• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • DELHI VIOLENCE KARKARDOOMA COURT REJECTS BAIL APPLICATION OF ACCUSED TAHIR HUSSAIN SAYS HE IS THE KINGPIN NODMK8

Delhi Violence: ताहिर हुसैन की जमानत खारिज, कोर्ट ने कहा- दंगाइयों को मानव हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया

पूर्व आप नेता ताहिर हुसैन की बिल्डिंग के छत पर बड़ी संख्या में जुटे दंगाई लोगों को निशाना बनाकर हमला कर रहे थे (फोटो: ANI)

कड़कड़डूमा कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि दंगाइयों को उकसाने के लिए ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) मौके पर मौजूद था. यह बाते कोर्ट के सामने रखे गए तथ्यों के रिकॉर्ड में दर्ज है. अदालत ने यह भी कहा कि ताहिर हुसैन ने दंगाइयों को मानव हथियार के रूप में इस्तेमाल किया.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली की कड़कड़डूमा अदालत ने पिछले वर्ष हुई दिल्ली हिंसा से जुड़े एक मामले में आम आदमी पार्टी (AAP) के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) की जमानत याचिका खारिज कर दी है. कोर्ट ने ताहिर हुसैन को दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) का किंगपिन (मास्टरमाइंड) बताते हुए उसकी जमानत खारिज कर दी. साथ ही कहा कि ताहिर हुसैन ने उत्तर-पूर्व दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा (Communal Violence) भड़काने के लिए अपनी ताकत और राजनीतिक पावर का दुरुपयोग किया.

कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि दंगाइयों को उकसाने के लिए ताहिर हुसैन मौके पर मौजूद था. यह बाते कोर्ट के सामने रखे गए तथ्यों के रिकॉर्ड में दर्ज है. अदालत ने यह भी कहा कि ताहिर हुसैन ने दंगाइयों को मानव हथियार के रूप में इस्तेमाल किया.

कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा कि फरवरी 2020 के दिल्ली हिंसा भारत जैसे देश, जो एक सुपरपावर बनने की राह पर है, उसकी अंतरात्मा पर एक गहरा जख्म है.

बता दें कि पिछले वर्ष 24 फरवरी को उत्तर-पूर्व दिल्ली में सीएए-एनआरसी के मुद्दे पर दो समुदायों के बीच जमकर हिंसा और उपद्रव हुआ था. तीन दिन तक यह पूरा इलाका हिंसा की आग में झुलसता रहा था. इस हिंसा में 53 लोगों की मौत हुई थी जबकि डेढ़ सौ से ज्यादा लोग घायल हुए थे. इस घटना के वक्त अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के दौरे पर आए हुए थे.