होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /Delhi Violence: दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को जारी किया नोटिस, आरोपी ताहिर हुसैन की जमानत पर जवाब मांगा

Delhi Violence: दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को जारी किया नोटिस, आरोपी ताहिर हुसैन की जमानत पर जवाब मांगा

दिल्‍ली हाईकोर्ट ने पुलिस को ताहिर हुसैन के मामले में  स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा है.

दिल्‍ली हाईकोर्ट ने पुलिस को ताहिर हुसैन के मामले में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा है.

Delhi Violence : दिल्‍ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने पिछले साल उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुई हिंसा और आगजनी मामले में आ ...अधिक पढ़ें

नई दिल्‍ली. पिछले साल उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) और आगजनी मामले में आम आदमी पार्टी के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) की जमानत को लेकर दिल्‍ली हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने दिल्ली पुलिस (Delhi Police) को स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा है. जबकि हाईकोर्ट इस मामले की अगली सुनवाई 6 अगस्त को करेगा.

बता दें कि हुसैन की पहली याचिका जस्टिस योगेश खन्ना के समक्ष (सामने) आई जिन्होंने नोटिस जारी किया और पुलिस से स्थिति रिपोर्ट मांगी. जबकि दूसरी याचिका जस्टिस सुब्रमण्यम प्रसाद के समक्ष सूचीबद्ध थी जिन्होंने इसे पहली अर्जी के साथ ही जोड़ दिया है.

यही नहीं, ये दोनों मामले पिछले साल फरवरी में हिंसा के दौरान अजय कुमार झा और प्रिंस बंसल की अलग-अलग शिकायतों पर दर्ज किये गये थे. दोनों ने दावा किया था कि दंगाई भीड़ ने 25 फरवरी को उन पर गोली चलाईं जिसमें वो जख्मी हो गये. दिल्ली पुलिस द्वारा दयालपुर थाने में ताहिर हुसैन पर हत्या के प्रयास और दंगा फैलाने समेत अपराधों में भारतीय दंड संहिता और शस्त्र अधिनियम के संबंधित प्रावधानों के तहत मामले दर्ज किये गये थे. वहीं, इससे पहले निचली अदालत ने 15 मई को दोनों मामलों में हुसैन की जमानत अर्जियों को खारिज कर दिया था.

ये भी पढ़ें- Delhi Crime News: गर्लफ्रेंड से छेड़खानी का बदला लेने के लिए की थी हत्या, 5 साल बाद सुलझी गुत्थी

बहरहाल, 24 फरवरी, 2020 को सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर इसके विरोधी और समर्थक गुटों के बीच नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में जमकर हिंसा और झड़प हुई थी. यह पूरा इलाका दो दिन तक हिंसा की आग में झुलसता रहा. इन दंगों में 54 लोगों की मौत हो गई थी जबकि डेढ़ सौ से ज्यादा लोग बुरी तरह घायल हुए थे. खास बात है कि जब यह दंगे भड़के थे उस वक्त अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे पर आए हुए थे.

Tags: DELHI HIGH COURT, Delhi police, Delhi Violence, Delhi Violence Case, Tahir hussain

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें