• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • दिल्ली हिंसाः केजरीवाल ने 'सीएम की मजबूरी' का उड़ाया था मजाक, कुमार विश्वास ने उसी ट्वीट से कसा तंज

दिल्ली हिंसाः केजरीवाल ने 'सीएम की मजबूरी' का उड़ाया था मजाक, कुमार विश्वास ने उसी ट्वीट से कसा तंज

मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर उन्‍हीं के एक पूर्व सहयोगी कुमार विश्‍वास ने हमला बोला है. (फाइल फोटो)

मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर उन्‍हीं के एक पूर्व सहयोगी कुमार विश्‍वास ने हमला बोला है. (फाइल फोटो)

देश की राजधानी के उत्‍तर-पूर्वी हिस्‍से में फैली हिंसा के बीच दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर उन्‍हीं के एक पूर्व सहयोगी कुमार विश्‍वास ने हमला बोला है. उन्‍होंने केजरीवाल के एक सात साल पुराने ट्वीट को रिट्वीट कर सीएम पर तीखा हमला बोला है.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. देश की राजधानी के उत्‍तर-पूर्वी हिस्‍से में फैली हिंसा के बीच दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर उन्‍हीं के एक पूर्व सहयोगी कुमार विश्‍वास ने हमला बोला है. उन्‍होंने केजरीवाल के एक सात साल पुराने ट्वीट को रिट्वीट कर सीएम पर तीखा हमला बोला है. मुख्‍यमंत्री केजरीवाल ने वर्ष 2013 में ट्वीट किया था, 'रेप की हर वारदात के बाद शीला दीक्षित का जवाब होता है- मैं क्‍या कर सकती हूं? दिल्‍ली पुलिस हमारे नियंत्रण में नहीं है. क्‍या हमें ऐसा असहाय मुख्‍यमंत्री चाहिए?' बता दें कि उस वक्‍त दिवंगत शीला दीक्षित दिल्‍ली की मुख्‍यमंत्री थीं.



    आखिर सीएम की क्या है मजबूरी?
    दिल्ली को अब तक पूर्ण राज्य का दर्जा नहीं मिला है. इस मामले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल बार बार वहीं बात दोहराते दिखते हैं, जो खुद दिल्ली के सीएम रही दिवंगत शीला दीक्षित कहती थीं. फिलहाल दिल्ली पुलिस गृह मंत्रालय के अधीन है. इस मामले पर सीएम केजरीवाल कई बार बयान दे चुके हैं. 2020 के विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की मांग शामिल है. दिल्ली में होने वाली किसी भी बड़ी घटना के बाद दिल्ली के सत्ता को संभालने वाले नेता पुलिस (Delhi Police) के दिल्ली सरकार के अधीन नहीं होने की बात कहते हैं. आम तौर पर राजनेता इसपर केंद्र सरकार पर राजनीति करने का आरोप लगाते हैं.



    हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत को बताया धब्बा
    इससे पहले भी विश्वास ने दिल्ली पुलिस के दिवंगत हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की जान जाने के बाद एक ट्वीट किया था. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि वीर सिपाही की मृत्यु हमारी सामाजिकता पर धब्बा है. दिल्ली पुलिस पूरा देश आपके साथ है. राजनैतिक प्रश्रय पाए इन दंगाइयों से डटकर निपटिए, धर्म-जाति-वेषभूषा और दल से उपर उठकर.



    हिंसा को बंद करने की अपील की
    वहीं, उन्होंने इस घटना की एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि तुझको आंसू की ज़रूरत तो पड़ेगी ज़ालिम, खून से, खून के धब्बे नहीं धोए जाते...! उन्होंने ईश्वर के लिए, अल्लाह के लिए हिंसा को बंद करने की अपील की.

    ये भी पढ़ें: 

    Delhi Violence: उपद्रवियों ने की अग्निशमनकर्मी को जिंदा जलाने की कोशिश

    Delhi Traffic Alert: इन इलाकों में लग सकता है भयंकर जाम, जरूर पढ़ें ये खबर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज