टेबल दीपक दहिया पर पिस्टल तान दी थी, जिसका वीडियो काफी वायरल हुआ था. इसके आधार पर आरोपित शाहरुख को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया. 31 साल के दीपक दहिया मूलरूप से हरियाणा के सोनीपत के रहने वाले हैं. वह 2010 में बतौर कॉन्स्टेबल दिल्ली पुलिस में भर्ती हुए थे.

ये भी पढ़ें: Delhi Violence: हिंसा के दौरान लगातार घनघनाती रही PCR की घंटी, एक दिन में 7500 कॉल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 1:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर